Sunday, 2 May 2021

दमोह उपचुनाव: कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन चुनाव जीते, भाजपा प्रत्याशी अपना ही बूथ हारे।



दमोह उपचुनाव: कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन चुनाव जीत चुकें हैं। मतगड़ना के 26वां राउंड खत्म होते ही मध्य प्रदेश के दमोह उपचुनाव की तस्वीर साफ हो गई है। कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन बीजेपी प्रत्याशी राहुल लोधी से 15 हजार से ज्यादा वोटों से जीत गए है।


दरअसल, दमोह उपचुनाव के लिए 17 अप्रैल को वोटिंग समाप्त हुई थी, जिसके बाद आज 2 मई को मतगणना की गई। इसमें शुरुआत से ही अजय टंडन आगे चल रहे थे, हालांकि 20वें राउंड के बाद राहुल लोधी ने बढ़त बनाई लेकिन 24-25-26वें राउंड में फिर पीछे हो गए। यहां 59.81% मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था।


बता दें की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, बीजेपी अध्यक्ष वीडी शर्मा समेत तमाम बड़े दिग्गज नेताओं के प्रचार प्रसार के बावजूद कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन जीत हासिल करने में कामयाब हुए। वही कांग्रेस पूर्व मंत्री जयंत मलैया के घर में सेंध लगाने में कामयाब हुई। भाजपा के जयंत मलैया अपना ही पोलिंग नंबर 134 नहीं जितवा पाए।


भाजपा प्रत्याशी अपना ही बूथ हारे।

जहां भाजपा के जयंत मलैया अपना ही पोलिंग नंबर 134 नहीं जितवा पाए। वहीं गांव खेरूआ के रहने वाले राहुल सिंह लोधी अपना ही गृह मतदान केंद्र हार गए हैं। मतदान केंद्र क्रमांक 12 पर कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन को 206 वोट मिले, जबकि राहुल सिंह को केवल 108 । वे यहां 98 वोट से अपने ही गांव में बूथ हार गए।

सीधी: जिले में 173 मिले नए कोरोना संक्रमित, 343 व्यक्तियो ने जीती कोरोना से जंग।



सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के द्वारा जानकारी दी गई कि शनिवार रात्रि 12 बजे तक कुल 586 सैंपल जांच के लिए भेजे गए और 632 लोगो की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमे से 173 लोगो की रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई है।


सी.एम.एच.ओ. ने बताया कि कोरोना संक्रमण से व्यक्तियो को स्वस्थ होने के बाद शनिवार को  343 व्यक्तियो को डिस्चार्ज किया गया है। सभी को अपने घर पर अभी एक सप्ताह एहतियात बरतते हुए प्रदान की गई दवाओं का सेवन  करने की सलाह दी गई, साथ ही सामाजिक दूरी, मास्क का उपयोग, बारंबार हाथ धोते रहने जैसी सावधानियां रखने की समझाइश दी गई है।


अब जिले में कुल 5738 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं।  4600 व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है, और अब जिले में कुल 1107 एक्टिव केस हो गए हैं।

पूर्व मंत्री बृजेंद्र सिंह राठौर का कोरोना से निधन, अजय सिंह ने जताया दुख।



भोपाल: देश के साथ साथ मध्यप्रदेश में भी कोरोना का कहर जारी है है। कोरोना से मौत के आंकड़े बढनें लगे है। इसी बीच खबर आयी है की पृथ्वीपुर से कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री बृजेंद्र सिंह राठौर का कोरोना से निधन हो गया है। बीते दिनों दमोह उपचुनाव के प्रचार के दौरान वे संक्रमित हो गए थे। हाल ही में तबियत बिगड़ने पर उन्हें झांसी से एयरलिफ्ट कर भोपाल लाया गया था, जहां चिरायु हास्पिटल में उनका इलाज चल रहा था। श्री राठौर के निधन की खबर लगते ही पूरे प्रदेश मे शोक की लहर दौड़ गई है।


बता दें की, बीते दिनों दमोह उपचुनाव के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह समेत पूर्व मंत्री बृजेंद्र सिंह राठौर कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। इसके बाद वे घर में ही आइसोलेट हो गए थे, लेकिन तबियत बिगड़ने के बाद उन्हें झांसी के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहां एडमिट रहते हुए उनकी हालत में विशेष सुधार नहीं हुआ तो पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से उनको भोपाल लाने की बात कही थी, जिसके बाद उन्हें एयरलिफ्ट कर भोपाल लाया गया था, जहां आज चिरायु अस्पताल में उनका निधन हो गया।


गौरतलब है की, बृजेंद्र सिंह राठौर बुंदेलखंड के दिग्गज कांग्रेस नेता, पूर्व मंत्री और चार बार के विधायक रहे। बुंदेलखंड अंचल के बड़े कांग्रेस नेताओं में उनकी गिनती थी। उन्होनें निवाड़ी और पृथ्वीपुर दोनों विधानसभाओं से चुनाव लड़ा और जीतें । वो पिछली कमलनाथ की कांग्रेस सरकार में मंत्री रहे और वाणिज्य कर विभाग की जिम्मेदारी मिलीं। सन 2008 में वह पृथ्वीपुर विधानसभा से चुनाव लड़े और जीते। 2013 का चुनाव में भाजपा की अनीता नायक से बहुत ही करीबी मुकाबले में हारे । 2018 के चुनाव में पृथ्वीपुर विधानसभा से चुनाव लड़ा और टीकमगढ़ भाजपा के जिला अध्यक्ष अभय प्रताप सिंह यादव को हराया।


अजय सिंह नें जताया दुख।

पूर्व मंत्री बृजेंद्र सिंह राठौर के निधन पर मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह नें गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होनें कहा, "पूर्व मंत्री और मेरे अत्यंत आत्मीय श्री बृजेन्द्रसिंह राठौर जी के दुखद निधन के समाचार से स्तब्ध हूं।  यह मेरे लिये व्यक्तिगत क्षति है जिसकी पूर्ति संभव नहीं है।ईश्वर उन्हें अपने श्रीचरणो में स्थान दे तथा परिजनों को यह दुःख सहने की शक्ति प्रदान करे। विनम्र श्रद्धांजलि।"

Saturday, 1 May 2021

हमारे धैर्य- विश्वास और संवेदना की परीक्षा की घड़ी, सावधानी को ही जीवन का मूल मंत्र बनायें: अजय।



सीधी: मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि आज हमारे धैर्य, विश्वास और संवेदना की परीक्षा की घड़ी है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी ने विकराल रूप ले लिया है। हर दिन हम हमारे रिश्ते- नातेदारों, मित्रों और नजदीकी स्नेही प्रियजनों के विछोह की पीड़ा भोगने के लिए विवश हैं। सिंह ने कहा कि यह दुःखद है कि इस आपदा का सामना करने के लिए सरकार द्वारा विलम्ब से की गई आधी अधूरी तैयारी, अदूरदर्शिता, लापरवाही और काम कम प्रचार ज्यादा की मानसिकता की वजह से हालात और ज्यादा भयावह हो चुके हैं।


उन्होंने कहा है हमें निराश नहीं होना है। चाहे कितना भी प्रतिकूल समय हो, हमें अपना धैर्य एवं संयम को बनाये रखना है। मानवीय संवेदना और आपसी विश्वास के बल पर ही हम इस त्रासदी से उबरने में जरुर कामयाब हो सकेंगे। अपनी उम्मीद कायम रखें और सावधानी को ही जीवन का मूल मंत्र बनाकर इस त्रासदी का सामना करें। कोरोना से बचाव के लिए मास्क लगाने और दो गज दूरी रखने के साथ ही वेक्सीन अवश्य लगवाएं और सभी से इसके लिए आग्रह करें।


श्री सिंह ने कहा कि परमात्मा पर भरोसा रखें और अपना ध्यान अवश्य रखें। सबका  स्वस्थ और सकुशल होना ही सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है। उन्होंने आशा व्यक्त की है कि शीघ्र ही हम इस संकट से मुक्त होकर फिर से सामान्य जिन्दगी में लौटेंगे।

Latest Post

कौन हैं चौधरी राकेश सिंह? जिनको लेकर कांग्रेस में मचा है घमासान।

भोपाल:   मध्यप्रदेश में संगठन की मजबूती के लिये प्रदेश कांग्रेस ने बड़ा बदलाव किया है। प्रदेश कांग्रेस ने संगठन में 56 जिलों में प्रभारियों ...