Friday, 30 April 2021

सीधी: 07 मई तक पूर्ण लॉकडाउन घोषित, किसी भी व्यक्ति को घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं।



सीधी: जिले में कोरोना संक्रमण (कोविड- 19) के प्रकरणों में हो रही अत्यधिक वृद्धि एवं बड़ी जनसंख्या को उक्त संक्रमण के प्रभाव से बचाव हेतु दिनांक 30.04.2021 को आयोजित जिला आपदा प्रबंधन समिति (कोविड-19) की बैठक में लिये गये निर्णय अनुसार लोक स्वास्थ्य के हितों को दृष्टिगत रखते हुये कोरोना संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण एवं बचाव हेतु सम्पूर्ण सीधी जिले में पूर्ण लॉकडाउन किया जाना आवश्यक है। उक्त को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट रवीन्द्र कुमार चौधरी द्वारा दण्ड प्रक्रिया संहिता, 1973 धारा- 144 अंतर्गत  प्रतिबंधात्मक आदेश तत्काल प्रभाव से जारी किए गए हैं।


  • जिला सीधी की सीमाओं अंतर्गत तत्काल प्रभाव से दिनांक 07.05.2021 तक पूर्ण लॉकडाउन घोषित किया गया है, पूर्ण लॉकडाउन में किसी भी व्यक्ति को अपने घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी।
  • जिले की सभी सीमायें सील की गयी है। अंतर्राज्यीय/अंतर्जिला परिवहन एवं लोगों का आवागमन भी पूर्णतः प्रतिबंधित किया गया है।  
  • सीधी जिले के अंतर्गत शासकीय वाहनों तथा एम्बुलेंस, फायर बिग्रेड, सफाई वाहन को छोड़कर समस्त सार्वजनिक एवं निजी वाहनों, बस, ऑटो, कैब, टैक्सी का परिचालन एवं व्यक्तियों का आवागमन प्रतिबंधित किया गया है। 
  • जिले के समस्त शासकीय/अर्द्धशासकीय/अशासकीय (निजी) कार्यालय बंद किये गये है तथा किसी भी तत्कालिक आवश्यकता की स्थिति में अधिकारियों/कर्मचारियों को उनके निवास स्थान से शासकीय कार्य हेतु आहूत किया जा सकेगा। इस हेतु शासकीय सेवकों के लिए यह अनिवार्य होगा कि वे अपना मोबाइल नम्बर, लैण्डलाईन एवं निवास का पता, कार्यालय में तथा संस्था प्रमुख को तत्काल प्रदान करेंगे।
  •  समस्त सामाजिक, सास्कृतिक, राजनैतिक, धार्मिक एवं अन्य इसी प्रकार के कार्यक्रम को पूर्णतः प्रतिबंधित किया गया है एवं विवाह कार्यक्रम हेतु उपखण्ड मजिस्ट्रेटों द्वारा जारी अनुमति को निरस्त किया गया है।
  • जिला अंतर्गत समस्त प्रतिष्ठानों एवं दुकानों के संचालन को प्रतिबंधित किया गया है।
  • संजय गांधी महाविद्यालय सीधी के मैदान में संचालित मण्डी पूर्णतः प्रतिबंधित किया गया है, साथ ही सब्जी, फल हाथ ठेला के माध्यम से विक्रय पूर्णतः प्रतिबंध रहेगा।
  • जिले के समस्त लोक सेवा केन्द्र एवं आधार सेंटर पूर्णतः बंद रहेंगे।

उक्त प्रतिबंध निम्नलिखित परिस्थितयों में शिथिल रहेंगें।


  • एमरजेंसी ड्यूटी वाले शासकीय कर्मचारी केवल ड्यूटी के प्रयोजन से पूर्ण लॉकडाउन प्रतिबंध से मुक्त रहेगें। परन्तु उक्त कर्मचारियों को अपने साथ शासकीय पहचान-पत्र रखना अनिवार्य होगा।
  • घर-घर जाकर दूध बॉटने वाले दूध विक्रेता सुबह 6ः00 बजे से 9ः00 तक पूर्ण लॉकडाउन प्रतिबंध से मुक्त रहेगे।
  • यह आदेश जिले की आवश्यक सेवाओं मेडिकल दुकानों, अस्पताल, राजस्व, पुलिस, दूरसंचार, नगरपालिका, पंचायत आदि इससे मुक्त रहेगें एवं कोरोना वायरस के रोकथाम हेतु लगाये गये अधिकारियों/कर्मचारियों को उक्त प्रतिबंध से छूट रहेगा एवं वे पूर्ववत अपनी सेवाओं में नियोजित रहेगें।
  • जिले की समस्त इलेक्ट्रॉनिक एवं प्रिंट मीडिया संस्थानों एवं उनके कर्मचारियों को उक्त प्रतिबंध से छूट रहेगा। वे अपने कर्मचारियों की कोराना वायरस की संक्रमण से बचाव की व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए कार्य करने के संबंध में स्वयं निर्णय ले सकेगें।
  • अन्त्येष्टि में केवल 10 लोगों के उपस्थित रहने की अनुमति होगी। 


उपरोक्त शर्तां का उल्लंघन करने की स्थिति में संबंधित के विरूद्ध आई.पी.सी. की धारा 188, 269, 270, 271, कोविड-19 रेगुलेशन 2020 एवं राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 51 से 60 तथा अन्य प्रासंगिक विधियों के तहत दाण्डिक कार्यवाही की जायेगी।

सीधी में कोरोना को मात देने वालों की संख्या बढ़ी: 290 व्यक्ति हुये स्वस्थ, मिले 149 नये केस।



सीधी: कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से जूझ रही सीधी के लिए राहत भरी खबर आई है। कोरोना को मात देने वालों की संख्या अब बढनें लगी है। आज कोरोना के संक्रमण को मात देकर 290 व्यक्ति ठीक हुये, जो की एक राहत भरी खबर है।


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने जानकारी देकर बताया है कि गुरुवार रात्रि 12 बजे तक कुल 512 सैंपल जांच के लिए भेजे गए और 560 लोगो की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमे से 149 लोगो की रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई है।


सी.एम.एच.ओ. डॉ. मिश्रा ने बताया कि कोरोना संक्रमण से व्यक्तियो को स्वस्थ होने के बाद गुरुवार को 290 व्यक्तियो को डिस्चार्ज किया गया है। सभी को अपने घर पर अभी एक सप्ताह एहतियात बरतते हुए प्रदान की गई दवाओं का सेवन  करने की सलाह दी गई, साथ ही सामाजिक दूरी, मास्क का उपयोग, बारंबार हाथ धोते रहने जैसी सावधानियां रखने की समझाइश दी गई है।


अब जिले में कुल 5438 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। 4058 व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है, और अब जिले में कुल 1350 एक्टिव केस हो गए हैं। कुल मृतकों की संख्या 30 हो गई है।

Thursday, 29 April 2021

सीधी: कोरोना में युंका ने बढ़ाए मदद के हाथ, जिला अस्पताल में रक्त दान शिविर का किया आयोजन।



  • युंका जिलाध्यक्ष देवेन्द्र सिंह "दादू" सहित कई युवाओं ने किया रक्तदान।

सीधी: मध्यप्रदेश के सीधी जिले में युवा कांग्रेस द्वारा दो दिवसीय रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। जिला अस्पताल में आयोजित हुए रक्तदान कार्यक्रम में जिले के युवाओं ने रक्तदान किया। कोरोना संक्रमण के दौरान रक्तदान करने वालों की संख्या में कमी आई है ऐसे में युवा कांग्रेस के जागरूकता के प्रयास के तहत यह आयेाजन किया गया। इस रक्तदान शिविर का मकसद जानलेवा बिमारियों और अन्य कारणों से रक्त की कमी का सामना कर रहे मरीजों की मदद करना है।


जिला युवा कांग्रेस सीधी के अध्यक्ष देवेंद्र सिंह 'दादू' के नेतृत्व में आज रक्तदान शिविर के पहले दिन युंका जिलाध्यक्ष सहित कई युवाओं ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेकर रक्तदान किया। रक्तदान कार्यक्रम में विशेष रूप से डा० बी.एल. मिश्रा (मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी) एवं जिला कांग्रेस कमेटी सीधी के अध्यक्ष रुद्र प्रताप सिंह बाबा सहित कई वरिष्ठ कांग्रेसी नेता भी युवा कांग्रेस सीधी की इस पहल में शामिल युवाओं का उत्साहवर्धन करने जिला चिकित्सालय परिसर स्थित ब्लड बैंक में पहुंचे।


पत्रकारों से बातचीत के दौरान जिला कांग्रेस कमेटी सीधी के अध्यक्ष ने शासन की नीतियों एवं व्यवस्थाओं पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने ने सभी युवाओं को धन्यवाद देते हुए कहा कि युवा कांग्रेस सीधी की पहचान जनसेवा ही है। आज देश के हर कोने में युवा कांग्रेस मानव सेवा के लिए मैदान में उतर कर अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन कर रही हैं।


युंका जिलाध्यक्ष देवेन्द्र सिंह "दादू" ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि 01 म‌ई से शुरू हो रहे वेक्सीनेशन कार्यक्रम में 18 वर्ष से ऊपर आयु वर्ग के लोगों को  टीका लगवाने की अनुमति शासन ने दी हैं, और टीका लगवाने वाला कोई भी व्यक्ति अगले 60 दिन तक रक्तदान नहीं कर सकता। इसलिए आने वाले समय में ब्लड बैंक में खून की कमी कि सम्भावना से इंकार नहीं किया जा सकता।


श्री दादू नें आगे कहा कि आज कोरोना के कारण लोगों की हो रही असामायिक मृत्यु के कारण लोगों में भय का वातावरण बन गया है इसके बावजूद भी युवाओं का उक्त रक्तदान शिविर में अपेक्षित संख्या में पहुंचना इस बात का संकेत है कि युवा कांग्रेस सीधी के सभी साथी इस महामारी से लडने और अपने जिलावासियों की सेवा के लिए सदैव तत्पर हैं।


साथ ही युंका जिलाध्यक्ष देवेन्द्र सिंह दादू ने विशेष रूप से सीधी जिला पुलिस बल में पदस्थ उपनिरीक्षक अनुराग झारिया का धन्यवाद किया है, उन्होंने बताया कि वों कल जारी किए गए मोबाइल नंबर पर फोन कर अपने रक्तदान की इच्छा जताई और पहुंच कर रक्तदान किया। युंका जिलाध्यक्ष ने रक्तदान शिविर में रक्तदान करने पहुंचे मुस्लिम समुदाय के साथियों का भी विशेष रूप से धन्यवाद किया है और कहा कि, रोजा रखने के बावजूद भी यें सभी मुस्लिम भाई  रक्तदान हेतु पहुंचे।


युवा नेता सुनील चौधरी ने रक्तदान के बाद बेबाकी के साथ जवाब दिया और कहा की, आज इस कोरोना की महामारी में लोग आक्सीजन और दवाओं की कमी से अपनी जान गवां रहे हैं पर खून की कमी से किसी की भी जान ना जाये इसलिए हमने रक्तदान किया है।


उक्त रक्तदान शिविर में विशेष रूप से उपस्थित अरूण सिंह 'चिंटू' सचिव मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी आईटी एवं सोशल मीडिया सेल, राहुल सिंह चौहान उपाध्यक्ष आईटी सेल सीधी, अमरनाथ जायसवाल उपाध्यक्ष आईटी सेल सीधी, बृजेंद्र (बांके) अवधिया वार्ड पार्षद, विकाश साहू अध्यक्ष युवा पिछड़ा वर्ग सीधी, संगम सिंह चौहान, राजेश कुमार यादव, विकास सिंह चौहान, नीलेश पाण्डेय, आशीष सोनी, मो. वसीम, मो. आदिल, तौहीद खान, संतोष पटेल, यश आसरानी, विवेक सिंह, राम जीयावन साहू, ब्रिजेश चौधरी, नागेश सिंह, पृथ्वी प्रजापति सहित कई युवाओं ने रक्तदान किया। उक्त रक्तदान शिविर कल भी यथावत रहेगा।

सीधी में थम नहीं रही कोरोना की रफ्तार: मिले 171 नए कोरोना संक्रमित, मृत्यु का आंकड़ा 30 तक पहुंचा।



सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के जानकारी देकर बताया है कि बुधवार रात्रि 12 बजे तक कुल 497 सैंपल जांच के लिए भेजे गए और 499 लोगो की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमे से 171 लोगो की रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई है।


सी.एम.एच.ओ. डॉ. मिश्रा ने बताया कि कोरोना संक्रमण से  व्यक्तियो को स्वस्थ होने के बाद बुद्धवार को 157 व्यक्तियो को डिस्चार्ज किया गया है। सभी को अपने घर पर अभी एक सप्ताह एहतियात बरतते हुए प्रदान की गई दवाओं का सेवन  करने की सलाह दी गई, साथ ही सामाजिक दूरी, मास्क का उपयोग, बारंबार हाथ धोते रहने जैसी सावधानियां रखने की समझाइश दी गई है।


अब जिले में कुल 5289 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं।  3768 व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है, और अब जिले में कुल 1491 एक्टिव केस हो गए हैं। कुल मृतकों की संख्या 30 हो गई है।

मप्र महिला कांग्रेस अध्यक्ष मांडवी चौहान एवं पूर्व विधायक राजेन्द्र सिंह का निधन, अजय सिंह नें जताया शोक।



भोपाल: मध्यप्रदेश में गुरुवार को कांग्रेस के दो नेताओं का निधन हो गया। मालवा क्षेत्र के दिग्गज नेता और पूर्व विधायक राजेंद्र सिंह बघेल की मौत हो गई जबकि महिला प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मांडवी चौहान का भी निधन हो गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार मांडवी चौहान हाल ही में कोरोना संक्रमित हो गई थी और उनका इलाज चल रहा था। काफी लंबे समय से वे आईसीयू में एडमिट थीं।  


तो वहीं हॉटपिपल्या विधानसभा से तीन बार के विधायक रहे दिग्गज कांग्रेस नेता ठा. राजेन्द्र सिंह बघेल का भी आज सुबह निधन हो गया। वे पिछले कुछ समय से बीमार चल रहे थे। राजेंद्र सिं बघेल पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह के खास सहयोगी थे। वे कुछ समय से बीमार थे और आज इंदौर के एक निजी अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली। श्री बघेल के पुत्र कु.राजवीर सिंह बघेल बीते हॉटपिपल्या उपचुनाव में ही कांग्रेस प्रत्याशी थे।


मप्र महिला कांग्रेस अध्यक्ष मांडवी चौहान एवं पूर्व विधायक राजेन्द्र सिंह के निधन के समाचार से पूरे मध्यप्रदेश में शोक की लहर छा गई है। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने ट्वीट कर दोनों नेताओं के निधन पर दुख व्यक्त किया है। अजय सिंह नें महिला कांग्रेस अध्यक्ष के निधन पर दुख व्यक्त करते हुये लिखा, "मध्यप्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष तथा कांग्रेस की वरिष्ठ नेता श्रीमती मांडवी चौहान जी के निधन का समाचार अत्यंत दुःखद है| परमात्मा दिवंगत आत्मा को शांति एवं परिजनों को यह असीम दुख सहने की शक्ति प्रदान करे| विनम्र श्रद्धांजलि |ॐ शांति|"


अजय सिंह नें पूर्व विधायक राजेन्द्र सिंह के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए लिखा, " दुःखद समाचार - देवास जिला कांग्रेस के क़द्दावर नेता तथा पूर्व विधायक श्री  राजेन्द्र सिंह बघेल जी  के दुखद निधन का समाचार सुन कर बेहद दुख हुआ। यह काँग्रेस पार्टी और मेरे  लिए अपूरणीय क्षति  है। विनम्र श्रद्धांजलि। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें। ॐ शांति ॐ शान्ति ॐ शांति|"

सीधी: शादियों पर कोरोना हावी, अधिकतम 10 व्यक्ति ही हो सकेंगें सम्मिलित।



  • कोरोना कर्फ्यू की नयी गाईडलाइन जारी, 07 मई तक कोरोना कर्फ्यू रहेगा जारी।
  • जिला मजिस्ट्रेट श्री चौधरी ने जारी किया प्रतिबंधात्मक आदेश।

सीधी: मध्यप्रदेश शासन गृह विभाग, मंत्रालय वल्लभ भवन, भोपाल के परिपत्र दिनांक 20 अप्रैल 2021 के माध्यम से जारी निर्देश एवं दिनांक 28.04.2021 को आयोजित जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में लिये गये निर्णय अनुसार कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट रवीन्द्र कुमार चौधरी द्वारा सीधी जिला अंतर्गत कोविड-19 से संक्रमित व्यक्तियों की संख्या में हो रही निरंतर अप्रत्याशित वृद्धि को दृष्टिगत रखते हुये प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किया गया है।


जारी आदेशानुसार सीधी जिले की सीधी जिले की सम्पूर्ण राजस्व सीमा में दिनांक 07 मई 2021 तक कोरोना कर्फ्यू प्रभावशील रहेगा। विवाह घरों का संचालन एवं समस्त सामाजिक कार्यक्रमों में टेन्ट एवं डेकोरेंशन का उपयोग पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। शादी कार्यक्रमों में अधिकतम 10 व्यक्ति सम्मिलित हो सकेंगें।


उपखण्ड मजिस्ट्रेटों द्वारा वैवाहिक कार्यक्रम हेतु पूर्व में जारी अनुमति को संशोधित मानी जाकर उक्तानुसार कुल 10 व्यक्तियों को सम्मिलित होने की अनुमति होगी।  सब्जी, फल, हाथ ठेला एवं फेरी के माध्यम से प्रातः 06.00 बजे से पूर्वान्ह 11.00 बजे तक विक्रय की अनुमति होगी। सीधी जिले में अंतर्राज्यीय बसों का संचालन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। ऑटो रिक्सा में 02 सवारी एवं टैक्सी तथा निजी चार पहिया वाहनों में ड्राइवर के अतिरिक्त 02 सवारी को (मास्क के साथ) यात्रा करने की अनुमति होगी।


समस्त नागरिक अनावश्यक घर से बाहर न निकले, अत्यावश्यक कार्य होने पर ही घर से बाहर निकले तथा पूंछतांछ होने पर उपयुक्त कारण प्रस्तुत करना होगा, अन्यथा संबंधित के विरुद्ध विधि अनुसार दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी। उपरोक्त के अतिरिक्त पूर्व में जारी आदेश दिनांक 15.04.2021 एवं 23.04.2021 यथावत रहेगा।


उपरोक्त शर्तों का उल्लंघन करने की स्थिति में संबंधित के विरूद्ध आई.पी.सी. की धारा 188, 269, 270, 271, कोविड-19 रेगुलेशन 2020 एवं राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 51 से 60 तथा अन्य प्रासंगिक विधियों के तहत दाण्डिक कार्यवाही की जायेगी।

Wednesday, 28 April 2021

सीधी में कोरोना का कहर जारी: मिले 220 नए कोरोना संक्रमित, 4 की मौत।



सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के द्वारा जानकारी दी गई कि मंगलवार रात्रि 12 बजे तक कुल 590 सैंपल जांच के लिए भेजे गए और 657 लोगो की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमे से 220 लोगो की रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई है।


सी.एम.एच.ओ. ने बताया कि कोरोना संक्रमण से  व्यक्तियो को स्वस्थ होने के बाद मंगलवार को 263 व्यक्तियो को डिस्चार्ज किया गया है। सभी को अपने घर पर अभी एक सप्ताह एहतियात बरतते हुए प्रदान की गई दवाओं का सेवन  करने की सलाह दी गई, साथ ही सामाजिक दूरी, मास्क का उपयोग, बारंबार हाथ धोते रहने जैसी सावधानियां रखने की समझाइश दी गई है।


अब जिले में कुल 5118 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं।  3611 व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है, और अब जिले में कुल 1478 एक्टिव केस हो गए हैं। 4 मृत्यु से कुल मृतकों की संख्या 29 हो गई है।

Tuesday, 27 April 2021

सीधी: कोरोना के 262 नए मामले, 266 व्यक्तियो ने जीती कोरोना से जंग।



सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के द्वारा जानकारी दी गई कि सोमवार रात्रि 12 बजे तक कुल 747 सैंपल जांच के लिए भेजे गए और 756 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमे से 262 लोगो की रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई है।


सी.एम.एच.ओ. ने बताया कि कोरोना संक्रमण से  व्यक्तियो को स्वस्थ होने के बाद सोमवार को 266 व्यक्तियो को डिस्चार्ज किया गया है। सभी को अपने घर पर अभी एक सप्ताह एहतियात बरतते हुए प्रदान की गई दवाओं का सेवन  करने की सलाह दी गई, साथ ही सामाजिक दूरी, मास्क का उपयोग, बारंबार हाथ धोते रहने जैसी सावधानियां रखने की समझाइश दी गई है।


अब जिले में कुल 4898 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं।  व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है, और अब जिले में कुल 1525 एक्टिव केस हो गए हैं। कुल मृतकों की संख्या 25 हो गई है।

Monday, 26 April 2021

सीधी में कोरोना का कहर जारी: मिले 179 नए कोरोना पॉजिटिव केस, 2 की मौत।



सीधी: मध्यप्रदेश के सीधी जिले में कोरोना का कहर जारी है। कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या रोजाना बढ़ती जा रही है। आज जिले में फिर से 179 नए कोरोना पॉजिटिव केस मिले। साथ ही अब मौत का आंकड़ा भी बढ़ता जा रहा है। लेकिन इस बीच राहत की खबर यह है की 79 व्यक्तियो नें कोरोना से जंग जीत ली है।


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के द्वारा जानकारी दी गई कि रविवार रात्रि 12 बजे तक कुल 540 सैंपल जांच के लिए भेजे गए और 676 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमे से 179 लोगो की रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई है।


सी.एम.एच.ओ. ने बताया कि कोरोना संक्रमण से 79 व्यक्तियो को स्वस्थ होने के बाद रविवार को डिस्चार्ज किया गया है। सभी को अपने घर पर अभी एक सप्ताह एहतियात बरतते हुए प्रदान की गई दवाओं का सेवन  करने की सलाह दी गई, साथ ही सामाजिक दूरी, मास्क का उपयोग, बारंबार हाथ धोते रहने जैसी सावधानियां रखने की समझाइश दी गई है।


अब जिले में कुल 4636 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं।  व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है, और अब जिले में कुल 1529 एक्टिव केस हो गए हैं। 2 मृत्यु से कुल मृतकों की संख्या 25 हो गई है।

Sunday, 25 April 2021

सीधी में कोरोना ने तोड़े सारे रिकॉर्ड: 24 घंटे में आए 336 नए मामले, 1 की मौत।



सीधी: जिले मे कोरोना वायरस संक्रमण ने आज सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए। एक दिन में Covid-19 के सबसे ज्यादा 336 नए मामले सामने आए हैं। वहीं पिछले 24 घंटे में 1 व्यक्ति की मौत हो गई। इसी दौरान 185 मरीज कोरोना से ठीक भी हुए हैं।


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के द्वारा जानकारी दी गई कि शनिवार रात्रि 12 बजे तक कुल 531 सैंपल जांच के लिए भेजे गए और 901 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमे से 336 लोगो की रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई है।


सी.एम.एच.ओ. ने बताया कि कोरोना संक्रमण से 185 व्यक्तियो को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है। सभी को अपने घर पर अभी एक सप्ताह एहतियात बरतते हुए प्रदान की गई दवाओं का सेवन  करने की सलाह दी गई, साथ ही सामाजिक दूरी, मास्क का उपयोग, बारंबार हाथ धोते रहने जैसी सावधानियां रखने की समझाइश दी गई है।


अब जिले में कुल 4457 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं।  व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है, और अब जिले में कुल 1431 एक्टिव केस हो गए हैं। 1 मृत्यु से कुल मृतकों की संख्या 23 हो गई है।

Saturday, 24 April 2021

सीधी: जिले में मिले 210 नए कोरोना पॉजिटिव, 142 व्यक्तियों ने जीती कोरोना से जंग।



सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बीएल मिश्रा ने जानकारी देकर बताया है कि शुक्रवार रात्रि 12 बजे तक कुल 575 सैंपल जांच के लिए भेजे गए और 597 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमे से 210 लोगो की रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई है।


सी.एम.एच.ओ. ने बताया कि कोरोना संक्रमण से 142 व्यक्तियो को स्वस्थ होने के बाद शुक्रवार को डिस्चार्ज किया गया है। सभी को अपने घर पर अभी एक सप्ताह एहतियात बरतते हुए प्रदान की गई दवाओं का सेवन करने की सलाह दी गई, साथ ही सामाजिक दूरी, मास्क का उपयोग, बारंबार हाथ धोते रहने जैसी सावधानियां रखने की समझाइश दी गई है।


अब जिले में कुल 4121 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। 2818 व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है, और अब जिले में कुल 1281 एक्टिव केस हो गए हैं।

कांग्रेस विधायक कलावती भूरिया का कोरोना से निधन, पार्टी में शोक की लहर।



Coronavirus Updates: मध्यप्रदेश में कोरोना का कहर जारी है। कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है साथ ही मौत के आंकड़े बढनें लगे हैं। इसी बीच मध्य प्रदेश के जोबट से बड़ी खबर सामने आ रही है। जहां कांग्रेस पार्टी की विधायक कलावती भूरिया का कोरोना से निधन हो गया।


जिले की जोबट विधानसभा से कांग्रेस पार्टी की विधायक कलावती भूरिया का कोरोना से निधन हुआ है। कलावती भूरिया इंदौर के प्राइवेट हॉस्पिटल में विगत 15 दिनों से भर्ती थी। दो दिन से ज्यादा तबियत खराब थी। दरअसल कलावती भूरिया का इलाज इंदौर के सैलबी अस्पताल में चल रहा था। पहली बार कलावती जोबट विधान सभा से वर्ष 2018 में चुनाव जीत कर विधायक बनी थी। इसके पहले भूरिया झाबुआ जिला पंचायत की लगातार 4 बार अध्यक्ष रह चुकी है।


एमपी कांग्रेस के ऑफिशिअल ट्विटर के माध्यम से विधायक कलावती भूरिया के निधन की जानकारी दी गयी है। एमपी कांग्रेस नें ट्वीट कर लिखा, "मध्यप्रदेश कांग्रेस की वरिष्ठ नेता एवं जोबट क्षेत्र से विधायक कलावती भूरिया जी के निधन की दुःखद खबर है, कांग्रेस परिवार दिवंगत आत्मा की शांति एवं परिजनों को दुखों का यह वज्रपात सहने की शक्ति देने की प्रार्थना करता है। “भावपूर्ण श्रद्धांजली”


Friday, 23 April 2021

सीधी: 30 अप्रैल तक रहेगा कोरोना कर्फ्यू, शादियों में अब दोनों पक्षों को मिलाकर अधिकतम 20 व्यक्तियों की छूट।



सीधी: सांसद सीधी रीती पाठक तथा विधायक धौहनी कुंवर सिंह टेकाम की वर्चुअल उपस्थिति तथा विधायक चुरहट शरदेंदु तिवारी, कलेक्टर रवींद्र कुमार चौधरी तथा पुलिस अधीक्षक पंकज कुमावत की उपस्थिति में जिला स्तरीय क्राईसेस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक आयोजित की गई। बैठक में समिति के सभी सदस्यों से चर्चा उपरांत जिले में बढ़ रहें कोरोना संक्रमण को देखते हुए लाॅकडाउन की अवधि बढ़ाकर 30 अप्रैल कर दी गई है। बैठक में यह निर्णय लिया गया है कि जहाॅ शादियों में 50 व्यक्तियों की छूट दी गई थी वहाॅ अब केवल और केवल दोनों पक्षों को मिलाकर अब अधिकतम 20 कर दी गई। सब्जी की दुकान, आटा चक्की, दूध डेरी का समय 06 बजे सुबह से दोपहर 12 बजे तक किया गया है।  


सांसद श्रीमती पाठक ने  कहा कि 1 मई से 18 वर्ष की आयु से अधिक सभी लोगो को टीकाकरण किया जायेगा। जिसकी तैयारी समय से पूर्ण करे लें जिससे लोगो को अनावश्यक भटकना न पडे़। सांसद ने कहा कि जिले में कोरोना के इलाज के लिए पर्याप्त बिस्तर, ऑक्सीजन, रेमडेसिविर इंजेक्शन, दवाओं की व्यवस्था करना सुनिश्चित करें। जिससे कोई भी कोरोना संक्रमित व्यक्ति को किसी भी प्रकार की कठिनाई न हो।


विधायक चुरहट श्री तिवारी ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते केस को लेकर चिन्ता जाहिर करते हुए कोरोना मरीजों हेतु एक एम्बुलेंस देने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि यह समय हम सब को मिलकर संवेदनशीलता से कार्य करने की जरूरत है। जो भी मरीज भर्ती हैं, उन्हें अनावश्यक रेफर न किया जाये। जब मरीज एवं मरीज के परिजनों द्वारा लिखित में कहा  जाये तभी उन्हे रेफर किया जाये। उन्होने कहा कि कोविड़ कमाण्ड सेन्टर में एक टोल फ्री नम्बर जारी किया जाये जिससे भर्ती मरीजों के परिजन आवश्यकता पड़ने पर उनसे बात कर सके।  उन्होने कहा कि जो भी व्यक्ति बाहर से आ रहे है उन्हे  कम से कम 05 दिन तक क्वारेन्टीन करे। विधायक ने कहा कि  जो भी व्यक्ति होम आईसोलेशन में है उन्हे आवश्यक दवाईयाॅ उनके घर पर ही पहुचाना सुनिश्चित करें। इसके साथ ही एक विधिवत गाइडलाईन जारी कर जिसमें दवाईयों के बारे में एवं उसके खुराक के विषय में पूर्ण जानकारी हो उनकी एक-एक प्रति प्रत्येक होमआईसोलेशन मरीजों को पहुंचाना सुनिश्चित करें। उन्होने बताया कि कोविड-19 के कारण भारी संख्या में अप्रवासीय श्रमिक की वापसी ग्राम पंचायतों में हो रही है। वापस आये श्रमिकों के संबंध में जानकारी ग्राम पंचायतों के सचिव/ग्राम रोजगार सहायक से प्राप्त कर सम्मिलित करना सुनिश्चित करें।


विधायक श्री तिवारी ने कहा कि कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज में कोई भी कमी नहीं हो हर संभव प्रयास किया जाये। उन्होने कहा कि कोरोना से संक्रमित मरीजों को किसी भी प्रकार की कठिनाई नहीं हो उन्हें समय पर नास्ता, भोजन आदि आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध हों। सभी फीवर क्लीनिक में आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें जिससे लोगों को अनावश्यक परेशानी नहीं हो। विधायक श्री तिवारी ने कहा कि शादियों में जो भी गाड़ी, बाजा, डीजे रोडलाइट, टेन्ट इत्यादि का जो भी एडवांस दिया गया है और जो भी शादियों की डेट बढ़ा दी गई है उस एडवांस को सिप्ट करने के निर्देश जारी किए जाएं। श्री तिवारी द्वारा जो भी मरीज आईसोलेशन मे भर्ती है उन सभी का प्रतिदिन रिपोर्ट डेस्कबोर्ड में प्रदर्शित करने हेतु कहा गया है।  


कलेक्टर श्री चौधरी ने कहा कि कोरोना वैक्सीन, रेमडेसिविर इंजेक्शन सहित सभी दवाइयॉं शासन द्वारा निःशुल्क उपलब्ध कराई जा रही है। इसका पर्याप्त स्टॉक की अभी उपलब्ध है, ऐसे में किसी भी मरीज को बाहर से दवाइयां लेने की आवश्यकता नहीं पड़े। यदि कोई कर्मचारी या डाॅक्टर रेमडेसिविर इंजेक्शन लगवाने का पैसा माॅगता है इसकी शिकायत तत्काल कलेक्टर से कर सकते हैं। इसके साथ ही कलेक्टर ने कहा कि  रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वालों के विरूद्ध रासुका के तहत कार्यवाही की जायेगी। कलेक्टर ने कहा कि सभी डॉक्टर संकट की इस घड़ी में रोगियों की सेवा और उपचार पूरी जिम्मेदारी और संवेदनशीलता से करें। आपके द्वारा समय पर किये गये उपचार के प्रयासों से किसी को जीवनदान मिलेगा।


कलेक्टर श्री चौधरी ने बताया कि फीवर क्लीनिक में आने वाला हर तीसरा व्यक्ति कोरोना से संक्रमित है। कलेक्टर ने बताया कि कोविड कमाण्ड सेन्टर में मोबाइल उपलब्ध कराई गई है तथा 22 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। जो प्रतिदिन होम आइसोलेशन मरीजों से दिन में 2 से 3 बार उनके स्वास्थ्य की जानकारी प्राप्त कर रहें है तथा थोड़ा सा भी स्वास्थ्य खराब होने पर उन्हें कोविड सेन्टर में भर्ती किया जा रहा है। कलेक्टर श्री चैधरी ने नगरपालिका एवं पीडब्ल्यूडी को निर्देशित किया है कि शहर के मुख्य मार्ग के अतिरिक्त अन्य मार्गों पर बैरिकेटिंग की जाये जिससे अनावश्यक आवागमन को बाधित किया जा सके।


ग्राम पंचायतों को किया जायेगा पुरस्कृत।

जो भी ग्राम पंचायत अपने गांव में आने वाले प्रवासियों की बेहतर सुरक्षा एवं देखरेख के साथ गांव के व्यक्तियों को बाहर नहीं जाने देगें ऐसे ग्राम पंचायतों को पुरस्कार से सम्मानित किया जायेगा। इसके साथ ही जिन पंचायतों में कम से कम कोरोना के मरीज आयेगें और जहां एक भी कोरोना से संक्रमण व्यक्ति नहीं पाये जायेगें उन ग्राम पंचायतों को भी पुरस्कृत किया जायेगा।  


बैठक में राजेन्द्र सिंह भदौरिया द्वारा कांग्रेस भवन को कोविड संक्रमित मरीजों के उपचार हेतु आवश्यकतानुसार उपयोग के लिए कलेक्टर को सौंपा गया है। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत आर.के. शुक्ला, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. बी.एल. मिश्रा, गणमान्य नागरिक इन्द्रशरण सिंह चौहान, श्रीमान सिंह, विधायक प्रतिनिधि गुरूदत्त शरण शुक्ल, राजेन्द्र सिंह भदौरिया, पुष्पराज सिंह, रमेश अग्रहरी, कमल कामदार सहित जिला आपदा प्रबंधन समिति के सदस्यगण एवं संबंधित अधिकारी वर्चुअल माध्यम से उपस्थित रहें।

सीधी: कोरोना का कहर जारी, मिले 275 नए कोरोना संक्रमित।



सीधी: जिले में कोरोना का कहर जारी है, कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या रोजाना बढ़ती जा रही है। लेकिन इस के बीच एक राहत भरी खबर यह है की 107 व्यक्तियों ने कोरोना से जंग जीत ली है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने जानकारी देकर बताया है कि गुरुवार रात्रि 12 बजे तक कुल 636  सैंपल जांच के लिए भेजे गए और 820 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमे से 275 लोगो की रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई है।


सी.एम.एच.ओ. डॉ. मिश्रा ने बताया कि कोरोना संक्रमण से 107 व्यक्तियो को स्वस्थ होने के बाद बुद्धवार को डिस्चार्ज किया गया है। सभी को अपने घर पर अभी एक सप्ताह एहतियात बरतते हुए प्रदान की गई दवाओं का सेवन  करने की सलाह दी गई, साथ ही सामाजिक दूरी, मास्क का उपयोग, बारंबार हाथ धोते रहने जैसी सावधानियां रखने की समझाइश दी गई है।


जिले में कुल 3940 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। 2676 व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है, और अब जिले में कुल 1242 एक्टिव केस हो गए हैं। मृत्यु  के कुल प्रकरण 22 है।

सीधी: संविदाकार जीेवेंद्र सिंह "लल्लू" के छोटे पुत्र का निधन, अजय- कमलेश्वर नें जताया दुख।



सीधी: मध्यप्रदेश के सीधी जिले से एक दुखद खबर आ रही है। जिले के वरिष्ठ संविदाकार एवं समाजसेवी जीेवेंद्र सिंह चौहान "लल्लू" के छोटे सुपुत्र प्रकाश सिंह का निधन हो गया है। प्रकाश के निधन पर पूरे जिले में शोक की लहर है। सोशल मीडिया में लोग उन्हें श्रद्धाजंलि दे रहें हैं। मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह एवं पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल नें भी प्रकाश के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है।


मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह नें प्रकाश के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि, "श्री जीेवेंद्र सिंह चौहान लल्लू के छोटे सुपुत्र श्री प्रकाश सिंह के आकस्मिक निधन  का समाचार दुःखद है। परमात्मा दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान दें एवं  परिजनों को इस अपार दुख को सहन करने की शक्ति प्रदान करें।ॐ शांति।"


सीधी जिले की सिहावल विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक एवं पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल नें प्रकाश के निधन पर दुख व्यक्त करते हुये कहा की, "ठेकेदार एवं समाजसेवी श्री जिवेंद्र सिंह जी "लल्लू भैया" के सुपुत्र श्री प्रकाश सिंह जी का आज असमय निधन होने से बहुत दुःख हुआ। ईश्वर से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को शांति एवं शोकाकुल परिवार पर जो वज्रपात हुआ उसे सहन करने की शक्ति प्रदान करें।ॐ शांति।"

Thursday, 22 April 2021

सीधी में डरावना हुआ कोरोना: मिले 149 नए कोरोना संक्रमित, 3 की मौत।



सीधी: जिले में कोरोना वायरस की रफ्तार ने फिर तेज़ी पकड़ ली है और इस बार ये तेज़ी रुकने का नाम नहीं ले रही है। पिछले 24 घंटे में 149 नए कोरोना के केस दर्ज किए गए हैं। साथ ही 3 लोगों की कोरोना से मौत हो गयी है। इस बीच राहत भरी खबर ये है की 56 व्यक्तियों ने कोरोना से जंग जीत ली है।


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.एल. मिश्रा ने जानकारी देकर बताया है कि बुधवार रात्रि 12 बजे तक कुल 527 सैंपल जांच के लिए भेजे गए और 502 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमे से 149 लोगो की रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई है।


सी.एम.एच.ओ. डॉ. मिश्रा ने बताया कि कोरोना संक्रमण से 56 व्यक्तियो को स्वस्थ होने के बाद बुधवार को डिस्चार्ज किया गया है। सभी को अपने घर पर अभी एक सप्ताह एहतियात बरतते हुए प्रदान की गई दवाओं का सेवन करने की सलाह दी गई, साथ ही सामाजिक दूरी, मास्क का उपयोग, बारंबार हाथ धोते रहने जैसी सावधानियां रखने की समझाइश दी गई है।


जिले में कुल 3665 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। 2569 व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है और अब जिले में कुल 1074 एक्टिव केस हो गए हैं। मृत्यु के 3 प्रकरण बढ़ कर कुल 22 हो गई है।

Wednesday, 21 April 2021

सीधी: कोरोना ने तोड़ा अब तक का रिकॉर्ड, पहली बार मिले 231 कोरोना संक्रमित।



सीधी: जिले में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता ही जा रहा है, कोरोना संक्रमितों के सारे पुराने रिकार्ड ध्वस्त हो रहें हैं। सीधी में पिछले 24 घंटों में 231 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। लेकिन इसके बीच राहत की खबर ये रही की 57 व्यक्तियों ने कोरोना को मात भी दी।


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.एल. मिश्रा के द्वारा जानकारी दी गई कि मंगलवार रात्रि 12 बजे तक कुल 618  सैंपल जांच के लिए भेजे गए और 682 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमे से 231 लोगो की रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई है।


सी.एम.एच.ओ. ने बताया कि कोरोना संक्रमण से 57 व्यक्तियो को स्वस्थ होने के बाद मंगलवार को डिस्चार्ज किया गया है। सभी को अपने घर पर अभी एक सप्ताह एहतियात बर्तते हुए प्रदान की गई दवाओं का सेवन  करने की सलाह दी गई, साथ ही सामाजिक दूरी, मास्क का उपयोग, बारंबार हाथ धोते रहने जैसी सावधानियां रखने की समझाइश दी गई है।


अब जिले में कुल 3516 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। 2513 व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है, और अब जिले में कुल 984 एक्टिव केस हो गए हैं। जिले में कोरोना से अब तक कुल 19 मृत्यु हो चुकी है।

सीधी: कांग्रेस नेता पुष्पेन्द्र पांडेय का निधन, अजय- कमलेश्वर नें जताया दुख।



सीधी: जिले के कांग्रेस पार्टी के नेता पुष्पेन्द्र पांडेय के निधन की खबर है। प्राप्त जानकारी के अनुसार वो पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे। पुष्पेन्द्र पांडेय के निधन पर मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह एवं पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल नें गहरा दुख व्यक्त किया है।


अजय सिंह ने कहा की, "सीधी जिले के कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता,युवक कांग्रेस के महामंत्री और कर्मठ साथी श्री पुष्पेन्द्र पांडेय के असामयिक निधन का समाचार अत्यंत दुःखद है। परमात्मा उनकी आत्मा को शांति दे और दुखी परिजनों को शोक सहने की सामर्थ्य प्रदान करे।ॐ शांति।"


सीधी जिले की सिहावल विधानसभा से विधायक एवं पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल ने कहा की, "दुःखद! सीधी जिला कांग्रेस कमेटी के पूर्व प्रवक्ता मिलनसार हंसमुख श्री पुष्पेन्द्र पांडेय जी का निधन हो गया है ।  मैं दुःखी हूं, ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान एवं शोकाकुल परिवार को साहस प्रदान करें ।ॐ शांति।"

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच अजय सिंह की पहल, मास्क नहीं तो बात नहीं- मास्क नहीं तो साथ नहीं।



भोपाल: देश के साथ साथ मध्यप्रदेश में भी कोरोना की दूसरी लहर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या रोजाना बढ़ती जा रही, जिसे नियंत्रित करना मुश्किल हो रहा है। हालांकि स्‍वास्‍थ्‍य और चिकित्‍सा जगत के विशेषज्ञ कोरोना को लेकर लगातार रिसर्च कर रहे हैं लेकिन अभी भी कोरोना के संक्रमण को फैलनें से रोकनें के लिये मास्क एक बेहतर विकल्प है।


इसी बीच कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर को लेकर राज्य सरकारें सख्त हो गई हैं और बिना फेस मास्क बाहर घूमने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई भी कर रही हैं। लेकिन इसके बाबजूद भी लोग मास्क लगाने के प्रति लापरवाही कर रहें हैं, यही कारण है की हम कोरोना से जीती हुई जंग में हारने की राह पर बढ़ने लगे हैं। दोबारा कोरोना जब विकराल रूप धारण कर रहा है तब भी लोग मास्क का उपयोग सड़क व चौराहों पर सिर्फ पुलिस से बचने के लिए कर रहे हैं। गली मोहल्लों में लोग धड़ल्ले से बिना मास्क के ही घूमते फिरते नजर आ रहे हैं।


अजय सिंह की पहल- मास्क नहीं तो बात नहीं- मास्क नहीं तो साथ नहीं।

अब ऐसे में जब लोग मास्क के बिना ही धड़ल्ले से घूमते फिरते नजर आ रहे हैं तब मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह नें लोगों को मास्क लगानें के लिये प्रेरित करनें के लिये पहल की है और कहा है की" मास्क नहीं तो बात नहीं- मास्क नहीं तो साथ नहीं।" श्री सिंह नें लोगों से अपील करते हुये कहा है की, कोरोना से लड़ाई के लिये मास्क एक बेहतर विकल्प है और इसे सभी को लगाना चाहिए। साथ ही अजय सिंह ने कहा की, जो लोग मास्क नही लगा रहें उनसे बात नही करनी है, उनके साथ भी नही रहना है।


गौरतलब है की, अजय सिंह नें हमेशा से ही कोरोना के रोकथाम के लिये बनाये गये नियमों का पालन करनें के लिये लोगों को प्रेरित किया है। उन्होनें पहले भी लोगों से मास्क लगानें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करनें, बेवजह घर से बाहर ना घूमनें एवं कोरोना वैक्सीन लगवाने की अपील कर चुकें हैं।

Tuesday, 20 April 2021

सीधी: जिला अधिवक्ता संघ का चुनाव संपन्न, बृजेंद्र सिंह 143 वोटों से पुन: अध्यक्ष चुने गए।



सीधी: जिला अधिवक्ता संघ सीधी का चुनाव आज मंगलवार को संपन्न हो गया। हालाकि सोमवार की रात करीब 10.25 पर एसडीएम गोपद बनास द्वारा चुनाव निरस्त करने का फरमान जारी किया गया था लेकिन इसके बावजूद भी चुनाव चुनाव संपन्न कराया गया। बता दें की, एसडीएम के चुनाव रोकने संबंधी आदेश के कारण देर तक स्थिति साफ नहीं हुई थी, बाद में जिला जज ने एसडीएम के आदेश को खारिज कर दिया।  


बृजेंद्र सिंह अध्यक्ष निर्वाचित।

मुख्य मुकाबला पूर्व अध्यक्ष मुनीन्द्र द्विवेदी एवं निवर्तमान अध्यक्ष बृजेन्द्र सिंह बघेल के बीच था। अभी रात तकरीबन 10:15 बजे आए चुनाव परिणाम में जिला अधिवक्ता संघ अध्यक्ष पद के लिए बृजेंद्र सिंह लगातार दूसरी बार फिर से निर्वाचित घोषित किए गए हैं। श्री सिंह को कुल 394 मत मिले हैं जबकि उनके प्रमुख प्रतिद्वंदी मुनींद्र द्विवेदी को 251 मत हासिल हुए हैं। इस प्रकार से 143 मतों से बृजेंद्र सिंह लगातार दूसरी बार अध्यक्ष निर्वाचित घोषित हुए हैं।


जिला अधिवक्ता चुनाव को लेकर कुल 839 मतदाता हैं जिनमें करीब 683 मतदाताओं ने वोट डाले। हालांकि चुनाव स्थगित करने को लेकर पूर्व अध्यक्ष मुनीन्द्र द्विवेदी सहित अन्य अधिवक्ताओं ने भी मांग की थी कि कोरोना के संकट को लेकर चुनाव स्थगित हो जाए। जिस वजह से कलेक्टर के निर्देश पर एसडीएम गोपद बनास नीलाम्बर मिश्रा द्वारा रात करीब 10.25 बजे आदेश जारी कर कहा गया कि कोरोना के संकट के कारण आगामी आदेश तक चुनाव स्थगित किया जाता है। ऐसे में कई अधिवक्ताओं को लगा की चुनाव स्थगित हो गया है लेकिन सुबह चुनाव प्रक्रिया शुरू करा दी गई।

कोरोना से सीधी में चिंताजनक हुए हालात, मिले 93 नए कोरोना संक्रमित, 3 की मौत।



सीधी: कोरोना की दूसरी लहर में सीधी में हालत गंभीर होते जा रहे हैं। पिछले कुछ दिनों से लगातार कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के द्वारा जानकारी दी गई कि मंगलवार कि शाम तक में रीवा मेडिकल कॉलेज वायरोलॉजी लैब से 336 सैंपल की रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमे से 93 लोगो की पॉजिटिव रिपोर्ट प्राप्त हुई है।


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने ये भी बताया की, रैपिड एंटीजन किट द्वारा की गई जांच एवं डिस्चार्ज सहित अपडेटेड जानकारी अब से पोर्टल अपडेट होने के उपरांत अगले दिन जारी की जाएगी। ताकि जारी किए गए आंकड़ों में भिन्नता नही होवे।


अब जिले में कुल 3378 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। अब तक 2456 व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है। अब जिले में कुल 903 एक्टिव केस  हो गए हैं। मृत्यु के 3 प्रकरण के साथ कुल 19 हो गए है।

कोविड-19 की मौजूदा स्थिति जानने जिला अस्पताल पहुंचे युकां अध्यक्ष, वरिष्ठ अधिकारियों से की मुलाकात।



सीधी: जिला युवा कांग्रेस सीधी के अध्यक्ष देवेंद्र सिंह 'दादू' के द्वारा आज जिला चिकित्सालय पहुंच कर सीएचएमओ डॉ. बी.एल. मिश्रा एवं सिविल सर्जन डॉ. डी.के. द्विवेदी से मुलाकात कर कोरोना महामारी के संबंध में जिला प्रशासन एवं जिला स्वास्थ्य विभाग के व्यवस्था के संबंध में जानकारी ली गई। कोरोना सेंटर स्थित बेड, वेंटिलेटर, ऑक्सीजन एवं वैक्सीन आदि की मौजूदा स्थिति के बारे में एवं मरीज़ बढ़ने की स्थिति में पूर्व की तैयारियों के बारे में भी चर्चा की गई।


जैसा की विदित है कि अभी पिछले दिनों सीमावर्ती जिला शहडोल में ऑक्सीजन सिलेंडर की अनुपलब्धता के कारण 12 जाने चली गई, जो कि बेहद दुर्भाग्यपूर्ण था। किसी भी लापरवाही के कारण ऐसी कोई परिस्थिति अपने जिले में ना बने इसलिए युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने दोनों ही अधिकारियों से मिलकर अनुरोध किया की इसका पूरा ध्यान जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग को रखना पड़ेगा। उक्त चर्चा के दौरान यह पता चला कि  आज की तारीख में सीधी जिले में लगभग नौ सौ एक्टिव केसेस् हैं और बेड की व्यवस्था मात्र दो सौ के लगभग है। जो एक निश्चित तौर पर चिंता का विषय है।


यूकां अध्यक्ष द्वारा इस संदर्भ में शहर के अंदर क‌ई और अस्थाई कोरोना सेंटर शीघ्र बनाने सुझाव दिया गया जहां बेड, वेंटिलेटर और ऑक्सीजन की व्यवस्था हो। साथ ही इस बात की तकलीफ भी जताई और जानना चाहा कि अब तक जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग किस भयावह स्थिति की प्रतीक्षा में है जो अब तक और भवनों को कोरोना सेंटर बनाने के लिए तैयार नहीं किया गया।  


टीकाकरण अभियान को तेज करने की मांग।

टीकाकरण को लेकर सिविल सर्जन द्वारा आश्वस्त किया गया है कि 1 मई से 18 वर्ष से ऊपर युवाओं को ज्यादा से ज्यादा टीका लगाने का कार्यक्रम शुरू किया जाएगा। कांग्रेस द्वारा लगातार राष्ट्रीय स्तर पर हर आयु वर्ग को टीका लगाने के लिए सोशल मीडिया में स्पीक अप इंडिया नाम से कैंपेनिंग भी किया गया था। युकां के जिलाध्यक्ष ने जिला युवक कांग्रेस सीधी की तरफ से वृहद तौर पर रक्तदान एवं आवश्यकता अनुरूप वॉलेंटियर की उपलब्धता की बात जिला प्रशासन की मदद हेतु कहीं गई है।


उक्त चर्चा के बाद युकां अध्यक्ष जिला चिकित्सालय परिसर स्थित फीवर क्लीनिक की स्थिति देखने भी गए। एवं वहां उपस्थित कोरोना वाॅरियरस्  से निवेदन किया की हर जांच की रिपोर्ट शीघ्र आ जाए जिसे संदिग्ध मरीजों को समय रहते हैं उचित चिकित्सा सुविधा एवं दवाएं मिल सके। साथ ही केंद्र सरकार से मांग की है कोरोना महामारी के प्रथम चरण के समय कोरोना वारियर्स के लिए जो बीमा योजना चालू किया गया था, जिसे बाद में बंद कर दिया गया उसे पुनः चालू किया जायें।


यूकां अध्यक्ष ने की जिलेवासियों से अपील।

जिला युवा कांग्रेस अध्यक्ष देवेंद्र सिंह दादू ने सोशल मीडिया के माध्यम से एवं प्रेस विज्ञप्ति जारी कर समस्त जिलावासियों से अपील की है की यह बहुत कठिन समय है हम सबको आत्मविश्वास नहीं खोना है। साधारण सर्दी जुखाम, बुखार या अगर कोरोना की टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव भी आ गई है तो भी जंग जीती जा सकती है, और स्वस्थ हुआ जा सकता है। उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि अधिकांश सांप विषैले नहीं होते परंतु किसी भी सांप के काटने से इंसान घबराकर ज्यादा बीमार हो जाता है, ऐसे ही हमें घबराना नहीं है, संयम से काम लेना है। मास्क और सैनिटाइजर का उपयोग, बार-बार साबुन से हाथ धोना एवं सोशल डिस्टेंसिंग बना कर रखना है। हमने कई लोगों को यह जंग जीते हुए देखा और सुना है।


उक्त चर्चा हेतु देवेंद्र सिंह दादू अध्यक्ष जिला युवा कांग्रेस सीधी के साथ अरुण सिंह 'चिंटू'  सचिव मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी (आईटी एवं सोशल मीडिया सेल), भूपेंद्र सिंह बघेल  जिला कार्यकारी अध्यक्ष आई टी सेल, राहुल सिंह जिला उपाध्यक्ष आईटी सेल एवं राज बहादुर यादव भी थे।

Latest Post

कौन हैं चौधरी राकेश सिंह? जिनको लेकर कांग्रेस में मचा है घमासान।

भोपाल:   मध्यप्रदेश में संगठन की मजबूती के लिये प्रदेश कांग्रेस ने बड़ा बदलाव किया है। प्रदेश कांग्रेस ने संगठन में 56 जिलों में प्रभारियों ...