Wednesday, 17 March 2021

BJP सांसद की संदिग्ध हालात में मौत, आत्महत्या की आशंका।



सीधी CHRONICLE: हिमाचल प्रदेश के मंडी संसदीय क्षेत्र के भाजपा सांसद रामस्‍वरूप शर्मा का निधन हो गया है। उन्होने दिल्‍ली के राममनोहर लोहिया अस्‍पताल में अंतिम सांस ली। बताया जा रहा है कि वो पिछले कुछ समय से अस्वस्थ चल रहे थे लेकिन अब उनके स्वास्थ्य में सुधार आ रहा था। इसी बीच उनके निधन की खबर आई है। बताया यह भी जा रहा है उन्‍होंने फांसी लगाकर आत्‍महत्‍या की है, वे दिल्ली में सांसद आवास में वे फंदे से लटके मिले। लेकिन यह जानकारी अभी पुष्‍ट नहीं है।


बताया जा रहा है रामस्वरूप शर्मा अपनी बीमारी की वजह से डिप्रेशन में थे। मंडी के शिवरात्रि महोत्सव के शुभारंभ पर 12 मार्च को जब लोगों ने उनकी हालत देख हर कोई स्‍तब्‍ध था। उसी दिन शाम को सांस्कृतिक संध्या में भी उनके स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर नेताओं में चर्चा बनी हुई थी। रामस्वरूप शर्मा खुद को मोदी का सुदामा बताते थे, उन्‍होंने मंडी का नाम छोटी काशी के रूप में उभारा। रामस्‍वरूप शर्मा ने 1985 तक एनएचपीसी में नौकरी की थी व कबड्डी के खिलाड़ी भी रहे। चंबा में इसी दौरान आरएसएस से जुड़ गए व प्रचारक बन गए। उसके बाद 2014 के लोकसभा चुनाव में उन्‍हें भाजपा का टिकट मिला।



रामस्‍वरूप शर्मा इस बार मंडी संसदीय क्षेत्र से दूसरी बार सांसद बने थे। 2014 में नरेंद्र मोदी की लहर के बीच उन्‍होंने कांग्रेस कद्दावर नेता एवं पूर्व मुख्‍यमंत्री वीरभद्र सिंह की पत्‍नी प्रतिभा सिंह को हराया था। सामान्‍य परिवार से संबंध रखने वाले रामस्‍वरूप शर्मा मूलत मंडी जिला के जोगेंद्रनगर के रहने वाले थे। संगठन के कार्यों में भी वह सक्रिय रहते थे। जिला मंडी के भाजपा अध्‍यक्ष रणवीर सिंह ने बताया कि सांसद के निधन की सूचना मिली है। पार्टी पदाधिकारी व कुछ उनके करीबी लोग दिल्‍ली के लिए रवाना हुए।

No comments:

Post a Comment

Latest Post

कौन हैं चौधरी राकेश सिंह? जिनको लेकर कांग्रेस में मचा है घमासान।

भोपाल:   मध्यप्रदेश में संगठन की मजबूती के लिये प्रदेश कांग्रेस ने बड़ा बदलाव किया है। प्रदेश कांग्रेस ने संगठन में 56 जिलों में प्रभारियों ...