Tuesday, 23 February 2021

सीधी बस हादसा: मृतकों के परिजनों से मिले पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह, व्यक्त की संवेदना।



सीधी: मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह बीते कल यानी सोमवार को रामपुर नैकिन पहुंचे और बस हादसे में मृतकों के परिजनों से मिलकर मृतकों के प्रति संवेदना व्यक्त की। अजय सिंह नें घटना को दुखद बताते हुये कहा की इतनी बड़ी घटना की वजह सिर्फ़ और सिर्फ़ प्रशासनिक लापरवाही है। उन्होने कहा कि इस मामले में प्रशासन को सचेत होने की जरूरत है। उन्होनें ये भी कहा की पूरे मामले को लेकर जांच की बात तो की जा रही है लेकिन मुख्यमंत्री क्या करते हैं यह तो अब आने वाला समय ही बताएगा। एक सवाल के जबाब में श्री सिंह नें कहा की सीएम को एक मच्छर के काटनें से इंजीनियर सस्पेंड हो सकता है लेकिन इतनी बड़ी दुर्घटना जिसमें 54 लोगों की जान चली गयी, उसकी जबाबदेही अभी भी सही तरीके से तय नही हो पा रही।  


हला की पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह को घटना के दौरान ही सीधी पहुँचना चाहिए था, लेकिन उनके आंख का आपरेशन हुआ था जिसकी वजह से वो विलम्ब से पहुचें। लेकिन आने के बाद चुरहट विधानसभा क्षेत्र के सभी गांव में शोक संवेदना व्यक्त करने पहुंचे। उनके द्वारा बस हादसे में मृतकों के परिजनों के घर जाकर उन्हे ढाढस बंधाया तथा परिजनों को सांत्वना दी गई। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल सेमरिया, पोड़ी गए जहां मोहन साकेत के घर शोक संवेदना व्यक्त की, वहीं पिपरहा घटना स्थल में बहादुर बच्ची से भी मुलाकात किये। इसके अलावा अन्य स्थानों में भी उनके द्वारा मृतकों के परिजनों से मुलाकात की गई। चुरहट क्षेत्र में रामपुर नैकिन अंतर्गत कई घरों में उनके द्वारा मुलाकात की गई। उनके द्वारा आश्वासन भी दिया गया कि कहीं भी दिक्कत होगी तो हम साथ में है। मृतक के परिजनों को आश्वासन भी दिया गया कि परिजनों के साथ कांग्रेस पार्टी पूरी मदद करने के लिए तैयार है।


16 फरवरी को हुआ था हादसा, हादसे में हुई 54 की मौत।

सीधी से जबलनाथ परिहार की 32 सीटर बस एमपी 19 पी 1882 16 फरवरी को सुबह 5 बजे के करीब सतना के लिए रवाना हुई थी। बस में ड्राइवर समेत सीधी, सिंगरौली जिले के कुल 61 यात्री सवार थे। इनमें अधिकतर  छात्र और छात्राएं थीं। छात्र रेलवे तो छात्राएं एएनएम की परीक्षा देने सतना जा रही थीं। छुहिया घाटी में लगे जाम के चलते बस ड्राइवर ने बघवार से जिगिना कैनाल रूट ले लिया था। इसी बीच लगभग 22 फीट गहरी बाणसागर नहर में बस पलट गई, जिसमें 54 लोगों की मौत हो गयी।

No comments:

Post a Comment

Latest Post

कौन हैं चौधरी राकेश सिंह? जिनको लेकर कांग्रेस में मचा है घमासान।

भोपाल:   मध्यप्रदेश में संगठन की मजबूती के लिये प्रदेश कांग्रेस ने बड़ा बदलाव किया है। प्रदेश कांग्रेस ने संगठन में 56 जिलों में प्रभारियों ...