Tuesday, 16 February 2021

सीधी बस हादसा: कमलेश्वर पटेल नें घटना पर जताया दुख, की न्यायिक जांच की मांग।



  • मृतकों को 50-50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता राशि दी जाए: कमलेश्वर पटेल।

सीधी: पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए मृतकों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने ईश्वर से प्रार्थना कर सभी दिवंगत आत्माओं को शांति एवं शोकाकुल परिजनों को साहस प्रदान करने के साथ साथ घटना के लिये शासन एवं प्रशासन को दोषी बताया है।


श्री पटेल नें कहा की, आज व्यवसायिक परीक्षा मंडल (व्यापम) के द्वारा स्टाफ नर्स पद की ऑनलाइन परीक्षा आयोजित की गई है। यह परीक्षा जिला मुख्यालयों पर आयोजित ना होकर रीवा संभाग की सतना में परीक्षा केंद्र बनाया गया। श्री पटेल ने आगे कहा कि सीधी, सिंगरौली एवं रीवा जिले के परीक्षार्थी सतना पहुंच रहे थे। इस बस में लगभग सभी परीक्षार्थी थे, जो सतना परीक्षा देने जा रहे थे। शासन लापरवाही पूर्वक नीति नहीं बनाता तो आज की यह दुर्घटना घटित नहीं होती।


श्री पटेल ने कहा कि दूसरी ओर प्रशासन ने सीधी-रीवा-सिंगरौली राजमार्ग को पिछले 5 दिनों से बंद किया हुआ था, इसके चलते वैकल्पिक मार्ग नहर के रास्ते बस सतना की ओर जा रही थी। विधायक श्री पटेल ने मांग की है कि शासन ने मृतकों को 5-5 लाख रुपये देने की घोषणा की है, जो बहुत ही कम है । उन्होंने कहा कि मृतकों के परिवार के चिराग चले गए, इसकी पूर्ति तो हो नहीं सकती लेकिन सरकार को मृतक के परिजनों को 50-50 लाख रुपए एवं नौकरी देना चाहिए। साथ ही श्री पटेल ने मांग की है कि इस पूरे हादसे की निष्पक्ष जांच किसी भी न्यायिक जज से करवाना चाहिए।

No comments:

Post a comment

Latest Post

कांग्रेस में मतभेद बढ़े: सज्जन सिंह वर्मा ने अरुण यादव के गोडसे बाले बयान पर साधा निशाना।

पूर्व पीसीसी चीफ़ अरुण यादव पर पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा का पलटवार, कहा- मुद्दा उठाने वाले के क्षेत्र से दो MLA गोडसे की विचारधारा में शामिल। ...