Wednesday, 17 February 2021

सीधी बस हादसा: 32 सीटर बस को सिर्फ 75 किमी सफर की इजाजत, 138 किमी के रूट का परमिट कैसे मिला? अजय सिंह।



सीधी: सीधी बस हादसे में मरने वालों की संख्या अब 51 हो चुकी है। मंगलवार रात तक 47 शव मिले थे। बुधवार को 4 शव और मिले, जिसमें 5 महीने की बच्ची का शव रीवा में मिला है।


मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी आज सीधी पहुंचे और बस हादसे में मारे गये यात्रियों के परिजनों से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना दी। श्री चौहान ने कहा कि सभी पीड़ितों को हर संभव मदद दी जायेगी।


लेकिन अब इस हादसे नें शिवराज सरकार को कठघरे में खड़ा कर दिया है, कारण यह है की इस हादसे के पीछे नियमों को सरेआम ताक पर रखा गया। जिसको लेकर मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह द्वारा शिवराज सरकार पर कुछ गंभीर सवाल भी खड़े किये गये हैं।


अजय सिंह के सवाल।

  • सीधी हादसे का शिकार हुई 32 सीटर बस में 62 यात्री भर दिये गए थे। ओवर लोडिंग करने वाली बस पर किसी जिम्मेदार का ध्यान क्यों नहीं गया? ओवर लोडिंग मिलने पर परिवहन विभाग के अधिकारियों के खिलाफ FIR दर्ज कर कार्यवाही के आदेश हैं। इसके बावजूद किस अधिकारी ने ओवर लोडिंग की अनदेखी की?

  • सरकार ने 32 सीटर बसों को अधिकतम 75 किमी के रूट का परमिट देने का नियम बनाया है। सीधी हादसे का शिकार हुई बस भी इसी क्षमता की थी। सीधी से सतना की दूरी 138 किमी है। नियम के खिलाफ जाकर इस बस को सीधी से सतना का परमिट किसने दिया?


No comments:

Post a comment

Latest Post

दमोह उपचुनाव: कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन चुनाव जीते, भाजपा प्रत्याशी अपना ही बूथ हारे।

दमोह उपचुनाव: कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन चुनाव जीत चुकें हैं। मतगड़ना के 26वां राउंड खत्म होते ही मध्य प्रदेश के दमोह उपचुनाव की तस्वीर साफ...