Wednesday, 17 February 2021

सीधी बस हादसा: 32 सीटर बस को सिर्फ 75 किमी सफर की इजाजत, 138 किमी के रूट का परमिट कैसे मिला? अजय सिंह।



सीधी: सीधी बस हादसे में मरने वालों की संख्या अब 51 हो चुकी है। मंगलवार रात तक 47 शव मिले थे। बुधवार को 4 शव और मिले, जिसमें 5 महीने की बच्ची का शव रीवा में मिला है।


मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी आज सीधी पहुंचे और बस हादसे में मारे गये यात्रियों के परिजनों से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना दी। श्री चौहान ने कहा कि सभी पीड़ितों को हर संभव मदद दी जायेगी।


लेकिन अब इस हादसे नें शिवराज सरकार को कठघरे में खड़ा कर दिया है, कारण यह है की इस हादसे के पीछे नियमों को सरेआम ताक पर रखा गया। जिसको लेकर मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह द्वारा शिवराज सरकार पर कुछ गंभीर सवाल भी खड़े किये गये हैं।


अजय सिंह के सवाल।

  • सीधी हादसे का शिकार हुई 32 सीटर बस में 62 यात्री भर दिये गए थे। ओवर लोडिंग करने वाली बस पर किसी जिम्मेदार का ध्यान क्यों नहीं गया? ओवर लोडिंग मिलने पर परिवहन विभाग के अधिकारियों के खिलाफ FIR दर्ज कर कार्यवाही के आदेश हैं। इसके बावजूद किस अधिकारी ने ओवर लोडिंग की अनदेखी की?

  • सरकार ने 32 सीटर बसों को अधिकतम 75 किमी के रूट का परमिट देने का नियम बनाया है। सीधी हादसे का शिकार हुई बस भी इसी क्षमता की थी। सीधी से सतना की दूरी 138 किमी है। नियम के खिलाफ जाकर इस बस को सीधी से सतना का परमिट किसने दिया?


No comments:

Post a comment

Latest Post

कांग्रेस में मतभेद बढ़े: सज्जन सिंह वर्मा ने अरुण यादव के गोडसे बाले बयान पर साधा निशाना।

पूर्व पीसीसी चीफ़ अरुण यादव पर पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा का पलटवार, कहा- मुद्दा उठाने वाले के क्षेत्र से दो MLA गोडसे की विचारधारा में शामिल। ...