Monday, 25 January 2021

MP: 17 साल बाद विंध्य के किसी नेता को मिलेगा विधानसभा अध्यक्ष का पद, इन दो नामों की है चर्चा।



भोपाल: मध्य प्रदेश की 15 वीं विधानसभा का बजट सत्र 22 फरवरी से शुरू होगा। जिसे देखते हुये विधानसभा अध्यक्ष की कुर्सी को लेकर फिर से सरगर्मियां तेज हो गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत की विधानसभा अध्यक्ष पद को लेकर बात हुई है। आने वाले दिनों में इस पद के लिए नेता के नाम पर मुहर लगा दी जाएगी।


प्राप्त जानकारी के अनुसार, इस बार 17 साल बाद विंध्य के खाते में विधानसभा अध्यक्ष का पद आएगा। भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं रीवा के देवतलाव से विधायक गिरीश गौतम या सीधी के विधायक केदारनाथ शुक्ल, विधानसभा अध्यक्ष बन सकते हैं। गौरतलब है कि कांग्रेस की सरकार में विंध्य से श्रीनिवास तिवारी 24 दिसंबर 1993 से 11 दिसंबर 2003 तक मप्र के विधानसभा अध्यक्ष रहे थे।



मध्य प्रदेश की 15 वीं विधानसभा का बजट सत्र 22 फरवरी से शुरू होगा. राज्यपाल के अनुमोदन के बाद अधिसूचना जारी कर दी गई है। सत्र 33 दिन का होगा जो 26 मार्च तक चलेगा। बजट सत्र में कुल 23 बैठकें होंगी। सत्र की शुरुआत राज्यपाल के अभिभाषण  से होगी और पहले ही दिन स्पीकर और डिप्टी स्पीकर का चुनाव होगा। फिलहाल विधानसभा में प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा हैं। बजट सत्र में राज्य सरकार आगामी वित्तीय वर्ष 2021-2022 का बजट पेश करेगी। प्रदेश के वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा राज्य का बजट पेश करेंगे। विधानसभा सचिवालय में अशासकीय विधेयकों की सूचना 24 फरवरी तक और अशासकीय संकल्पों की सूचनाएं 11 फरवरी तक हासिल की जा सकती हैं। जबकि स्थगन प्रस्ताव,ध्यानाकर्षण, प्रस्ताव के नियम 267 के अधीन भी जाने वाली सूचनाएं विधान सभा सचिवालय में 16 फरवरी तक मिल सकेंगी।

No comments:

Post a comment

Latest Post

दमोह उपचुनाव: कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन चुनाव जीते, भाजपा प्रत्याशी अपना ही बूथ हारे।

दमोह उपचुनाव: कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन चुनाव जीत चुकें हैं। मतगड़ना के 26वां राउंड खत्म होते ही मध्य प्रदेश के दमोह उपचुनाव की तस्वीर साफ...