Tuesday, 29 December 2020

सांसद रीति पाठक ने किया रेलवे टनल निर्माण कार्य का अवलोकन, सीधी कलेक्टर भी रहे मौजूद।



  • जून 2021 तक टनल का कार्य पूरा होना संभावित।
  • मध्यप्रदेश में निर्मित सर्वाधिक लंबाई की है रेलवे टनल।

सीधी: सांसद रीती पाठक एवं कलेक्टर रवीन्द्र कुमार चौधरी द्वारा बघवार से गोविन्दगढ़ को जोड़ने वाली निर्माणाधीन रेलवे टनल का निरीक्षण अवलोकन किया गया। रीवा-सीधी नवीन रेल लाइन अंतर्गत निर्माणाधीन 3338 मीटर लंबी टनल मध्यप्रदेश के अंदर रेलवे की सबसे बड़ी टनल है। टनल की खुदाई का कार्य पूर्ण हो चुका है तथा उससे जुड़े हुए अन्य कार्य किए जा रहे हैं। टनल का कार्य जून 2021 तक पूर्ण होना प्रस्तावित है। टनल 7.9 मीटर ग 7.9 मीटर साइज की है।


इस अवसर पर सांसद श्रीमती पाठक ने कहा कि सीधी जिले के लोगों के रेल के सपने को पूरा करने के लिए बहुत बड़ी सौगात है। रेलवे टनल तथा चिलरी (भितरी) में सोननदी पर निर्माणाधीन रेलवे पुल इसमें एक महत्वपूर्ण कड़ी है जिनकी जून 2021 तक पूर्ण होना प्रस्तावित है। उन्होने कहा कि ललितपुर-सिंगरौली रेल परियोजना के पूर्ण होने से सीधी जिले के निवासियों को लाभ होगा तथा जिला विकास की नई ऊचाईयों को प्राप्त करेगा। उन्होने परियोजना के शीघ्र पूर्ण होने के लिए शुभकामनाएं दी हैं।


कलेक्टर श्री चौधरी द्वारा उपस्थित अधिकारियों को आपसी समन्वय के साथ रेलवे परियोजना पूर्ण करने हेतु कार्य करने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होने कहा कि किसी भी प्रकार की समस्या होने पर उनसे संपर्क करें। समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर निराकृत किया जायेगा।


इसके उपरान्त उनके द्वारा चिलरी (भितरी) में सोन नदी पर निर्माणाधीन रेलवे पुल का भी अवलोकन किया गया। सोननदी पर निर्माणाधीन लगभग 700 मीटर लंबा पुल परियोजना का महत्वपूर्ण पुल है जिसमें 45.7 मीटर के 15 स्पान हैं। पुल के बेड ब्लाक कास्टिंग का कार्य प्रारंभ है। रेलवे पुल का कार्य भी जून 2021 तक पूर्ण होना प्रस्तावित है।   


इस अवसर पर उपखण्ड अधिकारी चुरहट अभिषेक सिंह, रेलवे के डिप्टी सीई दीपक मुके, एक्सईएन ए.के. शर्मा सहित संबंधित विभागीय अधिकारी एवं संविदाकार उपस्थित रहें।

No comments:

Post a comment

Latest Post

हनुवंतिया जल महोत्सव: पैरा ग्लाइडिंग के दौरान बड़ा हादसा, दो लाेगों की मौत।

खंडवा: जिले के पर्यटन स्थल हनुवंतिया में जल महोत्सव के दौरान पैरा ग्लाइडिंग मोटर सैकड़ों फीट उंचाई से जमीन पर आ गिरा, जिसमे पैरामोटर्स को च...