Thursday, 5 November 2020

राजनीति से संन्यास को लेकर अजय सिंह का फिर से बड़ा बयान, कही ये बात।



सतना: मध्यप्रदेश विधानसभा की 28 सीटों पर उपचुनाव के लिये मतदान 3 नवंबर को संपन्न हो चुके हैं। इस उपचुनाव में अपनी किस्मत आजमा रहे उम्मीदवारों का भविष्य EVM में कैद हो चुका है, जिसका फ़ैसला 10 नवंबर को मतगणना के बाद होगा। लेकिन दोनों ही मुख्य पार्टियों कांग्रेस एवं भाजपा के दिग्गज अपनी अपनी पार्टी की जीत का दावा कर रहें हैं। चुनावी सभाओं में भी कांग्रेस एवं भाजपा के दिग्गज एवं स्टार प्रचारकों नें कई तरह की घोषणाएं एवं अपनी पार्टी की जीत के दावे किये। ऐसी ही एक बात पूर्व नेता प्रतिपक्ष एवं उपचुनाव में कांग्रेस के स्टार प्रचारक रहे अजय सिंह नें कही थी, जो राजनीतिक गलियारों में चर्चा का विषय बनी हुयी थी।


दरअसल, अजय सिंह नें ग्वालियर चंबल में उपचुनाव के प्रचार के दौरान मंच से कहा था की इस अंचल की सभी 16 सीटें कांग्रेस जीत रही है। साथ ही उन्होंनें कहा था की अगर भाजपा एवं सिंधिया को ग्वालियर एवं चंबल की 16 सीटों में से 1 भी सीट मिल गयी तो मैं राजनीति से संन्यास ले लूंगा।


अजय सिंह इस समय विंध्य के दौरे पर हैं, और उनके संन्यास को लेकर सतना में पत्रकारों द्वार पूछे गये सवाल पर उन्होनें कहा की, कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिए बहुत कुछ बोलना पड़ता है, लेकिन जरूरी नहीं वो पत्थर की लकीर हो। उन्होनें कहा की 10 तारीख तक इन्तजार करिये कांग्रेस मध्यप्रदेश में फिर से सरकार बनानें जा रही है।


साथ ही पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह से नें कहा की, भाजपा सरकार कुछ दिन की मेहमान है। दस तारीख को दोबारा कांग्रस की सरकार बनेगी। उन्होने कहा कि ये चुनाव जनता और भाजपा के बीच था। अजय सिंह नें एक बार फिर दोहराया की ग्वालियर- चम्बल की 16 सीटों मे भाजपा का खाता नहीं खुलेगा। ज्योतिरादित्य सिंधिया के राजनीतिक भविष्य पर पूछे गए सवाल के जवाब में अजय सिंह ने कहा कि उन्होंने अपने आप को कौआ के बाद अब कुछ और भी बताया है, जो मैं बोल भी नहीं सकता।

No comments:

Post a comment

Latest Post

दमोह उपचुनाव: कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन चुनाव जीते, भाजपा प्रत्याशी अपना ही बूथ हारे।

दमोह उपचुनाव: कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन चुनाव जीत चुकें हैं। मतगड़ना के 26वां राउंड खत्म होते ही मध्य प्रदेश के दमोह उपचुनाव की तस्वीर साफ...