Friday, 18 September 2020

भाजपा की पूर्व विधायक पारुल साहू कांग्रेस में शामिल, सुरखी विधानसभा से हो सकती हैं प्रत्याशी।


भोपाल: मध्यप्रदेश में होनें वाले आगामी विधानसभा उपचुनावों को देखते हुये दलबदल का सिलसिला जारी है। उपचुनाव की तारीखों क ऐलान से पहले भाजपा को बड़ा झटका लगा है। भाजपा की पूर्व विधायक पारुल साहू कांग्रेस में शामिल हो गई हैं। पारुल साहू को पूर्व सीएम कमलनाथ ने सदस्यता दिलाई है। इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बयान दिया कि पारुल के पिताजी मेरे पुराने साथी थे। पारुल की वापसी हुई है। पारुल साहू सागर के सुरखी विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस की प्रत्याशी हो सकती हैं।



दरअसल पिछले कुछ दिनों से पारुल साहू के कांग्रेस में जाने की अटकलें लगाईं जा रही थी। इस बीच गुरूवार देर रात पारुल साहू ने अपने समर्थकों के साथ पूर्व सीएम कमलनाथ से मुलाकात की थी। जिसके बाद से ये तय माना जा रहा था कि पारुल कांग्रेस का हाथ थाम सकती है।

भाजपा की पूर्व विधायक पारुल साहू ने 2013 के विधानसभा चुनाव मे कांग्रेस के गोविन्द राजपूत को पराजित किया था। जबकि पारुल ने 2013 के विधानसभा चुनाव के कुछ ही दिन पहले भाजपा की सदस्यता ग्रहण की थी।



हला की 2018 में भाजपा नें उनका टिकट काट दिया था। अब जब गोविंद सिंह राजपूत भाजपा में शामिल हो चुकें हैं और मंत्री हैं साथ ही सुरखी से भाजपा के उम्मीदवार होंगें, ऐसे में कांग्रेस नें पूर्व विधायक पारुल साहू को अपनें खेमें में लाकर एक बड़ा दांव खेला है। कांग्रेस के इस दांव ने सागर और सिंधिया के सियासी खेमे मे हलचल मचा दी है। 

No comments:

Post a comment

Latest Post

MP उपचुनाव: फिर विवादों में घिरी इमरती देवी, अपनी ही पार्टी के लिये कहा- "भाड़ में जाए पार्टी"।

MP उपचुनाव: मध्यप्रदेश में जैसे जैसे उपचुनाव की तारीख नजदीक आ रही, वैसे ही दोनों मुख्य पार्टियों की तरफ से राजनीतिक बयानबाज़ी तेज होती जा रह...