Monday, 31 August 2020

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का निधन, अजय सिंह नें कहा- श्री मुखर्जी का निधन मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति।


नई दिल्ली / भोपाल: पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का निधन हो गया है। वह 84 साल के थे। प्रणब मुखर्जी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। सोमवार सुबह ही प्रणब मुखर्जी के फेफड़ों में इंफेक्शन की पुष्टि हुई थी। फेफड़ों में इंफेक्शन के बाद से ही उनकी हालत बिगड़ती जा रही थी।



प्रणब मुखर्जी को 10 अगस्त को दिल्ली के आर्मी रिसर्च एंड रेफरल (आर एंड आर) हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था। इसी दिन ब्रेन से क्लॉटिंग हटाने के लिए इमरजेंसी में सर्जरी की गई थी। इसके बाद से उनकी हालत गंभीर बनी हुई थी। प्रणब ने 10 तारीख को ही खुद के कोरोना पॉजिटिव होने की बात भी कही थी।



पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह नें जताया दुख।
मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह नें  भारत रत्न, पूर्व राष्ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी निधन पर दुख व्यक्त करते हुये कहा- श्री प्रणब मुखर्जी देश को नई दिशा देने में सक्षम थे। उनका निधन मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति है। श्री सिंह ने श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने साथ ही विभिन्न पदों पर रहकर उन्होंने अपने दायित्वों का कुशलता योग्यता के साथ निर्वहन किया। भारतीय राजनेताओं में से वे एक ऐसे व्यक्तित्व थे जो देश को नई दिशा देने में सक्षम  थे। उन्होंने कहा कि पूज्य दाऊ सा. से उनकी मित्रता, सामीप्य और विशेष अनुराग रहा। मुझे सदैव उनका स्नेह मिला और वे हमारे पारिवारिक मुखिया की तरह थे। उनका चले जाना राष्ट्रीय क्षति के साथ ही मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति है जिसकी पूर्ति संभव नहीं है। परमात्मा दिवंगत आत्मा को अपने चरणों मे स्थान दे और शोकाकुल परिजनों को यह आघात सहने की सामर्थ्य प्रदान करे।


प्रणब मुखर्जी ने भारत के 13वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ ली थी।
प्रणब मुखर्जी ने जुलाई 2012 में भारत के 13वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ ली थी। वह 25 जुलाई 2017 तक इस पद पर रहे थे। प्रणब मुखर्जी को 26 जनवरी 2019 में भारत रत्न से सम्मानित किया गया था। प्रणब मुखर्जी ने कलकत्ता विश्वविद्यालय से इतिहास और राजनीति विज्ञान में स्नातकोत्तर के साथ साथ कानून की डिग्री हासिल की थी। वे एक वकील और कॉलेज प्राध्यापक भी रहे और उन्हें मानद डी.लिट उपाधि भी दी गई। मुखर्जी ने पहले एक कॉलेज प्राध्यापक के रूप में और बाद में एक पत्रकार के रूप में अपना कैरियर शुरू किया। 11 दिसम्बर 1935, को पश्चिम बंगाल के वीरभूम जिले में प्रणब मुखर्जी का जन्म हुआ था।



प्रणब मुखर्जी पहली बार 1969 में राज्यसभा पहुंचे।
भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रहे मुखर्जी का संसदीय करियर करीब पांच दशक पुराना है। वह पहली बार 1969 में राज्यसभा पहुंचे थे। तत्कालीन प्रधानमंत्री, इंदिरा गांधी ने इनकी योग्यता से प्रभावित होकर मात्र 35 वर्ष की अवस्था में, 1969 में कांग्रेस पार्टी की ओर से राज्य सभा का सदस्य बना दिया। उसके बाद वे, 1975, 1981, 1993 और 1999 में राज्यसभा के लिए फिर से निर्वाचित हुए।

Sunday, 30 August 2020

शिवराज के राज में गरीबों को बांटा जा रहा गधे, घोड़ों और भेड़ बकरियों के खाने वाला चावल: अजय सिंह।

  • जनता के स्वास्थ्य से खिलवाड़ बंद करें शिवराज: पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह।

सीधी: मप्र विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने शिवराज सरकार पर गंभीर आरोप लगते हुये कहा है कि मध्यप्रदेश में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत भोली भाली जनता को वह चावल दिया जा रहा है जो गधे घोड़ों, भेड़ बकरियों  और मुर्गियों को खिलाने लायक है। उन्होंने पूरे प्रकरण की सीबीआई जांच की मांग करते हुये दोषियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की है। सिंह ने कहा कि ऐसा लगता है कि शिवराज सरकार ने मध्यप्रदेश के जनता के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने का हक प्राप्त कर लिया है।

अजय सिंह ने कहा कि यह तथ्य उजागर करते हुये केंद्र ने मध्यप्रदेश सरकार को प्रदेश में इस चावल के वितरण पर तत्काल रोक लगाने के निर्देश देते हुये चावल सप्लाई करने वाली राइस मिलों को ब्लैक लिस्टेड करने के लिए लिखा है। लेकिन प्रदेश सरकार इस चावल को खपाने के लिए तीन सितंबर से राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कार्यक्रम  के अंतर्गत 37 लाख नये  हितग्राहियों को समारोह पूर्वक पात्रता पर्ची का वितरण करने जा रही है।

पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि कोरोना काल में जब फिजिकल डिस्टेन्स की बात करना चाहिए तब शिवराज जी समारोह कर पर्चियाँ  बांटने के निर्देश सभी कलेक्टरों को दे रहे हैं। शिवराज ने इसके लिए बाकायदा सहयोग की अपील जारी करते हुए सभी महापौरों, जिला और नगर पंचायत अध्यक्षों, जनपद पंचायत अध्यक्षों और पंच सरपंचों को पत्र भी भेजा है कि सभी हितग्राहियों को प्रति सदस्य एक रुपए प्रति किलो की दर से पाँच किलो खाद्यान्न दिया जाएगा। पत्र लिखकर उन्होंने पंचायत राज अधिनियम (73 एवं 74 वें संशोधन) का भी उल्लंघन भी किया है क्योंकि पाँच वर्ष का कार्यकाल पूरा होते ही सभी पदाधिकारियों का कार्यकाल स्वत: ही समाप्त हो गया है। ऐसा करके उन्होंने पंचायत राज अधिनियम का मखौल उड़ाया है। जो व्यक्ति पद पर नहीं हैं, उन्हें पदनाम से पत्र कैसे लिख सकते हैं।

अजय सिंह ने अखबारों में प्रकाशित समाचारों का भी हवाला दिया। उन्होंने कहा कि विगत 30 जुलाई से 2 अगस्त के बीच केंद्रीय उपभोक्ता मंत्रालय के डिप्टी कमिश्नर के नेतृत्व में मध्यप्रदेश में एक टीम आई थी। इस टीम ने मण्डला और बालाघाट में 31 खाद्यान्न डिपो और एक उचित मूल्य की दुकान का निरीक्षण कर चावल के 32 सेंपल एकत्र किए थे। इनकी जांच कृषि भवन स्थित सेंट्रल ग्रेन एनालिसिस प्रयोगशाला में की गई। जांच में पाया गया कि यह चावल मानव उपयोग के लिए उच्च गुणवत्ता का नहीं है और यह पूरी तरह अनफ़िट और फीड कैटेगरी का है।

सिंह ने कहा कि केंद्र में डिप्टी कमिश्नर श्री विश्वजीत हलधर ने प्रदेश सरकार को लिखा है कि चावल का सौ प्रतिशत स्टाक रिसायकिल्ड है और अत्यधिक खराब गुणवत्ता का है। इसे रखने के लिए उपयोग में लाये गए बैग्स भी दो तीन साल पुराने हैं। इसलिए बचे हुये स्टाक को तत्काल विथहोल्ड किया जाये।

अजय सिंह ने इस तथ्य पर भी आश्चर्य व्यक्त किया है कि प्रदेश में अचानक 37 लाख नये गरीब कहाँ से आ गए। यह तथ्य साबित करता है कि 14-15 साल की शिवराज सरकार में गरीबों संख्या लगातार बढ़ी है। गरीबी हटाने के उनके सारे कार्यक्रम फर्जी थे या   फिर चुनाव जीतने के लिए गरीबों की संख्या का आकलन फर्जी है।

Saturday, 29 August 2020

सीधी: 5 वर्षीय बच्चे की रिपोर्ट आयी कोरोना पॉजिटिव, 293 पहुंचा कुल आंकड़ा।


  • कुल संक्रमित 293, डिस्चार्ज 218, एक्टिव केस 73

सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.एल. मिश्रा के द्वारा जानकारी दी गई है कि आज दिनांक 29.08.2020 को रीवा मेडिकल कॉलेज वायरोलॉजी लैब से 303 की रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिनमें से कोई भी व्यक्ति कोरोना संक्रमित नहीं पाया गया है, वहीं सीधी ट्रू नॉट लैब से प्राप्त रिपोर्ट में एक 5 वर्षीय बच्चा कोरोना संक्रमित पाया गया है। यह पूर्व में संक्रमित पाए गए चिकित्सक के बेटे हैं। 



अब जिले में कुल 293 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। अब तक 218 व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है। अब जिले में कुल एक्टिव केस 73 हो गए हैं।

Friday, 28 August 2020

सीधी: जिले में मिले 12 नए कोरोना संक्रमित मरीज, 5 व्यक्तियों ने जीती कोरोना से जंग।

  • कुल संक्रमित 292
  • डिस्चार्ज 218
  • एक्टिव केस 72
  • मृत्यु 2

सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.एल. मिश्रा के द्वारा जानकारी दी गई है कि आज दिनांक 28.08.2020 को रीवा मेडिकल कॉलेज वायरोलॉजी लैब से 405 की रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिनमें से 9 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए हैं, वहीं सीधी ट्रू नॉट लैब से प्राप्त रिपोर्ट में 3 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।

स्वास्थ्य अधिकारी श्री मिश्रा नें बताया कि इनमें 4 व्यक्ति क्रमशः 3 वर्ष, 6 वर्ष , 24 वर्ष और 32 वर्ष करमई मझौली, 19 वर्षीय युवक भुईमाड़, 34 वर्षीय पुरुष रामपुर सिहावल, 44 वर्षीय पुरुष हिनौती राजगढ़,  26 वर्षीय युवक रामगढ़ सीधी, 45 वर्षीय पुरुष टीकट बरीगंवा, 30 वर्षीय आईडीबीआई बैंक का कर्मचारी केंद्रीय विद्यालय के पास वार्ड नं 10, उत्तर करौंदिया की पूर्व संक्रमित  की 6 वर्षीय बच्ची तथा 75 वर्षीय सोनवर्षा की महिला कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। सभी को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करने, कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग और कंटेन्मेंट एरिया बनाने की कार्यवाही की जा रही है। 

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिश्रा ने बताया कि कोरोना संक्रमण से 5 लोगों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है।  इन्हें होम आइसोलेशन में एक  सप्ताह के रहने के लिए समझाइश देते हुए आवश्यक दवाओं के सेवन करने के लिए दवा प्रदान की गई है तथा सभी आवश्यक सावधानियां रखने की सलाह दी गई है।

अब जिले में कुल 292 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। अब तक 218 व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है। अब जिले में कुल एक्टिव केस 72 हो गए हैं।

Thursday, 27 August 2020

सीधी: खाद की कालाबाजारी को लेकर, यूथ कांग्रेस, आई टी सेल एवं सद्भावना प्रकोष्ठ ने चुरहट एसडीएम को सौंपा ज्ञापन।


सीधी / चुरहट: यूथ कांग्रेस, आईटी- सोशल मीडिया सेल और सद्भावना प्रकोष्ठ ने, चुरहट में व्यापक पैमाने पर खाद की कालाबजारी होने पर एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। समूचे जिले में व्यापक पैमाने पर खाद की कालाबजारी हो रही है और सरकार का ध्यान उन क्षेत्रों में है जहां-जहां चुनाव होना है बाकी जगह सरकार ने किसानों एवं आम जानता को उनके हाल पर छोड़ दिया है।

किसान 266 रुपये की यूरिया 500 रूपये में लेने को मजबूर है। बिचौलियों को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से सरकारी गोदाम एवं समितियों से खाद गायब कर दी गई है। जिसकी वजह से निजी दुकानदार किसानों को खुलेआम लूट रहे हैं। सरकारी महकमे को जानकारी होने के बावजूद, अधिकारी ना तो खाद की कालाबजारी रोक पा रहे हैं और ना ही निजी दुकानों के खिलाफ कार्यवाही कर पा रहे हैं। इससे साफ जाहिर होता है कि खाद की कालाबजारी और किसानों के साथ लूट सरकार की सरपरस्ती में हो रही है।

यूथ कांग्रेस के कमलेंद्र सिंह डब्बू ने कहा की सरकार का ध्यान केवल उन क्षेत्रों में है जहां जहां चुनाव होना है। बांकी जगह सरकार ने किसानों एवं आम जानता को उसके हाल पर छोड़ दिया है।

आईटी एवं सोसल मीडिया सेल के जिलाध्यक्ष पंकज सिंह ने कहा कि सरकारी महकमे को जानकारी होने के बावजूद अधिकारी ना तो खाद की कालाबाजारी रोक पा रहे हैं और ना ही निजी दुकानों के खिलाफ कार्यवाही कर पा रहे है। इससे साफ जाहिर होता है कि खाद की कालाबाजारी और किसानों के साथ लूट सरकार की सरपरस्ती में हो रही हैं।

सद्भावना प्रकोष्ठ ब्लाक अध्यक्ष रामपुर नैकिन सलमान मंसूरी ने कहा- सरकार के गैर जिम्मेदाराना रवैये से बिचौलियों की चांदी हो गयी है और वो मनमाने दाम पर किसानों को खाद बेच रहे हैं। हताश-परेशान किसान महगी यूरिया खरीदने को मजबूर हैं।

उक्त अवसर पर यूथ कांग्रेस से कमलेंद्र सिंह डब्बू, पंकज सिंह चौहान जिला अध्यक्ष आईटी सेल एवं सोशल मीडिया, चेतन गुप्ता, कमेलश्वर सिंह, बसंत गुप्ता, सलमान मंसुरी सद्भावना प्रकोष्ठ ब्लाक अध्यक्ष, विजय सिंह विधानसभा कार्यकारी अध्यक्ष, तीरथ प्रसाद, राजीव सिंह प्रदेश सचिव आईटी एवं सोसल मीडिया सेल, भूपेंद्र सिंह बघेल आईटी सेल एबं सोशल मीडिया कार्यकारी अध्यक्ष, राबेन्द्र सिंह बघेल आईटी सेल एबं सोशल मीडिया उपाध्यक्ष, हीरालाल पटेल, शिवेन्द्र सिंह (भोले) आईटी सेल एबं सोशल मीडिया विधानसभा अध्यक्ष, मोनू पटेल, उदय सिंह, राहुल सिंह चौहान पूर्व आईटी सेल एवं सोशल मीडिया सीधी विधानसभा अध्यक्ष, कृष्ण प्रताप सिंह, अनुपम सिंह, विमलेश यादव, मुकेश सिंह, अभिमन्यु सिंह रामनरेश कुनबंशी, उमेश सिंह, देवांशु सिंह, आदर्श सिंह, मानस सिंह, दीपांकर विश्कर्मा, हरीश सिंह, जशवंत सिंह गोड, बबलू बैगा, भैया लाल पटेल, संजीत पटेल, चोटकीय पटेल, पिंकु साहू, समय लाल साहू, सुशीला पटेल, रामरतन साकेत, इंद्रपति यादव, रामाश्रय साहू, राजेश साहू, रघुवीर साकेत, रामायण पटेल, रघुनाथ साकेत, निखिल त्रिपाठी, इंद्रलाल पटेल, तिलकराज साहू एवं राजाराम पटेल उपस्थित रहे।

Wednesday, 26 August 2020

सीधी: राहत की खबर, जिले में 21 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग।


सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी. एल. मिश्रा द्वारा बताया गया कि कोरोना संक्रमण से 21 लोगों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है।  इन्हें होम आइसोलेशन में एक सप्ताह के रहने के लिए समझाइश देते हुए आवश्यक दवाओं के सेवन करने के लिए दवा प्रदान की गई है।

डिस्चार्ज हो जाने के बाद जिले में एक्टिव केसों की संख्या घटकर 67 हो गई है। यदि समय अनुकूल रहा और लोगों के द्वारा सावधानी अपनाई गई तो सकता है कुछ राहत मिल जाए। 

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए  मुंह पर मास्क लगाना, बार-बार साबुन से हाथ धोना और 2 गज की दूरी रखना आदि उपाय को आम नागरिक अपने व्यवहार में लाएं। हम इन उपायों का अपने दैनिक जीवन में उपयोग करते हैं तो हम न केवल स्वयं बल्कि अपने परिवार और समाज में कोरोना के संक्रमण पर रोक लगा सकते हैं।

Tuesday, 25 August 2020

सीधी: जिले में मिले 2 नए कोरोना संक्रमित मरीज, 270 पहुंचा कुल संक्रमितों का आंकड़ा।

  • जिले में मिले 2 नए कोरोना संक्रमित।
  •  कुल संक्रमित 270
  • डिस्चार्ज 180
  • एक्टिव केस 88
  • मृत्यु 2

सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.एल. मिश्रा के द्वारा जानकारी दी गई है कि आज दिनांक 25.08.2020 को रीवा मेडिकल कॉलेज वायरोलॉजी लैब से 236 की रिपोर्ट प्राप्त हुई है सभी रिपोर्ट निगेटिव हैं, वहीं सीधी ट्रू नॉट लैब से प्राप्त रिपोर्ट में 2 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।



जिनमें से एक 20 वर्षीय युवक बड़खरो पड़खुरी सीधी तथा अन्य 48 वर्षीय महिला सिरौला मझौली की निवासी है। सभी को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करने की कार्यवाही की जा रही है। 



अब जिले में कुल 270 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। अब तक 180 व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है। अब जिले में कुल एक्टिव केस 88 हो गए हैं। आज प्राप्त पॉजिटिव केसों की विस्तृत जानकारी एवं कांटेक्ट हिस्ट्री तैयार की जा रही है जिसकी जानकारी प्राप्त होने के उपरांत उपलब्ध कराई जा सकेगी।

Monday, 24 August 2020

बेहतर पुलिसिंग से प्रदेश में धाक जमानें पर, रॉयल राजपूत संगठन द्वारा सीधी पुलिस को किया गया सम्मानित।

  • सीधी पुलिस नें मध्यप्रदेश में परचम फहरा कर जिले का नाम रोशन किया - कमलेंद्र सिंह "डब्बू"।
  • बेहतर पुलिसिंग में सीधी जिले का नाम पूरे मध्यप्रदेश में उज्ज्वल करने पर रॉयल राजपूत संगठन सीधी द्वारा एस.पी पंकज कुमावत, कोतवाली थाने के थाना प्रभारी राजेश पाण्डेय एवं जमोडी़ थाना प्रभारी अभिषेक सिंह परिहार को किया गया सम्मानित।

सीधी: रॉयल राजपूत संगठन के जिला अध्यक्ष कमलेंद्र सिंह डब्बू द्वारा जिले का नाम रोशन करने वाले पुलिस अधिकारी, सीधी एस.पी. पंकज कुमावत, थाना प्रभारी जामोड़ी अभिषेक सिंह परिहार एवं थाना प्रभारी कोतवाली राजेश पांडेय का साल, श्रीफल भेट कर, माला पहना कर एवं मिठाई खिलाकर किया गया सम्मानित।



कमलेंद्र सिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश में परचम फहराने वाले अधिकारियों ने जिले को गौरवान्वित किया है। उन्होनें आगे कहा की, जिले का नाम रोशन कर पूरे प्रदेश की रैकिंग में थाना जमोड़ी एक नंबर एवं थाना कोतवाली तीसरे नंबर पर आने पर जिले में खुशी की लहर है। आम नागरिकों में खुशी है कि सीधी जिला एक नंबर पर है। श्री कमलेंद्र सिंह द्वारा जिले की पुलिस को धन्यवाद ज्ञापित किया गया।



रॉयल राजपूत संगठन द्वारा आयोजित सम्मान समारोह में रॉयल राजपूत संगठन के जिला अध्यक्ष कमलेंद्र सिंह "डब्बू", नारायण सिंह चौहान, लवकुश देव सिंह चौहान (पंकज), नितिन सिंह चौहान, रवि सिंह चौहान, प्रदीप सिंह चौहान, विकाश सिंह परिहार, शुभम सिंह चौहान, अनुपम सिंह (रिशू), अभय सिंह बघेल, अशोक सिंह चौहान, राम एवं सत्यम उपस्थित रहे।

सीधी: नहीं थम रहा कोरोना का कहर, मिले 16 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज।

  • कोरोना संक्रमित 261, स्वस्थ हुए  173 और 86 एक्टिव।


सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ० बी०एल० मिश्रा द्वारा कोविड-19 कि अद्यतन जानकारी देते हुए बताया गया कि  रविवार सुबह से सोमवार शाम तक 16 पॉजिटिव पाए गए हैं । 5 शहरी क्षेत्र और 11 ग्रामीण क्षेत्र से है। इस प्रकार से कुल पॉजिटिव केस 261 हो गए हैं।

वर्तमान में 86 एक्टिव केस के रूप में भर्ती कर उपचारित किए जा रहे है। सोमवार को 6 लोगों को  डिस्चार्ज किया गया है, इनको शामिल करते हुए 173 लोग कोरोना से जंग जीत कर घर जा चुके हैं।

Saturday, 22 August 2020

ग्वालियर में सिंधिया के गले में दिखा 'कांग्रेसी' दुपट्टा, कांग्रेस हुई हमलावर।


ग्वालियर: आगामी विधानसभा उपचुनावों को देखते हुये मध्यप्रदेश में राजनीतिक सरगर्मियां बढ़ गयी है। आज ग्वालियर में भाजपा के सदस्यता अभियान के मंच से ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कमलनाथ एवं पिछली कांग्रेस सरकार पर जमकर निशाना साधा। लेकिन इस दौरान उनके गले पर पड़ा दुपट्टा भी चर्चा का विषय बन गया।

कार्यक्रम में जहां सभी भाजपा कार्यकर्ताओं के गले पर बीजेपी का टुपट्टा था तो वहीं सिंधिया के गले पर वो दुपट्टा था जिसे वो कांग्रेस के कार्यकर्ता रहते पहनते थे। हालांकि जब सिंधिया अपना वक्तव्य देने पहुंचे तो उन्होंने उसी दुपट्टे के ऊपर बीजेपी वाला दुपट्टा डाल भी लिया।

सिंधिया के गले में दो-दो दुपट्टा देखकर कांग्रेस उन पर हमलावर हो गई। कांग्रेस नेता नरेंद्र सलूजा ने कहा कि श्री अंत जी, गले में दो दुपट्टे नहीं चलेंगे। अगर भाजपा में गए हैं तो हिम्मत दिखाकर ट्विटर प्रोफाइल पर भाजपा नेता भी लिख लो और गले से कांग्रेस का दुपट्टा उतार दो।

सीधी: शिवराज सरकार ने डाला जनता की जेब में डाका- पंकज सिंह।


सीधी: कांग्रेस आई टी एवं सोसल मीडिया सेल के जिला अध्यक्ष पंकज सिंह ने कहा कि बिजली के बिल से मध्यप्रदेश में किसान मजदूर एवं आम नागरिक की हालत दयनीय है। इतने भारी भरकम बिजली के बिल के बोझ से दबा हुआ किसान कैसे जी पाएगा।



यूरिया का संकट है कि समूचे विंध्य में बना हुआ है। किसान यूरिया ना मिलने से त्रस्त है ही और ऊपर से ये बिजली के बिल की दोहरी मार को किसान नहीं झेल पा रहा है। बात करे पिछली कांग्रेस सरकार के समय 100 रू. बिजली का बिल आता था और आज है कि भाजपा सरकार के समय बिजली के बिल में करेंट मार रहा है।



पंकज सिंह ने कहा कि शिवराज सिंह ने भरे मंच से कहा था कि, अगर बिजली का बिल ज्यादा आए तो बिल फाड़ कर फेक देना। अब मैं पूछना चाहता हूं कि, क्या हुआ मामा जी क्या ये भी आपका बयान एक जुमला था । शिवराज सरकार ये ना भूले की अभी 27 विधानसभा में उपचुनाव होना है। भाजपा सरकार को सबक सिखाने के लिए किसान मजदूर एवं आम नागरिक ने कमर कस ली है, और एक भ्रष्ट  सरकार को उखाड़ कर फेक देगी एवं सबक सिखायेगी और एक ईमानदार, किसान हितैसी कांग्रेस सरकार बनाएगी।

नाट्य विद्यालय के निष्कासित छात्रों को वापस लेकर, बचा हुआ कोर्स पूरा कराया जाए: अजय सिंह।


  • नाट्य विद्यालय के निष्कासित छात्रों को वापस लेकर बचा हुआ चार महीने का कोर्स पूरा कराया जाए।
  • प्रबन्धन का अडियल रवैया निंदनीय, मुख्यमंत्री हस्तक्षेप करें: अजय सिंह।

भोपाल: मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने भोपाल स्थित मध्यप्रदेश नाट्य विद्यालय के प्रबन्धन की कड़ी निंदा करते हुए कहा है कि कोरोना के कारण अधूरे रह गये चार महीने के कोर्स को पूरा करने के लिए अनुरोध करने वाले छात्रों की न्यायसंगत मांग को मानने के बजाय उन्हें निष्कासित किया जाना सर्वथा अनुचित और निंदनीय है।



श्री सिंह ने कहा कि नाट्य विधा दूसरे स्कूली पाठ्यक्रम की तरह नहीं है, जिसमें छात्रों को जनरल प्रमोशन देकर अगली  कक्षा में भेज दिया जाए। नाट्य विद्यालय का तो कोर्स ही एक साल का होता है, जिसे 15 जुलाई 2020 को समाप्त होना था लेकिन कोरोना की वजह से 16 मार्च को ही क्लासेज बंद कर दी गईं।



सभी छात्र इस उम्मीद में थे कि हमारी चार महीने की जो क्लासेज हैं, वो बाद में लगेंगी। लेकिन अचानक यह बताया गया कि इस साल के छात्रों  को जनरल प्रमोशन दिया जा रहा है। नाट्य विद्यालय द्वारा वर्तमान सत्र के छात्रों को जनरल प्रमोशन देकर नए सत्र के लिए आवेदन आमंत्रित किये जाने से इन छात्रों में भारी निराशा और असंतोष है क्योंकि उन्हें  नाट्य विधा के एक साल के कोर्स में से चार महीने के प्रशिक्षण से उन्हें वंचित किया जा रहा है और उनका भविष्य अंधकारमय हो गया है।



श्री सिंह ने कहा कि मध्य प्रदेश के कला जगत की पहचान पूरी दुनिया में है और इस प्रदेश में  हमेशा कलाकारों को सम्मान मिला है। कला को प्रोत्साहित करने के लिए कई कला पुरस्कार मध्यप्रदेश में आरंभ हुए लेकिन नाट्य कलाकारों के साथ अड़ियल  रवैया अपनाते हुए उनके हितों पर कुठाराघात किया जाना गंभीर चिंता की बात है।



पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से इस मामले में तत्काल कार्यवाही  करने की मांग करते हुए कहा है कि वे कलाकारों के प्रति संवेदनशील रवैया अपनाते हुए निष्कासित छात्रों की वापसी और बचे हुए चार महीने के कोर्स को पूरा कराने के लिए हस्तक्षेप करें।

सीधी: कोरोना संक्रमण से महिला की मौत, जिले में मिले 4 नए कोरोना संक्रमित मरीज।

  • कोरोना संक्रमित 245, स्वस्थ हुए  167 और 76 एक्टिव, 1 मृत्यु।

सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ० बी०एल० मिश्रा द्वारा कोविड-19 की अद्यतन जानकारी देते हुए बताया गया कि कल देर शाम को ट्रू नॉट लैब से 54 लोगों की प्राप्त रिपोर्ट में 4 पॉजिटिव पाए गए हैं ।

ट्रू नाट लैब से देर रात को एक पॉजिटिव रिपोर्ट आई जिसकी मृत्यु रिपोर्ट आने के पूर्व हो चुकी थी। यह 90 वर्ष से अधिक उम्र की महिला थी इनका निवास चकदहि रोड वार्ड नं 6 में है इनके परिजनों द्वारा गुरुवार को गंभीर अवस्था में जिला अस्पताल में भर्ती किया गया था। पूर्व से ही मधुमेह एवं किडनी रोग से ग्रस्त थी और इनका इलाज चल रहा था।

क्योंकि कल सुबह ही प्राप्त रिपोर्ट में इनका पोता कोरोना पॉजिटिव पाया गया था इसलिए इनके घर के सभी सदस्यों का टेस्ट कराया जाना ही था इसलिए  चिकित्सालय में भर्ती होने पर तुरंत सैंपल टेस्ट के लिए भेजा गया। इस प्रकार से कुल पॉजिटिव केस 245 हो गए हैं और उक्त मृत्यु उपरांत अब जिले 2 मृत्यु हो चुकी हैं। वर्तमान में 76 एक्टिव केस के रूप में भर्ती कर उपचारित किए जा रहे है। 167 लोग कोरोना से जंग जीत कर घर जा चुके है।

Friday, 21 August 2020

सीधी: जिले में मिला एक नया कोरोना पॉजिटिव, 14 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग।


सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी. एल.  मिश्रा द्वारा बताया गया कि जिले के अंतर्गत रीवा मेडिकल कॉलेज वायरोलॉजी लैब में भेजे गए सैंपलो में से 209 लोगों की रिपोर्ट प्राप्त हुई है सभी नेगेटिव पाए गए हैं। सीधी शहरी क्षेत्र में एक केस ट्रू नाट लैब सीधी से प्राप्त रिपोर्ट में पॉजिटिव पाया गया है, इसी के साथ कुल 241 कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं।

लेकिन इसी के साथ अच्छी बात यह है कि कल 26 और आज 14 इन 2 दिनों में 40 लोगों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किये गये है। डिस्चार्ज हो जाने के बाद जिले में एक्टिव केसों की संख्या घटकर 73 हो गई है। यदि समय अनुकूल रहा और लोगों के द्वारा सावधानी अपनाई गई तो सकता है कुछ राहत मिल जाए।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए  मुंह पर मास्क लगाना, बार-बार साबुन से हाथ धोना और 2 गज की दूरी रखना आदि उपाय को आम नागरिक अपने व्यवहार में लाएं। हम इन उपायों का अपने दैनिक जीवन में उपयोग करते हैं तो हम न केवल स्वयं बल्कि अपने परिवार और समाज में कोरोना के संक्रमण पर रोक लगा सकते हैं।

Coronavirus Updates: चुरहट में डेंटल क्लीनिक का कर्मचारी मिला कोरोना पॉजिटिव।


सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.बी.एल. मिश्रा द्वारा जानकारी दी गई कि  चुरहट  के एक निजी डेंटल क्लीनिक में कार्य करने वाला कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। जिसे आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर उपचार किया जा रहा है। वहीं उसके परिवार के सदस्यों को क्वारंटीन कर दिया गया है।

अत: चुरहट क्षेत्र अंतर्गत सभी जन सामान्य को सूचित किया जाता है कि जो लोग उक्त कर्मचारी के सीधे संपर्क में आए हैं उन्हें कोरोना संक्रमण होने का खतरा है, इसलिए ऐसे लोग स्वयं स्वास्थ्य विभाग के कंट्रोल रूम नंबर 07822 - 297521 में सूचना देने का कष्ट करें, ताकि समय से रोकथाम हेतु उचित कार्रवाई कराई जा सके।

Thursday, 20 August 2020

नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ को बधाई देने पहुंचे, मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा।


भोपाल: मध्यप्रदेश के गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने, नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ से सौजन्य भेंट की। बुके भेंट करते हुए गृहमंत्री ने पूर्व सीएम कमलनाथ को नेता प्रतिपक्ष चुने जाने पर बधाई दी। वे कुछ देर कमलनाथ के साथ रुके और रवाना हो गए।



बता दें की, मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ अब मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष बनाए गये हैं। प्रदेश कांग्रेस कमेटी की तरफ से विधानसभा के प्रमुख सचिव को इस संबंध में बुधवार को पत्र भेजा गया था।



गौरतलब है कि पिछ्ले छह महीने से नेता प्रतिपक्ष का पद खाली पड़ा था। प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने इसकी पुष्टि की थी। शर्मा ने कहा कि कमल नाथ को नेता प्रतिपक्ष के बतौर प्रोटोकाल दिये जाने का भी आदेश जारी कर दिया गया है।

सुखद खबर: सीधी में 26 कोरोना मरीज स्वस्थ होकर लौटे घर, अब तक 153 व्यक्तियों ने जीती कोरोना से जंग।

  • जिले में एक साथ 26 लोगों ने कोरोना को हराया।
  • एक्टिव केस बचे 87

सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ० बी०एल० मिश्रा द्वारा जानकारी दी गई कि कोविड-19 के अंतर्गत कराए जा रहे सैंपलो में से कल देर शाम को आई रिपोर्ट में 3 लोग पॉजिटिव पाए गए थे जिनको शामिल करते हुए कुल संक्रमितो की संख्या 240 हो गई है।



साथ समूचे जिले के लिए खुशखबरी है कि पूर्व से उपचार रत 26 कोरोना पॉजिटिव मरीज जिनकी उपचार अवधि पूर्ण हो चुकी थी एवं रिसेंपलिंग रिपोर्ट नेगेटिव आने पर सभी लोगों को 1 सप्ताह के लिए अपने घर में होम आइसोलेशन का पालन करते हुए रहने कि समझाइश दे कर घर भेजा दिया गया। इसी के साथ अभी तक 153 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज कर दिए गए हैं। तथा 87 कोरोना संक्रमितो को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर एक्टिव केस के रूप में उपचारित किया जा रहा हैं।



सीएमएचओ डॉ मिश्रा ने यह भी जानकारी दी कि विभाग अंतर्गत समस्त खंड चिकित्सा अधिकारी, समस्त सेक्टर मेडिकल ऑफिसर, समस्त नोडल अधिकारी राष्ट्रीय कार्यक्रम मलेरिया, टीवी, कुष्ठ, एड्स, अंधत्व, परिवार कल्याण एवं जिला अस्पताल के सिविल सर्जन को निर्देशित किया गया है कि अपने अधीनस्थ समस्त कर्मचारियो को  हाइड्रोक्सी क्लोरो कीन 400 एम.जी. का सेवन कराए। जिले में इस दवा का भंडारण पर्याप्त किया गया है प्रत्येक कर्मचारी को अपने मार्गदर्शन में 9 गोली नियमानुसार सेवन कराया जाना है ताकि स्वास्थ्य सेवा में कार्यरत कर्मचारियों को कोविड-19 बचाया जा सके।

Wednesday, 19 August 2020

कमलनाथ फिर दोहरी भूमिका में, प्रदेश अध्यक्ष के साथ विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष भी होंगे।


भोपाल: 15 महीनें तक पिछली कांग्रेस सरकार में मुख्यमंत्री के साथ साथ मध्यप्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष का पद संभालनें वाले कमलनाथ अब मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष भी होंगें। प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने विधानसभा को इसकी जानकारी दे दी है। कांग्रेस के संगठन मंत्री चंद्रप्रभाष शेखर द्वारा प्रमुख सचिव, मप्र विधानसभा को इस सम्बन्ध में पत्र भेजा गया है। पिछ्ले छह महीने से नेता प्रतिपक्ष का पद खाली था। अब तक विधानसभा के रिकॉर्ड में कोई भी नेता प्रतिपक्ष नहीं था।



मध्यप्रदेश विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष की दौड़ में कांग्रेस के कई विधायकों का नाम प्रमुखता से चल रहा था। इसमें वरिष्ठ विधायक डाॅ. गोविंद सिंह, सज्जन सिंह वर्मा, बालाबच्चन, एनपी प्रजापति जैसे दिग्गज नेताओं के नाम थे। लेकिन इनमें से किसी भी नाम पर मुहर नही लग सकी और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को ही नेता प्रतिपक्ष का दायित्व सौंप दिया गया।कांग्रेस संगठन की ओर से आज विधानसभा सचिवालय को पत्र भेज कर कमलनाथ को नेता प्रतिपक्ष का दायित्व देने की जानकारी दी है।



अब ऐसे में मध्यप्रदेश के राजनैतिक गलियारे में यह चर्चा जोर पकड़ रही है की, क्या कमलनाथ के अलावा मध्यप्रदेश कांग्रेस में काबिल नेताओं का अकाल पड़ गया हैं। आखिर कमलनाथ कब तक दोहरी भूमिका में रहेंगे। पहले वो सीएम के साथ साथ मध्यप्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष का पद सम्भाल रहे थे और अब वो अध्यक्ष के साथ साथ नेता प्रतिपक्ष की भी भूमिका में होंगें। अब यह देखना दिलचस्प होगा की संगठन और विधायक दल की कमान एक ही व्यक्ति के पास रहते हुये मध्यप्रदेश की सत्ता से बेदखल हो चुकी कांग्रेस का आगामी विधानसभा उपचुनावों में भविष्य क्या होगा।



सीधी: नहीं थम रहा कोरोना का कहर, मिले 6 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज।

  • कुल 237 संक्रमित, 127 स्वस्थ होकर हुए डिस्चार्ज और 109 एक्टिव केस भर्ती।

सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ० बी०एल० मिश्रा द्वारा जानकारी दी गई कि आज 18 अगस्त को शाम तक प्राप्त रिपोर्ट में कुल 6 केस पॉजिटिव पाए गए हैं। जिनका विवरण इस प्रकार है, ग्राम सिरौली मझौली से 53 वर्षीय महिला, ग्राम कर्माई मझौली से 40 वर्षीय पुरुष, ग्राम जोगी पहरी मझौली से 42 वर्षीय पुरुष, मझौली सीधी से 40 वर्षीय व्यक्ति, ग्राम मधुरी कोठार सीधी से 25 वर्षीय युवक तथा जनपद पंचायत सीधी से एक व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं ।



अब तक जिले में 237 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं, 5 होम आइसोलेशन में भर्ती मरीजों की देर से प्राप्त रिसैंप्लिंग रिपोर्ट नेगेटिव प्राप्त होने के बाद कल डिस्चार्ज किया गया था जो कल डिस्चार्ज में शामिल नहीं थे। उन्हें आज शामिल करते हुए कुल 127 लोगो को स्वस्थ होने के उपरांत घर भेजा जा चुका हैं एवं वर्तमान में 109 एक्टिव केस भर्ती होकर उपचार रत हैं।

Tuesday, 18 August 2020

सीधी में फिर हुआ कोरोना का ब्लास्ट: मिले 14 नये कोरोना पॉजिटिव मरीज।


  • जिले में मिले 14 नए कोरोना पॉजिटिव और  11 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग।
  • कुल 231 संक्रमित, 122 स्वस्थ होकर हुए डिस्चार्ज और 108 एक्टिव केस भर्ती।

सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ० बी०एल० मिश्रा द्वारा जानकारी दी गई कि विगत दिनांक 17 अगस्त की शाम से लेकर 18 अगस्त की शाम तक प्राप्त रिपोर्ट में कुल 14 केस पॉजिटिव पाए गए हैं।



विवरण इस प्रकार है- अमहिया रामपुर नैकिन से 16 वर्षीय बालक, सुभाष नगर सीधी से 43 वर्षीय व्यक्ति, तिलक टॉकीज वार्ड क्रमांक 18 से 29 वर्षीय व्यक्ति, पी.एच.सी. हनुमानगढ़ से 36 वर्षीय युवक, हाउसिंग बोर्ड वार्ड नंबर 8 से 22 वर्षीय युवक, शक्ति पैलेस सीधी के पास से 4 लोग 58 वर्षीय पुरुष, 52 वर्षीय महिला, 28 वर्षीय नौजवान, 26 वर्षीय युवती, बरम बाबा सेमरिया सीधी से 34 वर्षीय पुरुष, पहाड़ी अमिलिया सिहावल से क्रमशः 28 एवं 25 वर्षीय 2 युवक, नौढि़या शिवाजी नगर सीधी से 27 वर्षीय महिला एवं 38 वर्षीय पुरुष पाए गए हैं।



इसके साथ ही पूर्व से भर्ती 11 लोगों की सैंपलिंग रिपोर्ट नेगेटिव प्राप्त होने पर एवं उपचार की अवधि पूर्ण होने उपरांत उन्हें होम आइसोलेशन की समझाइश देते हुए डिस्चार्ज कर घर के लिए रवाना किया गया। अब तक जिले में 231 लोग कोरोनावायरस से संक्रमित पाए गए हैं जिसमें से 122 लोग स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं एवं वर्तमान में 108 एक्टिव केस भर्ती होकर उपचार रत हैं।

विंध्य में खाद की कालाबाजारी से किसान त्रस्त, सरकार चुनाव में व्यस्त: अजय सिंह।


भोपाल: मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने समूचे विंध्य में खाद की व्यापक पैमाने पर कालाबाजारी का आरोप लगाते हुए कहा है कि सरकार का ध्यान केवल उन क्षेत्रों में है जहाँ जहाँ चुनाव होने है, बाकी जगह सरकार ने किसानों एवं आम जनता को उसके हाल पर छोड़ दिया है।



पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने दावा करते हुए कहा है की, विंध्य के किसानों की हिस्से की खाद उन क्षेत्रों में भेज दी गई है जहाँ चुनाव होने हैं। सरकार के इस गैर जिम्मेदाराना रवैये से बिचौलियों की चांदी हो गयी है और वो मनमाने दाम पर किसानों को खाद बेंच रहे हैं। हताश और परेशान किसान 266 रुपये की यूरिया 500 रुपये में लेने के लिए मजबूर है।



श्री अजय सिंह ने आरोप लगाते हुए कहा कि बिचौलियों को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से सरकारी गोदाम एवं समितियों से खाद गायब कर दी गई है जिसकी वजह से निजी दुकानदार किसानों को खुलेआम लूट रहे हैं। श्री अजय सिंह ने आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि सरकारी महकमे को जानकारी होने के बाबजूद अधिकारी न तो खाद की कालाबाजारी रोक पा रहे हैं और न ही निजी दुकानदारों के खिलाफ कोई कार्यवाही कर पा रहे हैं। इससे साफ जाहिर होता है कि खाद की कालाबाजारी और किसानों के साथ लूट सरकार की सरपरस्ती में हो रही है।



श्री अजय सिंह ने प्रदेश के मुख्यमंत्री से अपील करते हुए कहा कि आप केवल उन क्षेत्रों के मुख्यमंत्री नहीं हैं जहाँ चुनाव होने हैं। षडयंत्रों के दम पर सत्ता हंथिया लेने का यह मतलब नही की गरीब किसानों की जेब में खुलेआम डकैती डाली जाय। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को चाहिए को वो किसानों की पीड़ा को समझें और खुलेआम हो रही खाद की कालाबाजारी पर रोक लगाते हुए किसानों को सरकारी दर पर खाद उपलब्ध कराएं।

Monday, 17 August 2020

सीधी: कोरोना का कहर जारी, मिले 7 नये कोरोना पॉजिटिव केस।


सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.एल. मिश्रा ने बताया कि आज दिनांक 17 अगस्त 2020 को 7 नए कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इसी के साथ कुल पॉजिटिव केस 217, एक्टिव केस 105 और  डिस्चार्ज 111 व्यक्ति किए गए हैं।



सी.एम.एच.ओ. डॉ. मिश्रा ने यह भी बताया कि जिन लोगों का सैंपल लिया गया है वह अपनी रिपोर्ट जिला मलेरिया कार्यालय सीधी में कार्यालयीन समय में मलेरिया अधिकारी के द्वारा नियुक्त किए गए कर्मचारी, अधिकारी से संपर्क करके प्राप्त कर सकते हैं।

Sunday, 16 August 2020

सुखद खबर: सीधी में 17 कोरोना मरीज स्वस्थ होकर लौटे घर, अब तक 111 व्यक्तियों ने जीती कोरोना से जंग।


  • जिले में 17 और कोरोना पॉजिटिव कोरोना संक्रमण से मुक्त होकर लौटे अपने घर।
  • अब तक कुल 111 व्यक्तियों ने जीती कोरोना से जंग।
  • 17 स्थान कन्टेनमेंट एरिया से मुक्त।

सीधी: जिले में कोविड-19 से संक्रमित व्यक्तियों का निरंतर स्वस्थ होने का क्रम जारी है। रविवार को 17 और कोरोना पॉजिटिव मरीज कोरोना संक्रमण से मुक्त होकर अपने घर लौट गए हैं। उक्त व्यक्तियों ने जाते समय जिला प्रशासन एवं कोविड केयर सेंटर के ड्यूटी डॉक्टर, नर्सिंग स्टाफ एवं सफाई कर्मियों को सहयोग के लिए धन्यवाद दिया है।

जिले में कलेक्टर रवींद्र कुमार चौधरी  के निर्देशन में कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम हेतु विशेष रणनीति के तहत सतत रूप से कार्य किया जा रहा है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी. एल. मिश्रा ने बताया कि जिले में रविवार  को 17 कोरोना पॉजिटिव मरीज स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। चिकित्सकों द्वारा मरीजों को सोशल डिस्टेंसिग का पालन करने और सभी परिचितों को कोविड जैसे लक्षण दिखाई देने या बीमार होने पर तुरंत डॉक्टर से सम्पर्क करने की सलाह दी गई।

डिस्चार्ज हो रहे मरीजों को अस्पताल की ओर से व्यक्तिगत सुरक्षा किट दी गई तथा उन्हें होम क्वारेंटाईन में रहने की सलाह दी गई। इस प्रकार अभी तक जिले में कुल 111 पॉजिटिव मरीज कोरोना मुक्त हुये तथा 98 एक्टिव मरीजों का उपचार किया जा रहा है, सभी का स्वास्थ्य स्थिर है।

इसके साथ ही 2 अगस्त से जिले के 17 कन्टेनमेंट एरिया से नए कोरोना संक्रमित मरीज नहीं मिलने के कारण कलेक्टर रवींद्र कुमार चौधरी ने आदेश जारी कर कन्टेनमेंट एरिया से मुक्त घोषित कर दिया है।

Saturday, 15 August 2020

सीधी: कोरोना का कहर जारी, जिले में मिले 3 नये कोरोना पॉजिटिव केस।

  • जिले में मिले 3 नए कोरोना संक्रमित।
  •  कुल संक्रमित 210
  • डिस्चार्ज 94
  • एक्टिव केस 115

सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.एल. मिश्रा के द्वारा जानकारी दी गई है कि आज दिनांक 15.08.2020 को रीवा मेडिकल कॉलेज वायरोलॉजी लैब से प्राप्त रिपोर्ट में 322 में से 3 व्यक्तियों की कोविड-19 पॉजिटिव की रिपोर्ट प्राप्त हुई है।

जो क्रमशः चुरहट वार्ड क्रमांक 11, पनवार सेंगरान एवं पतुलखी उत्तर टोला के निवासी हैं। सभी को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करने की कार्यवाही की जा रही है, अब जिले में कुल 210 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं।

अब तक 94 व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है। अब जिले में कुल एक्टिव केस 115 हो गए हैं। आज प्राप्त पॉजिटिव केसों की विस्तृत जानकारी एवं कांटेक्ट हिस्ट्री तैयार की जा रही है जिसकी जानकारी प्राप्त होने के उपरांत उपलब्ध कराई जा सकेगी।

पूर्व क्रिकेट कप्तान एमएस धोनी के बाद, सुरेश रैना ने भी लिया अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास।


Sports: पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी के रिटायरमेंट की घोषणा के ठीक बाद सुरेश रैना ने भी संन्यास लेने की घोषणा कर दी है। रैना ने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक पोस्ट कर इसकी जानकारी दी है। अपनी इंस्टाग्राम पोस्ट में सुरेश रैना ने धोनी के साथ अपनी एक तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा, 'आपके साथ खेलना एक बहुत खूबसूरत अनुभव था माही। मैं गर्व के साथ आपके इस सफर में साथी बनने जा रहा हूं। शुक्रिया इंडिया। जय हिंद!'



दरअसल भारतीय क्रिकेट इतिहास के दिग्गज क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी ने शनिवार शाम को 7 बजे इंटरनैशनल क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की थी। सुरेश रैना अपनी इंस्टाग्राम पोस्ट में उनके इसी संन्यास के सफर में साथी बनने की बात कह रहे हैं।



रैना को टेस्ट मैच में तो ज्यादा मौका नहीं मिला। मगर उन्होंने वनडे इंटरनैशनल क्रिकेट में खूब जलवा बिखेरा। टेस्ट में रैना ने 19 मैचों में 26.18 की औसत से 768 रन बनाए। वनडे में रैना ने 226 मैच खेले और 35.31 की औसत से 5,615 रन बनाए। वनडे में रैना ने 5 शतक और 36 अर्धशतक लगाए। फर्स्ट क्लास क्रिकेट में भी रैना का शानदार ट्रैक रेकॉर्ड रहा है। 109 फर्स्ट क्लास मैचों में उन्होंने 42.15 की औसत से 6871 रन बनाए। 109 मैचों में उन्होंने 14 शतक और 45 अर्धशतक भी लगाए।

भारत के पूर्व क्रिकेट कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा।


Sports: भारत के पूर्व क्रिकेट कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने शनिवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया। अपनी कप्तानी और मैच को अंजाम तक ले जाने की कला के साथ महानतम क्रिकेटरों की जमात में खुद को शामिल करने वाले धोनी के इस फैसले के साथ ही क्रिकेट के एक युग का भी अंत हो गया।

धोनी ने अपने इंस्टाग्राम पर लिखा ,‘‘ अब तक आपके प्यार और सहयोग के लिये धन्यवाद । शाम सात बजकर 29 मिनट से मुझे रिटायर्ड समझिये।’’ इससे एक दिन पहले ही वह यूएई में होने वाली इंडियन प्रीमियर लीग के लिये चेन्नई सुपर किंग्स टीम से जुड़ने चेन्नई पहुंचे थे। धोनी ने भारत के लिये आखिरी मैच न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व कप सेमीफाइनल खेला था।

क्रिकेट के इतिहास में महानतम खिलाड़ियों में अपना नाम दर्ज करा चुके महेंद्र सिंह धोनी नें भारत के लिये उन्होंने 350 वनडे, 90 टेस्ट और 98 टी20 मैच खेले। कैरियर के आखिरी चरण में वह खराब फार्म से जूझते रहे जिससे उनके भविष्य को लेकर अटकलें लगाई जाती रही।

उन्होंने वनडे क्रिकेट में पांचवें से सातवें नंबर के बीच में बल्लेबाजी के बावजूद 50 से अधिक की औसत से 10773 रन बनाये । टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने 38.09 की औसत से 4876 रन बनाये और भारत को 27 से ज्यादा जीत दिलाई। आंकड़ों से हालांकि धोनी के कैरियर ग्राफ को नहीं आंका जा सकता । धोनी की कप्तानी, मैच के हालात को भांपने की क्षमता और विकेट के पीछे जबर्दस्त चुस्ती ने पूरी दुनिया के क्रिकेट प्रेमियों को दीवाना बना दिया था ।

Thursday, 13 August 2020

सीधी: बुधवार को मिले 41 कोरोना पॉजिटिव मरीजों का, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने दिया विवरण।

  • सहयोग से सुरक्षा अभियान में किया नोडल अधिकारियों को तैनात।

सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.एल. मिश्रा द्वारा बताया गया कि बुधवार को 41 के पॉजिटिव पाए गए थे, जिनका विवरण इस प्रकार है। सुलभ कांप्लेक्स बस स्टैंड सीधी से 1, पुलिस चौकी पौड़ी कुसमी सीधी से 1, चौहान टोला बस स्टैंड सीधी से 1, अर्जुन नगर सीधी से 1, पड़ाइनिया सीधी  गैस गोदाम से 1, पुलिस लाइन सीधी से 1 महिला 1 पुरुष, नूतन कॉलोनी सीधी से 1 महिला, टमसार कुसमी से 4, करहिया चौफाल सीधी से 1, सराफा बाजार सीधी से 1, ग्राम बिठौली सिहावल सीधी से 1, पथरौला चौक सीधी से 1, मझौली सीधी से 4, कमर्जी सीधी से 1, थनहवा टोला सीधी से 1, थाना कोतवाली सीधी से 1, बरम बाबा सीधी से 1, जिला अस्पताल से 1, सोनबरसा पनवार सीधी से 1, शास्त्री नगर सीधी से 3, आजाद नगर सीधी से 12, इस प्रकार से कुल 41 केस पॉजिटिव पाए गए थे।



इसके साथ ही 2 लोगों को कल बुधवार को और  2 लोगों को आज डिस्चार्ज होने के साथ ही कुल 94 डिस्चार्ज किए जा चुके हैं।



मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिश्रा ने बताया कि समूचे प्रदेश सहित जिले में 15 अगस्त को सहयोग से सुरक्षा अभियान का शुभारंभ किया जा रहा है। जिला स्तर पर इस अभियान के जिला नोडल अधिकारी डॉ. आई. जे. गुप्ता डी.एच.ओ. -1 को बनाया गया है एवं ब्लॉक स्तर पर सभी खंड चिकित्सा अधिकारियों को इस अभियान का नोडल नियुक्त किया गया है।



सेक्टर स्तर पर समस्त सेक्टर मेडिकल ऑफिसर इस अभियान के नोडल अधिकारी रहेंगे, उप स्वास्थ्य केंद्र से ग्राम स्तर तक इस अभियान की गतिविधियों को आयोजित करने के लिए वर्तमान में हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के एस.एच.सी. में पदस्थ किए गए समस्त सी.एच.ओ. नोडल अधिकारी के रूप में कार्य करेंगे एवं मुख्यमंत्री महोदय के निर्देशानुसार जारी की गई अपील में अधिक से अधिक लोगों के हस्ताक्षर तथा शपथ का वाचन कराएंगे उसके उपरांत सोशल मीडिया विभागीय फेसबुक, ट्विटर पेज पर हस्ताक्षरित अपील को अपलोड करेंगे एवं जिले में रिपोर्टिंग का कार्य करेंगे।

Latest Post

ललित सुरजन का निधन पत्रकारिता के लिए बड़ी क्षति: अजय सिंह।

ललित सुरजन में मायाराम सुरजन के पूरे गुण विद्यमान थे: अजय सिंह। भोपाल: मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि मै...