Thursday, 9 July 2020

UP पुलिस के एनकाउंटर से बचने के लिए प्रायोजित सरेंडर, MP भाजपा के एक वरिष्ठ नेता के सौजन्य से हुआ संभव: दिग्विजय सिंह।


भोपाल: कानपुर पुलिस के आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर फरार हुआ मुख्य आरोपी विकास दुबे गुरुवार को मध्य प्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तार कर लिया गया। विकास दुबे एक हफ्ते से पुलिस से छिपता फिर रहा था। गुरुवार को वो उज्जैन के प्रसिद्ध महाकाल मंदिर पहुंचा था। यहां पर उसे एक गार्ड ने पहचान लिया, जिसके बाद उज्जैन पुलिस को जानकारी दी गयी और पुलिस ने मौके पर पहुंचकर विकास दुबे को गिरफ्तार कर लिया। लेकिन अब विकास दुबे की गिरफ्तारी को लेकर कई सवाल उठ रहे हैं। 

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राज्यसभा सांसद दिग्विजिय सिंह ने गिरफ्तारी की खबर आने के बाद एक ट्वीट करते हुए इसपर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने इसमें मध्य प्रदेश बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता पर गंभीर आरोप भी लगाए हैं। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, 'यह तो उत्तरप्रदेश पुलिस के एनकाउंटर से बचने के लिए प्रायोजित सरेंडर लग रहा है। मेरी सूचना है कि मध्यप्रदेश भाजपा के एक वरिष्ठ नेता के सौजन्य से यह संभव हुआ है। जय महाकाल.'। दिग्विजय सिंह ने बिना नाम लिए एमपी बीजेपी के किसी वरिष्ठ नेता का नाम मामले में खींचा है।


गौरतलब है की, विकास दुबे गुरुवार की सुबह महाकाल के उज्जैन मंदिर पहुंचा था, जहां लखनलाल यादव नाम के एक गार्ड ने उसे पहचान लिया, जिसके चलते उसकी गिरफ्तारी हो सकी। फिलहाल दुबे उज्जैन पुलिस की गिरफ्त में है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि उन्होंने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से बात है की है और एमपी पुलिस दुबे को यूपी पुलिस को सौंप देगी।

No comments:

Post a comment

Latest Post

सीधी में विकराल हुआ कोरोना, जिले में मिले 41 नए कोरोना संक्रमित मरीज।

जिले में मिले 41 नए कोरोना संक्रमित।  कुल संक्रमित 207 डिस्चार्ज 88 एक्टिव केस 118 सीधी: एक बार कोरोना मुक्त हो चुके मध्य...