Monday, 13 July 2020

सीधी- सिंगरौली राष्ट्रीय राजमार्ग खस्ताहाल: कांग्रेस का अनोखा प्रदर्शन, सड़क के गड्ढों में लगाया धान का रोपा।


  • भाजपा के भ्रष्टाचार की वजह से लहूलुहान है सीधी सिंगरौली राष्ट्रीय राजमार्ग: डॉ महेंद्र सिंह चौहान।
  • भाजपा सरकार कर रही है सीधी के साथ सौतेला व्यवहार: रुद्र प्रताप सिंह बाबा।
  • सांसद की बात नहीं सुन रही है सरकार तो सड़क पर उतरे सांसद: लाल चंद गुप्ता
  • जर्जर सड़क की वजह से आए दिन हो रही सड़क दुर्घटना में हो चुकी है कई मौतें: ज्ञान सिंह।

सीधी: सीधी- सिंगरौली राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच- 39  दुर्दशा को लेकर, जिला कांग्रेस कमेटी सीधी द्वारा मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ महामंत्री एवं सीधी सिंगरौली के सदस्यता प्रभारी डॉ महेंद्र सिंह चौहान के नेतृत्व में विशाल धरना प्रदर्शन कर सीधी- सिंगरौली राष्ट्रीय राजमार्ग का तत्काल निर्माण कराए जाने एवं जनहित के अन्य कई बिंदुओं से संबंधित ज्ञापन जिला प्रशासन के माध्यम से केंद्र सरकार एवं प्रदेश सरकार को सौंपा गया। इस अवसर पर डॉ महेंद्र सिंह चौहान एवं जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रुद्र प्रताप सिंह "बाबा" के नेतृत्व में कांग्रेस जनों ने सड़क में बने खाई नुमा गड्ढों में धान का रोपा लगाकर अपना विरोध प्रदर्शन किया। जिला प्रशासन की ओर से एसडीएम सिहावल ने मौके पर पहुंचकर ज्ञापन लिया तथा उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया। धरना प्रदर्शन में कांग्रेस कार्यकर्ताओं एवं पार्टी पदाधिकारियों ने मास्क लगाकर एवं आवश्यक 2 गज की दूरी बनाए रखा तथा प्रशासन द्वारा जारी कोविड-19 के बचाव से संबंधित गाइडलाइन का पालन किया।

कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ महामंत्री डॉ महेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री एवं मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ एवं पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल के निर्देश पर मुझे धरना प्रदर्शन प्रतिनिधित्व करने का अवसर मिला है। उन्होंने कहा कि जब से भाजपा की सरकार आई है, सीधी सिंगरौली राष्ट्रीय राजमार्ग पूरी तरह से ध्वस्त हो गया है। समझ में नहीं आता की सड़क में गड्ढे हैं की गड्ढों में ही सड़क है। उन्होंने कहा कि कमलनाथ जब केंद्र में सड़क परिवहन मंत्री थे तब उन्होंने मध्यप्रदेश विधानसभा के तत्कालीन नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह के आग्रह पर इस रोड को स्वीकृत कर 250 करोड़ रुपए की राशि जारी कर दी थी, जिसका टेंडर भी हो चुका था। लेकिन भारतीय जनता पार्टी की सरकार आने के बाद भाजपा नेताओं के भ्रष्टाचार एवं कमीशन के चलते ठेकेदार ने काम रोक दिया और अंततः सड़क निर्माण का काम लटक गया।

उन्होंने आगे कहा कि, भारतीय जनता पार्टी के भ्रष्टाचार निकम्मेपन के कारण सीधी सिंगरौली राष्ट्रीय राजमार्ग आज पूरी तरह से लहूलुहान हो गया है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 की वजह से आज सांकेतिक आंदोलन किया जा रहा है । यदि शीघ्र ही सीधी सिंगरौली नेशनल हाईवे का निर्माण कार्य प्रारंभ नहीं किया गया तो सीधी एवं सिंगरौली जिला कांग्रेस कमेटियों के संयुक्त तत्वावधान में विशाल जंगी प्रदर्शन किया जाएगा। जिसके लिए प्रदेश एवं केंद्र की सरकार को अभी से मैं आगाह कर रहा हूं।

आंदोलन को संबोधित करते हुए जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रुद्र प्रताप सिंह "बाबा" ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार सीधी जिले के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। जानबूझकर सीधी के लोगों को प्रताड़ित एवं अपमानित करने के लिए सीधी का विकास भाजपा द्वारा रोका जा रहा है। उन्होंने कहा कि किसान विरोधी भाजपा सरकार इस वर्ष लघु एवं सीमांत किसानों को जो निशुल्क बीज वितरण किया जाता था उस पर भी रोक लगा दी है । किसान खाद बीज  के लिए भटक रहे हैं। बिजली और डीजल का दाम बढ़ाकर भाजपा सरकार अपने किसान विरोधी मानसिकता का परिचय दे रही है।

मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष लाल चंद गुप्ता ने कहा कि, जब भी कांग्रेस पार्टी सीधी सिंगरौली राष्ट्रीय मार्ग के लिए आंदोलन प्रदर्शन करती है तब सांसद रीती पाठक चिट्ठी लेकर केंद्रीय मंत्रियों के पास पहुंच कर फोटो खिंचवाती हैं और लोगों को गुमराह करती हैं कि शीघ्र ही सड़क का निर्माण कार्य चालू होने वाला है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार किसी गंभीर दुर्घटना का इंतजार कर रही है इसलिए रोड नहीं बनवा रही है। उन्होंने कहा कि यदि सांसद की बात केंद्र एवं प्रदेश की सरकार नहीं सुनती है तो, सांसद को जनहित में सड़क पर उतर कर जनता की लड़ाई लड़नी चाहिए।

धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री ज्ञान सिंह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के इस धरना प्रदर्शन से उठी आवाज विधानसभा और लोकसभा तक गूंजेगी। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के कुशासन एवं भ्रष्टाचार के कारण जनता में हाहाकार मचा है। भारतीय जनता पार्टी के नेता अवैध धंधों में लिप्त होकर अपनी तिजोरी भर रहे हैं। उन्हें जनता की कोई चिंता नहीं है। उन्होंने कहा कि तत्कालीन केंद्रीय परिवहन मंत्री कमलनाथ ने जब इस रोड को  स्वीकृति दी तब से यदि सही तरीके से काम हुआ होता तो 2016 तक में सीधी सिंगरौली राष्ट्रीय राजमार्ग बन जाता । लेकिन केंद्र सरकार बदल जाने के बाद यह सड़क भाजपा नेताओं के भ्रष्टाचार की बल चढ़ गई। उन्होंने कहा कि इस सड़क की वजह से कई लोगों की मौतें हो गई इसके बाद भी भाजपा सरकार के कान में जूं नहीं रेंग रही है।

No comments:

Post a comment

Latest Post

प्रवीण पाठक का हमला, कहा- एक राजघराने ने ग्वालियर को पूरे विश्व में शर्मसार कर दिया।

MP उपचुनाव : मध्यप्रदेश में 28 सीटों पर हो रहे उप चुनाव में गद्दारी और खुद्दारी का मुद्दा जोरों पर है। इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस लगातार भा...