Saturday, 27 June 2020

MP विधानसभा: कमलनाथ होंगे नेता प्रतिपक्ष, कांग्रेस विधानसभा उपाध्यक्ष की भी कर रही मांग।


भोपाल: मध्यप्रदेश में एक तरफ जहां आगामी विधानसभा उपचुनावों को लेकर दोनों ही मुख्य पार्टियां भाजपा एवं कांग्रेस रणनीति बनानें में जुटी है, तो वहीं दूसरी ओर मध्यप्रदेश विधानसभा के मानसून सत्र के लिये भी हलचल तेज हो गयी है। बता दें की मध्यप्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र 20 जुलाई से शुरू होनें जा रहा है। मानसून सत्र पांच दिनों का होगा। शिवराज सिंह चौहान सरकार के गठन के बाद अभी भी विधानसभा अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं नेता प्रतिपक्ष का पद खाली है। 



सत्र शुरू होने से पहले विधानसभा अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के पद को लेकर अटकलों का दौर जारी है। लेकिन इसी बीच विपक्ष की तरफ से नेता प्रतिपक्ष के चेहरे को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है। विधानसभा में कांग्रेस की तरफ से नेता प्रतिपक्ष की जिम्मेदारी पूर्व सीएम कमलनाथ ही संभालेंगे।



पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने विपक्ष की तरफ से नेता प्रतिपक्ष के नाम का खुलासा करते हुए कहा है कि विधानसभा मेें पूर्व सीएम कमलनाथ ही नेता प्रतिपक्ष होंगे। उन्होंने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि कांग्रेस का चेहरा कमलनाथ है और वही नेता प्रतिपक्ष भी होंगे। इसके साथ ही शर्मा ने विधानसभा में विधानसभा उपाध्यक्ष पद की भी मांग की है। उन्होंने कहा कि भाजपा को विधानसभा उपाध्यक्ष पद कांग्रेस को देना चाहिए।



गौरतलब है की, इससे पहले भी कमलनाथ कांग्रेस सरकार के समय मुख्यमंत्री एवं पार्टी अध्यक्ष की दोहरी भूमिका में थे। उसी तरह प्रदेश अध्यक्ष के साथ नेता प्रतिपक्ष की भूमिका में भी रहेंगे। आप को बता दें की कांग्रेस अपनें यहां एक व्यक्ति एक पद की बात करती है, लेकिन मध्यप्रदेश कांग्रेस के लिये शायद यह नियम लागू नही होता। पिछली 15 महीनों की कांग्रेस सरकार में भी कमलनाथ सरकार और संगठन के मुखिया बनें रहे थे, 15 महीनों तक नया अध्यक्ष नही बना सके थे। कभी लोकसभा चुनाव का बहाना तो कभी कुछ और बहाना देकर समय निकालते गये। बाद में कांग्रेस की 15 महीनों की सरकार का अंत हो गया।



अब कांग्रेस एक बार फिर उसी ढर्रे पर चलनें का मन बना ली है, जहां विधानसभा के अंदर और बाहर दोनों का नेतृत्व कमलनाथ के ही हाँथों में रहेगा, अब यह देखना दिलचस्प होगा की आनें वाले उपचुनावों में इसका असर पड़ता है।

No comments:

Post a comment

Latest Post

सीधी: शासकीय चिकित्सकों के प्राइवेट प्रेक्टिस पर रोक, आदेश जारी।

सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सीधी द्वारा आदेश जारी कर जिलान्तर्गत क्षेत्र की समस्त शासकीय अस्पतालों में पदस्थ समस्त विशेषज्ञ/...