Tuesday, 23 June 2020

Coronavirus Updates: बाबा रामदेव की कोरोना दवा के विज्ञापन पर आयुष मंत्रालय ने लगाई रोक।


Coronavirus Updates: भारत के साथ साथ पूरे विश्व में कोरोना का संकट अभी भी बरकरार है। कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। ऐसे में पूरा विश्व कोरोना को मात देनें वाली दवा की खोज में लगा है। इसी बीच आज मंगलवार को योग गुरु रामदेव ने कोरोना के खिलाफ कारगर दवाई बनाने का दावा करते हुए 'कोरोनिल दवा' लॉन्च कर दी। योग गुरु का कहना है कि उनकी दवाई 'कोरोनिल' से सात दिन के अंदर 100 फीसदी रोगी रिकवर हो गए। 'कोरोनिल दवा' का सौ फीसदी रिकवरी रेट है और शून्य फीसदी डेथ रेट है। अब बाबा रामदेव के इस दावे को लेकर विवाद खड़ा हो गया है, क्योकी भारत सरकार के अंतर्गत आने वाला आयुष मंत्रालय योग गुरु के दावे पर विश्वास नहीं रखता।



क्या है मामला।
बाबा रामदेव के पतंजलि की तरफ से मंगलवार को दावा किया गया कि उन्होंने कोरोना से निजात दिलाने वाली एक दवा की खोज कर ली है। वहीं आयुष मंत्रालय ने इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की खबर के आधार पर इस मामले को संज्ञान में लिया है।मंत्रालय का कहना है कि कंपनी की तरफ से जो दावा किया गया है, उसको लेकर मंत्रालय के पास कोई जानकारी नहीं पहुंची है। मंत्रालय ने कंपनी को इस संबंध में सूचना देते हुए कहा है कि इस तरह का प्रचार करना कि इस दवाई से कोरोना का 100 प्रतिशत इलाज होता है, ड्रग्स एंड मैजिक रेमेडीज (आपत्तिजनक विज्ञापन) कानून 1954 का उल्लंघन है।



पतंजलि से कहा गया है कि वह नमूने का आकार, स्थान, अस्पताल जहां अध्ययन किया गया और आचार समिति की मंजूरी के बारे में विस्तृत जानकारी दे। आयुष मंत्रालय ने पतंजलि से जल्द से जल्द उस दवा का नाम और उसके घटक बताने को कहा है जिसका दावा कोविड उपचार के लिए किया जा रहा है। साथ ही कंपनी की तरफ से दवाई के विज्ञापन पर रोक लगाने को भी कहा गया है।

No comments:

Post a comment

Latest Post

इतिहास में पहली बार किसी प्रदेश में लोभ और महत्वाकांक्षा के कारण, थोक के भाव थोपे गए उपचुनाव: अजय।

भोपाल: पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि इतिहास में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में यदि कहीं उपचुनाव हो रहे हैं तो वह है - मध्यप्रदेश...