Wednesday, 3 June 2020

रीवा: पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ला ने पहले सोनू सूद से मांगी मदद, अब कहा- मैं तो उन्हें क्रॉस चेक कर रहा था।


रीवा: मध्‍यप्रदेश के रीवा से भाजपा विधायक एवं पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ला, विंध्य के प्रवासी श्रमिकों के लिए अभिनेता सोनू सूद से मदद मांगने को लेकर आज दिन भर चर्चा में रहे। कांग्रेस नें उनपर जमकर हमला बोला। कांग्रेस का कहना था की, प्रदेश और देश में भाजपा की सरकार है लेकिन भाजपा विधायक को ही अपनी सरकारों पर भरोसा नही है। और वो अभिनेता सोनू सूद से मदद मांग रहें हैं। अब इसको लेकर पूर्व मंत्री नें सफाई देते हुये अजब बयान दिया है। पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ला नें कहा-  मदद के बहाने क्रॉस चैक हो गया की वाकई सोनू सूद लोगों की मदद कर रहे हैं। अब यकीन हो गया कि सच में वह लोगों की मदद के लिए तत्पर हैं।



पूर्व मंत्री ने कहा कि अभिनेता सोनू सूद ने ट्वीटर पर मैसेज मिलते ही इतनी जल्दी रिस्पांस दिया। एक तरह से क्रॉस चैक भी हो गया कि वह वाकई लोगों की मदद कर रहे हैं। हम तो भोपाल और रीवा में बैठे हैं। यहां काम कर रहे हैं। सवाल यकीन का नहीं है, जब मदद मांगते हैं तभी यकीन होता है कि हो रही है या नहीं। जब तक आप मिलकर बात नहीं कर लेंगे तब तक आप को संतुष्टि नहीं होगी। वास्तव में समाजसेवी सोनू सूद सिर्फ मुंबई ही नहीं बल्कि कई और लोग पूरे देश में मोर्चा संभाले हुए हैं। गरीबों को भोजन कराने के साथ दवाइयों और कपड़ों का इंतजाम कर रहे हैं। पूरे देश में एक तरफ सरकार है और दूसरी तरफ समाजसेवी संगठन मोर्चा संभाले हुए हैं और इसी वजह से स्थितियां नियंत्रण में हैं।



पूर्व मंत्री राजेन्द्र शुक्ला ने कहा कि मुझे समझ नहीं आ रहा है कि कांग्रेस के लोगों को क्यों परेशानी हो रही है। मध्य प्रदेश सरकार ने पांच लाख से ज्यादा प्रवासी मजदूरों को प्रदेश में लाने का काम किया है। मजदूरों को 45 दिनों में श्रमिक स्पेशल ट्रेन से सरकार घर वापिस लायी है। जबकि 1 लाख 17 हज़ार मजदूरों को वापस रीवा लाने में मदद की है। इसके लिए मैं सीएम शिवराज सिंह चौहान को धन्यवाद देता हूं।



100 से डेढ़ सौ की संख्या में मजदूर मुम्बई में फंसे हुए हैं। 150 लोगों को लाने के लिए ट्रेन का इंतज़ाम नहीं हो सकता, क्योंकि उसके लिए कम से कम 1200 लोग होने चाहिए। 1200 सौ से ज्यादा होते तो फिर भी ट्रेन चल पाती। दूसरा ऑप्शन यह था कि भोपाल से बस भेजी जाएं। अगर भोपाल से बस भेजते तो इसमें भी 2 दिन खराब हो जाते। सोनू सूद काफी सक्रियता से समाज सेवा का काम कर रहे हैं और बसों के माध्यम से बेसहारा और गरीब लोगों की मदद कर रहे हैं। उनको उनके घरों तक पहुंचा रहे हैं। रीवा के कुछ लोगों ने भी हमको कहा कि आप सोनू सूद से मदद मांगे तो जल्द से जल्द इंतजाम हो जाएगा। अपने क्षेत्र के लोगों के लिए किसी से भी मदद मांगना कोई बुराई थोड़ी है। कोरोना महामारी में किसी से भी कहा जा सकता है कि अगर संभव हो तो आप हमारी मदद कर दीजिए।

No comments:

Post a comment

Latest Post

प्रवीण पाठक का हमला, कहा- एक राजघराने ने ग्वालियर को पूरे विश्व में शर्मसार कर दिया।

MP उपचुनाव : मध्यप्रदेश में 28 सीटों पर हो रहे उप चुनाव में गद्दारी और खुद्दारी का मुद्दा जोरों पर है। इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस लगातार भा...