Sunday, 21 June 2020

कोरोना पॉजिटिव भाजपा विधायक की कॉन्टैक्ट हिस्ट्री: पांच विधायकों सहित पूर्व मंत्री पारस जैन के यहां किया था लंच।


भोपाल: देश के साथ साथ मध्यप्रदेश में भी कोरोना का संकट बरकरार है। मध्यप्रदेश के कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी के बाद भाजपा विधायक ओमप्रकाश सकलेजा भी कोरोना पॉजिटिव पाये गये थे। उनके साथ उनकी पत्नी भी कोरोना पॉजिटिव है। लेकिन अब सबसे बड़ी समस्या कोरोना पॉजिटिव भाजपा विधायक के कॉन्टैक्ट हिस्ट्री को लेकर है। कोरोना पॉजिटिव विधायक नें 19 जून को राज्यसभा के लिये मतदान भी किया था, इस दौरान उनके सम्पर्क में कई और विधायक भी आये थे। साथ ही राज्यसभा चुनाव के पहले कोरोना पॉजिटिव विधायक, भाजपा के विधायक दल की बैठक में भी शामिल हुये थे। जहां उन्हें बिना मास्क लगाये बैठे हुये देखा गया था।

अब कोरोना पॉजिटिव भाजपा विधायक की एक नयी कॉन्टैक्ट हिस्ट्री सामनें आयी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, विधायक सकलेचा राज्यसभा चुनाव के दो दिन पहले पूर्व मंत्री पारस जैन के घर खाना खाने भी पहुंचे थे। उनके साथ भाजपा के पांच विधायक भी शामिल थे। सकलेचा की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पूर्व मंत्री समेत पांचों विधायकों में संक्रमण का खतरा बढ़ गया है।

गौरतलब है की, शनिवार की सुबह सकलेचा दंपती की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आते ही पूर्व मंत्री जैन और पांचों विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया मंदसौर, देवीलाल धाकड़ गरोठ, अनिरुद्ध मारू मनासा, दिलीप सिंह परिहार नीमच और दिलीप सिंह मकवाना (रतलाम ग्रामीण) भी तनाव में आ गए। पांचों विधायक,उनके ड्राइवर व गनमैन सहित 18 लोगों को होम क्वारंटाइन किया गया है।

इसके साथ ही राज्यसभा चुनाव होने के कारण सकलेचा, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बीजे पांडा से भी काफी देर तक निकट बैठकर बात करते रहे। इस दौरान वह भाजपा के कई नेताओं के संपर्क में आए। विधायक दल की बैठक में भी सकलेचा बिना मास्क लगाए बैठे थे। बताया जाता है कि सभी विधायकों और उनके स्टाफ को डॉक्टरों ने होम क्वारंटाइन रहने की सलाह दी है। वही विधानसभा सचिवालय ने राज्यसभा चुनाव में मतदान के फुटेज निकालने के आदेश दिए हैं, ताकी पता लगाया जा सके सकलेचा किस किस के संपर्क में आए थे।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, विधायक सकलेचा के जावद (नीमच) में इनके घर के पास एक महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद विधायक अपनी पत्नी के साथ फार्म हाउस में रहने चले गए थे। फार्म हाउस में रहने के दौरान ये लोगों से मिलते रहे और कई कंटेनमेंट एरिया में भी गए। इसके बाद 16 जून को भोपाल आ गए। अब आशंका है की इस दौरान ही वे संक्रमित हुये।

No comments:

Post a comment

Latest Post

MP उपचुनाव: कमलनाथ का स्टार प्रचारक का दर्जा छिना, जानिए आगे क्या होगा।

भोपाल: मध्यप्रदेश में 28 सीटों पर होनें वाले उपचुनावों को लेकर  चुनाव आयोग नें मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर बड़ी कार्यवाही की ह...