Thursday, 4 June 2020

अमिलिया थाना प्रभारी रहे दीपक बघेला का निलंबन किया गया बहाल, दो दिन पहले ही किये गये थे निलंबित।


सीधी: अमिलिया थाना प्रभारी रहे दीपक बघेला का निलंबन किया गया बहाल। विगत दो दिन पूर्व ही किये गये थे निलंबित। कार्यालय पुलिस अधीक्षक सीधी द्वारा आज 04.06.2020 को जारी आदेश में कहा गया की " उपनिरीक्षक दीपक बघेला, रक्षित केंद्र सीधी को आज दिनांक 04.06.2020 को दोपहर बाद से निलंबन से बहाल किया जाता है"। अब सवाल यह उठ रहा की आखिर दो दिन में ही ऐसी कौन सी जांच हो गयी की, आनन फानन में उनका निलंबन बहाल कर दिया गया।

गौरतलब है की, सीधी जिले के अमिलिया थाना क्षेत्र की एक महिला कल्पना पटेल पति संदीप पटेल उम्र 28 वर्ष निवासी ग्राम कोदौरा ने सीधी पुलिस अधीक्षक से गुहार लगाई थी की, अमिलिया थाना में पदस्थ थाना प्रभारी दीपक बघेला द्वारा उसे झूठे चोरी के आरोप में फंसा कर बिना किसी कारण ही दो दिनों तक डेढ़ साल के बच्चे के साथ लॉकअप में रखा गया। पीड़िता नें ये भी आरोप लगाया की, थाना प्रभारी नें उसके एवं उसकी उसकी मां पुटियां पटेल के साथ बेरहमी से मारपीट की। 

पीड़ित नें अपनें शरीर के जख्म दिखाते हुए कहा है कि उनके साथ इतनी बर्बरता की गई है कि चोट के कारण बैठ भी नहीं पा रही हैं। पीड़िता नें ये भी बताया की, जब शिकायत करने एसपी के पास आ रही थी तो थानेदार ने उन्हें उपचार के लिए दो हजार रुपए दिए, जिससे की उनके गुनाहों पर पर्दा डाला जा सके। जिसके बाद सीधी पुलिस अधीक्षक नें बड़ी कार्यवाही करते हुये अमिलिया थाना प्रभारी दीपक बघेला को निलंबित कर दिया था। लेकिन अब दो दिन बाद ही उनका निलंबन फिर से बहाल कर दिया गया है।

No comments:

Post a comment

Latest Post

MP उपचुनाव: कमलनाथ का स्टार प्रचारक का दर्जा छिना, जानिए आगे क्या होगा।

भोपाल: मध्यप्रदेश में 28 सीटों पर होनें वाले उपचुनावों को लेकर  चुनाव आयोग नें मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर बड़ी कार्यवाही की ह...