Wednesday, 10 June 2020

शिवराज सिंह का वायरल ऑडियो: अजय सिंह की राज्यपाल से सरकार को तत्काल बर्खास्त करने की मांग।


  • मध्यप्रदेश की चुनी हुई कांग्रेस सरकार को अलोकतांत्रिक तरीके से गिराने की साजिश का पर्दाफाश करने के लिए पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजयसिंह ने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह को दिया धन्यवाद।
  • शिवराज सिंह के खुलासे से सिंधिया जैसे राजनेताओं के असली चरित्र को भी उजागर किया जिन्होंने जनसेवा के लिए नहीं बल्कि कुर्सी के लिए चुनी हुई अपनी ही सरकार को गिराने में भाजपा की मदद की: अजय सिंह।

भोपाल: मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का वायरल ऑडियो, जिसमें वे कह रहे हैं कि केंद्र सरकार के इशारे पर उन्होंने कमलनाथ सरकार गिराई है को लेकर कांग्रेस अब हमलावर हो गयी है। अब मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को धन्यवाद दिया है की, उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह द्वारा मध्यप्रदेश की चुनी हुई सरकार को अलोकतांत्रिक तरीके से गिराने की साजिश का पर्दाफाश किया है। साथ ही श्री सिंह ने प्रदेश के मुख्यमंत्री के द्वारा किए गए इस खुलासे के बाद राज्यपाल से मध्य प्रदेश सरकार को तत्काल बर्खास्त करने की मांग की है।

पूर्व नेता प्रतिपक्ष श्री अजय सिंह ने कहा है कि मध्य प्रदेश की कांग्रेस की कमलनाथ सरकार को गिराने के 15 महीने के दौरान कई प्रयास हुए हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा ने कांग्रेस के विधायकों को खरीदने के लिए साजिश रची है। दुखद यह है कि भारतीय जनता पार्टी की इस साजिश षड्यंत्र में कांग्रेस  के प्रतिष्ठित नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया माध्यम बने। उनका यह कृत्य  मध्य प्रदेश के राजनीतिक इतिहास में कलंक के रूप में दर्ज होगा। क्या सिंधिया इस प्रदेश की उस जनता को जवाब दे पाएंगे जिन्होंने भाजपा के खिलाफ कांग्रेस को वोट दिया था उन्होंने न केवल अपनी मातृ पार्टी  बल्कि इस प्रदेश की जनता की उम्मीदों के साथ धोखा किया है जिसने 15 साल के कुशासन के बदलाव के पक्ष में मतदान किया था।

श्री सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वह साहस दिखाया है जिसकी उम्मीद उनसे नहीं थी। उन्होंने मोदी और अमित शाह द्वारा मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार को जबरदस्ती अपदस्थ करने के लिए सिंधिया को जो माध्यम बनाया उस पूरे  षड्यंत्र का खुलासा किया है।

श्री अजयसिंह ने कहा कि शिवराज सिंह चौहान ने सांवेर में दिए गए अपने  उदबोधन में यह स्पष्ट कर दिया है यह दल बदलू विधायक सिर्फ 3 साल के लिए ही हैं। उसके बाद भाजपा में इनका कोई भविष्य नहीं है। सौदेबाजी की इस पूरी राजनीति का पर्दाफाश जो शिवराज सिंह चौहान ने किया है उसके लिए कांग्रेस पार्टी उनका आभार व्यक्त करती है। उन्होंने अपने इस खुलासे से सिंधिया जैसे राजनेताओं के असली चरित्र को भी उजागर किया जिन्होंने जनसेवा के लिए नहीं बल्कि कुर्सी के लिए चुनी हुई अपनी ही सरकार को गिराने में भाजपा की मदद की।


पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहां है कि अब राज्यपाल की यह जिम्मेदारी है कि वे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के इस खुलासे के बाद अप्रजातांत्रिक तरीके से मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार को गिराने के षड्यंत्र को संज्ञान में लें और संविधान की रक्षा करते हुए भारतीय जनता पार्टी की सरकार को तत्काल बर्खास्त करें।


गौरतलब है की, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का एक ऑडियो वायरल हुआ है। वायरल ऑडियो क्लिप में वे इंदौर के सांवेर विधानसभा क्षेत्र के पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे हैं। क्लिप में शिवराज को यह कहते हुए साफ सुना जा सकता है कि, "केन्द्रीय नेतृत्व ने तय किया कि सरकार गिरनी चाहिए नहीं तो ये बर्बाद कर देगी, तबाह कर देगी। आगे शिवराज सिंह चौहान ने कार्यकर्ताओं से पूंछते हुये कहा की, बताओ ज्योतिरादित्य सिंधिया और तुलसी भाई के बिना सरकार गिर सकती थी? और कोई तरीका नहीं था। कांग्रेस कह रही है धोखा तुलसी सिलावट ने दिया, ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दिया, लेकिन धोखा कांग्रेस ने दिया है।

सुनिये शिवराज सिंह चौहान का वायरल ऑडियो👇

No comments:

Post a comment

Latest Post

सीधी में विस्फोटक हुआ कोरोना: एक साथ मिले 28 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज।

जिले में मिले 28 नए कोरोना संक्रमित। कुल संक्रमित 164 डिस्चार्ज 88 एक्टिव केस 75 सीधी: एक बार कोरोना मुक्त हो चुके मध्यप...