Friday, 12 June 2020

सीधी: टी.बी. वैनिटी वैन के माध्यम से रोगियों की होगी शीघ्र पहचान एवं उपचार, जिलें में 15 दिनों तक वैन करेगी भ्रमण।


  • जिला अस्पताल सीधी में दिनांक 14 जून से 14 जुलाई तक स्वैच्छिक रक्तदान शिविर किया जाएगा आयोजित।

सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी. एल. मिश्रा ने बताया कि टी.बी. वैनिटी वैन को अग्रिम भ्रमण कार्यक्रम अनुसार ग्राम ममदर विकास खण्ड रामपुर नैकिन के लिए रवाना किया गया है। यह वैन वातानुकूलित है इसमें एक्स-रे, खखार जांच लैब की सुविधा एवं क्षय रोग के प्रचार-प्रसार की सुविधा उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि शासन द्वारा प्रत्येक संभाग मुख्यालय पर यह वैन उपलब्ध कराई गई है। संभाग स्तर से रीवा एवं शहडोल संभाग के समस्त जिलों में 15-15 दिनों तक संचालित कराया जाता है। संचालन हेतु पीओएल मय ड्राईवर सहित तथा स्टाफ लैब टेक्नीशियन, एक्स-रे टेक्नीशियन, चिकित्सा अधिकारी की व्यवस्था संबंधित जिले के द्वारा की जाती है।



मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिश्रा ने बताया कि वैन के भ्रमण कार्यक्रम अनुसार उस क्षेत्र के मैदानी कार्यकर्ता चिन्हित मरीजों को एकत्रित कर उनकी जांच करवायेंगे। फिर चिन्हित टी.बी. मरीजों का भावी उपचार तय किया जाएगा। प्रत्येक जिले को 15 दिन के लिए क्रमशः 3 माह के अंतराल में इस वैन का लाभ प्राप्त हो सकेगा। 15 दिन के उपरांत इस वैन को दूसरे जिले में उक्त कार्य के लिए भेज दिया जाएगा।



14 जून से 14 जुलाई तक स्वैच्छिक रक्तदान शिविर।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिश्रा ने  बताया कि विश्व रक्तदाता दिवस 14 जून को प्रत्येक वर्ष मनाया जाता है। इस अवसर पर 14 जून से 14 जुलाई तक जिले में स्वैच्छिक रक्तदान माह आयोजित किया जाएगा। इस वर्ष विश्व रक्तदाता दिवस हेतु थीम “सुरक्षित रक्त, जीवन बचाता है” निर्धारित की गई है जिसका श्लोगन “रक्तदान करें, दुनिया को स्वस्थ बनाएं”। इसका उद्देश्य अधिक से अधिक स्वस्थ व्यक्तियों को नियमित स्वैच्छिक रक्तदाता बनने हेतु प्रोत्साहित करना है। स्वैच्छिक रक्तदान से प्राप्त रक्त अधिक सुरक्षित होता है। अतः सुरक्षित रक्त के लिए जिला अस्पताल में दिनांक 14 जून से 14 जुलाई तक स्वैच्छिक रक्तदान शिविर आयोजित किया जाएगा।



मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिश्रा ने सभी जन-मानस एवं अधिकारी, कर्मचारियों समाज सेवी संस्थानों, एन.जी.ओ., विद्यालयों, महाविद्यालयों के प्राचार्य और छात्र-छात्राओं, नेहरू युवा केन्द्र, एन.सी.सी.रेड रिबन क्लब, मेडिकल एशोशियेशन के सदस्यों से अपील की है कि इस अवसर पर अधिक से अधिक रक्तदान कराने का प्रयास करें ताकि किसी जरूरत मंद को रक्त के अभाव में जान न गवानी पड़े।आये दिन ऐसे प्रकरण सामने आते है जिन्हें रक्त की तत्काल आवश्यकता होती है लेकिन जिले के ब्लड बैंक में रक्त उपलब्ध नही होता है। उन्होंने कहा कि स्वैच्छिक रक्तदान करने वाले रक्तदाताओं को मेडल प्रमाण पत्र द्वारा सम्मानित किया जाएगा। रक्तदान महादान है जीवन दान के लिए इससे बड़ा परोपकारी कार्य दूसरा नहीं है।

No comments:

Post a comment

Latest Post

इतिहास में पहली बार किसी प्रदेश में लोभ और महत्वाकांक्षा के कारण, थोक के भाव थोपे गए उपचुनाव: अजय।

भोपाल: पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि इतिहास में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में यदि कहीं उपचुनाव हो रहे हैं तो वह है - मध्यप्रदेश...