Sunday, 17 May 2020

विधानसभा उपचुनावः भाजपा नेताओं एवं CM शिवराज के साथ सिंधिया की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग।


  • मध्य प्रदेश में आने वाले दिनों में होने वाले 24 विधानसभा सीटों के उपचुनाव को लेकर भाजपा की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, ज्योतिरादित्य सिंधिया, CM शिवराज सिंह चौहान एवं अन्य नेता हुये शामिल।

भोपाल: मध्यप्रदेश में जहां एक तरफ कोरोना का संकट चल रहा है, वहीं दूसरी ओर दोनों ही मुख्य पार्टियों को आगामीं दिनों में होनें वाले विधानसभा उपचुनावों की भी चिंता सता रही है। आनें वाले उपचुनाव में जहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी कुर्सी को यथावत रखनें का प्रयास करेंगें तो वहीं पूर्व सीएम कमलनाथ अपने वापसी का प्रयास करेंगें। साथ ही इस उपचुनाव में कांग्रेस से अलग होकर भाजपा में शामिल हुये पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की प्रतिष्ठा भी दांव पर होगी।



प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव को लेकर भाजपा अब अपनी रणनीति को तेज करना शुरू कर दिया है। इसी कड़ी में शनिवार को भाजपा के नेताओं की एक अहम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग हुई। जिसमें कांग्रेस से बीजेपी में हाल ही में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया भी शामिल थे। ऐसा पहली बार था जब सिंधिया बीजेपी की किसी संगठनात्मक बैठक या वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में शामिल हो रहे थे।  वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत जैसे नेताओं नें उन 24  विधानसभा सीटों को लेकर भी चर्चा की, जहां पर उपचुनाव होना है।



ज्योतिरादित्य सिंधिया नें भी सभी 24 सीटों के विधानसभा उपचुनाव को लेकर अपनी बात रखी। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में यह तय किया गया है कि जो विधायक कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हुए हैं, उपचुनाव में पार्टी उनके साथ पूरे दम से चुनाव लड़ेगी। सभी पदाधिकारियों को उपचुनाव की तैयारी में जुटने के निर्देश भी संगठन की ओर से जारी कर दिए गए हैं।



वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर लिखा, 'संकट की इस घड़ी में बीजेपी के सभी साथी प्रदेश की सेवा में लगे हैं। आज साथियों से हुई चर्चा भी बहुत सकारात्मक रही। मुझे अपनी टीम और कार्यकर्ता साथियों की सेवा भावना पर गर्व है। जनकल्याण और सेवा के लिए समर्पित हमारे साथी घर-घर तक पहुंचेंगे और प्रदेश को इस संकट के पार ले जाएंगे। हालांकि माना यह जा रहा है की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग आनें वाले उपचुनावों को लेकर भी थी।


मध्यप्रदेश में 24 सीटों पर उपचुनाव होना है, इनमें से 22 विधायक सिंधिया समर्थक हैं और कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हुए हैं। इन सभी को उपचुनाव में टिकट मिलना तय माना जा रहा है। ऐसे में अब यह जरूरी है कि बीजेपी अपने संगठन को इस लिहाज से तैयार करे कि वह कांग्रेस से आए नेताओं के लिए चुनाव में जुट सके। हालांकि इसमें बीजेपी को अपने घर में भी बगावत का डर सता रहा है। यही वजह है कि रणनीति के लिए प्रदेश संगठन के साथ केंद्रीय संगठन की भी नजर मध्य प्रदेश पर बनी हुई है। जिन 24 सीटों पर उपचुनाव होने हैं, उनमें करीब 2 महीने का वक्त कोरोना आपदा की वजह से बिना तैयारी के निकल चुका है।ऐसे में बीजेपी की कोई भी चूक बड़ी परेशानी का सबब भी बन सकती है।

No comments:

Post a comment

Latest Post

अजय सिंह का कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संदेश, कहा- उपचुनाव में कांग्रेस को जिताने पूरी ताकत से जुट जायें।

भाजपा को सबक सिखाने का समय आ गया है: अजय सिंह। कांग्रेस की जीत से पूरे देश में सरकार गिराने- बनाने में सौदेबाजी के खिलाफ संदेश जायेगा: अजय स...