Tuesday, 26 May 2020

वक़्त-वक़्त की बात: सिंधिया के समर्थक रहें पूर्व मंत्री नें सिंधिया पर, प्रलोभन की वजह से भाजपा में जानें एवं ट्रस्ट की जमीन का आवंटन अपने हिसाब से करानें का लगाया आरोप। VIDEO


भोपाल: ज्योतिरादित्य सिंधिया जब से कांग्रेस का दामन छोड़ भाजपा में शामिल हुये एवं उनकी वजह से मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार गिरी है, तब से ही कांग्रेस लगातार सिंधिया के ऊपर हमलावर है। कांग्रेस सिंधिया को घेरनें का कोई भी मौका नही छोड़ रही है। इसी कड़ी में आज कांग्रेस नेता कमलेश्वर पटेल ने सिंधिया पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार में सिंधिया अपने पसंद से पोस्टिंग कराते थे। साथ ही पूर्व मंत्री नें कहा की, सिंधिया सम्मान के लिए नहीं प्रलोभन और लालच में बीजेपी में गए हैं।



दरअसल मंगलवार को मीडिया से बात करते हुए पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता कमलेश्वर पटेल ने सिंधिया पर जमकर हमला बोला साथ ही कई गंभीर आरोप भी लगाये। कमलेश्वर पटेल ने ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने पूर्व की कांग्रेस सरकार में अपने ट्रस्ट की जमीन का आवंटन अपने हिसाब से कराया। इतना ही नहीं वो अपने जिलों में पसंदीदा अफसरों की पोस्टिंग भी करवाते थे। उनकी पसंद से ही आईजी, कमिश्नर, कलेक्टर की पोस्टिंग होती थी।



पूर्व मंत्री पटेल ने ये भी कहा कि कांग्रेस सरकार में काम नहीं होने का सिंधिया का आरोप सरासर गलत है। कर्जमाफी, भूमिपूजन के कार्यक्रमों में भी सिंधिया और उनके मंत्री जाते थे। हमारे पास रिकॉर्ड है कि सिंधिया खेमे के लिए कांग्रेस में क्या-क्या काम हुए। कमलेश्वर पटेल ने सिंधिया को निशाने पर लेते हुए ये भी कहा कि सिंधिया को राज्यसभा सांसद और केंद्रीय मंत्री बनने की जल्दी थी। सिंधिया सम्मान के लिए नहीं प्रलोभन और लालच में बीजेपी में गए हैं।



गौरतलब है कि कांग्रेस से नाराज चल रहे सिंधिया ने मार्च माह में मंगलवार 11 मार्च को इस्तीफा दिया था, एवं भाजपा की सदस्यता ले ली थी। जिसके बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक कांग्रेस के 22 विधायकों ने भी बगावत कर कांग्रेस से इस्तीफा देकर भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया था। इसी बगावत की वजह से कमलनाथ को सीएम पद की कुर्सी के साथ सत्ता भी गंवानी पड़ी थी, और शिवराज सिंह चौहान एक बार फिर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री बन गये।



देखिये वीडियो👇

No comments:

Post a Comment

Latest Post

कौन हैं चौधरी राकेश सिंह? जिनको लेकर कांग्रेस में मचा है घमासान।

भोपाल:   मध्यप्रदेश में संगठन की मजबूती के लिये प्रदेश कांग्रेस ने बड़ा बदलाव किया है। प्रदेश कांग्रेस ने संगठन में 56 जिलों में प्रभारियों ...