Monday, 4 May 2020

सोनिया गांधी का बड़ा ऐलान: कांग्रेस वहन करेगी, घर लौट रहें श्रमिकों की यात्रा का खर्च।


लॉकडाउन 3.0: लॉकडाउन के बीच पिछले शनिवार की सुबह करीब 6.30 बजे नासिक रेलवे स्टेशन से भोपाल रेल मंडल के मिसरोद रेलवे स्टेशन करीब 347 श्रमिकों को लेकर श्रमिक स्पेशल ट्रेन पहुंची थी, लेकिन श्रमिक स्पेशल इस ट्रेन में मजदूरों से टिकट का किराया वसूला गया था। जिसको लेकर अब सियासत तेज हो गयी है।



अब कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने इसको लेकर बड़ा फैसला लिया है। कांग्रेस पार्टी सभी जरूरतमंद मजदूरों के रेल टिकट का खर्च उठाएगी। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने फैसला लिया है कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी की हर इकाई श्रमिक-कामगार के घर लौटने की रेल यात्रा के टिकट का खर्च उठाएगी और जरूरी कदम उठाएगी।



सोमवार को जारी किए गए एक बयान में कहा गया है कि सिर्फ चार घंटे के नोटिस पर लॉकडाउन लागू होने की वजह से देश के मजदूर अपने घर वापस जाने से वंचित रह गए। 1947 के बाद देश ने पहली बार इस तरह का मंजर देखा जब लाखों मजदूर पैदल ही हजारों किलोमीटर चलकर घर जा रहे हैं।



सोनिया गांधी ने बयान में कहा कि जब हम लोग विदेश में फंसे भारतीयों को बिना किसी खर्च के वापस ला सकते हैं, गुजरात में एक कार्यक्रम में सरकारी खजाने से 100 करोड़ रुपये खर्च कर सकते हैं, अगर रेल मंत्रालय प्रधानमंत्री राहत कोष में 151 करोड़ रुपये दे सकता है तो फिर मुश्किल वक्त में मजदूरों के किराये का खर्च क्यों नहीं उठा सकता है?




No comments:

Post a comment

Latest Post

छतरपुर: कृषि बिलों के विरोध में कांग्रेस का हल्ला बोल, अजय सिंह नें कहा- भाजपा के रहते किसान, गरीब और पिछड़ों की नहीं होगी सुनवाई।

बैलट पेपर से आज यदि चुनाव को जाये तो भाजपा साफ हो जाएगी: अजय सिंह। ईस्ट इंडिया कंपनी की तरह अब भारतीय कंपनियाँ देश को दोबारा गुलाम बना रही ह...