Wednesday, 20 May 2020

अवसरवाद को पार्टी में पनपनें ना दें एवं अवसरवादियों की पार्टी में कोई जगह ना हो: अजय सिंह।

  • जो लोग हर परिस्थितियों और विपरीत माहौल में कांग्रेस का झंडा उठाकर चलते रहे उनका सम्मान हो: पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह।

भोपाल: मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह नें कांग्रेसजन एवं कार्यकर्ताओं से बड़ी बात कहते हुये इस बात पर जोर दिया की हर स्तर पर जीवंत संवाद होना चाहिए, जिससे की आपस में पारदर्शिता बढ़े और पार्टी मजबूती से आगे बढ़े।



श्री सिंह नें कहा, देश की  मौजूदा परिस्थितियों में कांग्रेस पार्टी का सक्रिय मजबूत और संगठित  होना देश हित में जरूरी है। जनता भी इस बात को जानती है। यही कारण है कि कई राज्यों में कांग्रेस की या कांग्रेस समर्थित सरकार है। कांग्रेसजन सिर्फ इस बात को ध्यान में रखें कि हम वह पार्टी हैं जिसने अंग्रेजों की गुलामी से इस देश को और यहाँ की जनता को मुक्ति दिलाई। जब तक कांग्रेस रही देश एक और अखंड रहा। हर वर्ग का सम्मान, हर धर्म को आजादी और गरीब की चिंता।आज जो देश हमारे सामने खड़ा है वह कांग्रेस की रीतियों और नीतियों का ही परिणाम है।



ऐसी कांग्रेस को हर हाल में और अधिक मजबूत बनाने उसका जनाधार बढाने के लिए यह जरूरी है कि जो लोग हर परिस्थितियों और विपरीत माहौल में कांग्रेस का झंडा उठाकर चलते रहे उनका सम्मान हो। अवसरवाद जिसका बड़ा खामियाजा कांग्रेस ने मध्यप्रदेश में भुगता उसे कभी पनपने न दें और पनपे तो कांग्रेस पार्टी में उनकी दोबारा कोई जगह न हो। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह नें आगे कहा की,  हमारे पूज्य पिता दाऊ श्री अर्जुनसिंह जी कहते थे कि “आजमाये हुए को दोबारा आजमाया नहीं जाता”।



दूसरी बात कांग्रेस में अनुशासन और सख्त हो और साथ ही  जवाबदेही भी तय हो। इस पर सक्रियता से विचार हो। कांग्रेस के हर कार्यकर्ता से जीवंत संवाद हर स्तर पर हो। कांग्रेस की सहयोगी संस्थाओं , सेवा दल, महिला और युवा विंग को सक्रिय बनाकर जमीनी स्तर पर उनकी पैठ हो ऐसी योजनायें बनें। यह काम हर उस कांग्रेस जन का है जो सर्वोच्य पदों पर हो या जमीनी स्तर पर काम कर रहा हो।



अजय सिंह का यह वक्तव्य ऐसे वक़्त पर आया है, जब आनें वाले समय में मध्यप्रदेश की 24 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होनें वाले हैं, और पार्टी कुछ पुरानें दलबदल वाले नेताओं को टिकट देनें के मूड में है। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ऐसे दलबदल वाले नेताओं को पार्टी का उम्मीदवार बनानें की खिलाफत पूर्व सीएम कमलनाथ के समक्ष पहले ही कर चुकें हैं जिसका समर्थन वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सहकारिता मंत्री डॉक्टर गोविंद सिंह भी कर चुकें हैं।

No comments:

Post a comment

Latest Post

बिजली समस्या को लेकर कांग्रेस की चुरहट इकाई नें, मवई विद्युत वितरण केन्द्र का किया घेराव।

सीधी / चुरहट: काग्रेस पार्टी (चुरहट इकाई) द्वारा बिजली की समस्या को लेकर मवई डी.सी. कार्यालय का घेराव किया गया। गरीब मजदूर, आम जनता एवं किसा...