Wednesday, 27 May 2020

सीधी: टिड्डी दल नें चुरहट एवं कमर्जी क्षेत्र से होते हुये अमिलिया में दी दस्तक, फसल नुकसान पर प्रशासन देगा मुआवजा।


सीधी: मध्यप्रदेश में जहां कोरोना का संकट बरकरार है, वहीं अब टिड्डी दल से कई जिलों के किसान परेशान है।कोरोना के दौरान अब सीधी में भी टिड्डी दल भी आ धमका है। बड़ी तादाद में ये टिड्डी दल सीधी के चुरहट एवं कमर्जी क्षेत्र से होते हुये अमिलिया पहुंच चुका है।अब किसान और प्रशासन कोरोना को भूलकर इन बिन बुलाए मेहमानों को भगाने में लगा हुआ है। टिड्डी ग्रीष्मकालीन फसलों को नुकसान पहुंचा सकता है, इस हिसाब जिला प्रशासन ने पूरे जिले में सतर्कता बढ़ा दी है।



प्राप्त जानकारी के अनुसार, मध्यप्रदेश में टिड्डियों के चार दल सक्रिय हैं इसमें से एक दल सीधी जिले में कमर्जी थाना अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंचा है। टिड्डी दल रात होते-होते कमर्जी थाना क्षेत्र से अमिलिया इलाके तक पहुंच गया है। जो सिहावल के कुछ गावों को भी प्रभावित कर रहा है। ग्रामवासी सहित किसान परेशान हो रहे हैं। सबसे ज्यादा परेशानी सब्जी उत्पादन कर रहे किसानों को है।



टिड्डी दल से निपटने के लिए सीधी जिला प्रशासन तैयारियां कर ली है। दवा के छिड़काव के लिए तैयारी कर ली गई है, साथ ही किसानों को भी टिड्डियों से निपटने के उपाय भी बताए जा रहे हैं। चुरहट, कमर्जी तथा अमिलिया थाना क्षेत्रों में टिड्डियों को भगाने के लिए जिला प्रशासन एवं पुलिस का दल सक्रिय है तथा इनको भगाने के लिए तेज आवाज जैसे ट्रैक्टर एवं सायरन का इस्तेमाल कर रहा है



जिले में टिड्डी दल के आने के खतरे से निपटने के लिए सीधी जिला प्रशासन पूरी तरह तैयार है, एवं  ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों को जागरुक किया जा रहा है। किसानों को टिड्डी दल के आने पर तेज ध्वनि करने, पानी एवं केमिकल का स्प्रे करने के लिए कहा गया है।



डी.पी.वर्मन, अपर कलेक्टर- सीधी नें क्या कहा?
टिड्डियों को भगाने के लिए कलेक्टर सर द्वारा टीम गठित की गई है, जहां हम लोग जाकर भगाने का प्रयास कर रहे हैं। हमारा अमला लगा हुआ है, उम्मीद है कि जल्द ही टिड्डियों को भगाने में सफलता मिलेगी। आम जनता से भी अपील है कि टिड्डियों से सतर्क रहें, अगर कहीं आस पास ये आ जाती हैं तो तेज आवाज करें जिससे वह भाग जाएं। जहां भी इन टिड्डियों के द्वारा फसलों का नुकसान होगा जिला प्रशासन द्वारा इसका मुआवजा दिया जाएगा।

No comments:

Post a comment

Latest Post

इतिहास में पहली बार किसी प्रदेश में लोभ और महत्वाकांक्षा के कारण, थोक के भाव थोपे गए उपचुनाव: अजय।

भोपाल: पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि इतिहास में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में यदि कहीं उपचुनाव हो रहे हैं तो वह है - मध्यप्रदेश...