Thursday, 21 May 2020

वायरल खबर का सच: सिंधिया के भाजपा छोड़कर कांग्रेस में "घर वापसी", करने वाली खबर का क्या है सच?


FACT CHECK :ज्योतिरादित्य सिंधिया जब से कांग्रेस का दामन छोड़ भाजपा में शामिल हुये एवं उनकी वजह से मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार गिरी है, तब से ही कांग्रेस लगातार सिंधिया के ऊपर हमलावर है। कांग्रेस सिंधिया को घेरनें का कोई भी मौका नही छोड़ रही। इसी बीच सोशल मीडिया में पिछले सप्ताह से एक खबर काफी वायरल हो रही, जिसमें तह दावा किया जा रहा की ज्योतिरादित्य सिंधिया भाजपा छोड़कर कांग्रेस में घर वापसी करने की तैयारी में हैं। आइये जानतें हैं की इस दावे में कितनी सच्चाई है।



सबसे पहले सोशल मीडिया पर India TV नाम के एक ट्विटर अकाउंट से किये गये ट्वीट को काफी तेजी से वायरल किया गया। ट्विटर पर “India TV” (@IndiaTVPoll) नाम के एक ट्विटर हैंडल से यह दावा किया गया की, सिंधिया भाजपा छोड़ रहें हैं।  इस ट्विटर हैंडल की प्रोफाइल फोटो में इस्तेमाल किया गया लोगो न्यूज चैनल “India TV” के लोगो जैसा ही लग रहा है।



इस ट्वीट में लिखा गया है, “सूत्रों के हवाले से खबर- भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया सोमवार तक भाजपा छोड़ने की तैयारी में, बोले- " मंत्री बनाओ या परिणाम भुगतने को तैयार रहें शिवराज, इनके कारण इज्जत भी गई और कुछ मिला भी नहीं, मामा और मोदी ने मिलकर फंसाया।



इस ट्वीट को हजारों यूजर्स ने लाइक किया है और साथ ही इसे कई बार रीट्वीट किया गया है. सोशल मीडिया यूजर समझ रहे हैं कि यह ट्वीट न्यूज चैनल “इंडिया टीवी” का है। यह ट्वीट फेसबुक पर भी बहुत से लोगों द्वारा शेयर किया गया।



सीधी CHRONICLE द्वारा पड़ताल में यह पाया गया कि जिस ट्विटर हैंडल से यह ट्वीट किया गया है, वह न्यूज चैनल “इंडिया टीवी” का आधिकारिक ट्विटर हैंडल नहीं है।दरअसल, न्यूज चैनल “India TV” का असली अकाउंट ट्विटर की ओर से प्रमाणित (verified) है और उसकी प्रोफाइल फोटो इससे अलग है। जबकी वायरल ट्वीट की प्रोफाइल अलग है साथ ही यह ट्विटर द्वारा प्रमाणित भी नही है।


इसके साथ ही, कुछ अखबारों की कटिंग भी सोशल मीडिया में वायरल हो रही है, जिसमें दावा किया गया है कि सिंधिया और भाजपा के बीच सब ठीक नहीं है। ऐसी खबरों का सिंधिया के करीबियों नें निराधार बताया हैं, साथ ही कहा है की इन्हें कांग्रेस ने छपवाया और प्रसारित किया है। साथ ही पिछले दिनों कांग्रेस की एक बैठक में भी सिंधिया की कांग्रेस में वापसी का मुद्दा उठा था, जिसको लेकर पूर्व सीएम कमलनाथ नें कहा थी की, पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ही सिंधिया की वापसी के खिलाफ हैं।




गौरतलब है की, सिंधिया ने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की उपस्थिति में 11 मार्च को बीजेपी जॉइन की थी। मध्यप्रदेश के गुना से पूर्व सांसद सिंधिया इसके पहले 18 साल तक कांग्रेस में रहे, साथ ही मनमोहन सिंह सरकार में केन्द्रीय मंत्री भी रहे। लेकिन पार्टी में उपजे मतभेदों के चलते कांग्रेस छोड़कर बीजेपी जॉइन कर ली थी। सिंधिया के विद्रोह के चलते मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार गिर गई थी, क्योंकि उनके समर्थक 24 विधायकों ने कमलनाथ सरकार से इस्तीफा दे दिया था। इस घटनाक्रम के बाद बीजेपी फिर से सत्ता में आ गई और शिवराज सिंह चौहान फिर से मुख्यमंत्री बन गए।

No comments:

Post a comment

Latest Post

MP उपचुनाव: कमलनाथ का स्टार प्रचारक का दर्जा छिना, जानिए आगे क्या होगा।

भोपाल: मध्यप्रदेश में 28 सीटों पर होनें वाले उपचुनावों को लेकर  चुनाव आयोग नें मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर बड़ी कार्यवाही की ह...