Friday, 22 May 2020

सिंधिया समर्थकों ने शिवराज से की मुलाकात, उपचुनाव जीतनें के लिये 678 करोड़ रुपये का दिया प्लान।

MP में 24 सीटों पर होने वाले उपचुनाव भाजपा के लिए सबसे बड़ी चुनौती है। साथ ही सिंधिया के साथ कांग्रेस छोड़कर आए 22 लोगों का भविष्य भी तय करेगा। ऐसे में सिंधिया समर्थक अपनी जीत की जुगत में दिन-रात लगे हुए हैं। भोपाल में सिंधिया खेमे के लोगों ने सीएम शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात की है।


भोपाल: मध्य-प्रदेश में 24 सीटों पर होनें वाले विधानसभा उपचुनावों के लिये भाजपा के साथ साथ सिंधिया समर्थकों नें भी कमर कस ली है। इस समय उपचुनाव को लेकर क्षेत्र से ज्यादा भोपाल में हलचल बढ़ गई है। भोपाल में बैठे दिग्गज नेता अपनी-अपनी पार्टी की रणनीति पर काम कर रहे हैं। गुरुवार को सिंधिया समर्थकों ने सीएम शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात की है। इस दौरान पूर्व विधायकों ने सिंधिया के सामने 678 करोड़ रुपये के प्लान रखा है 



दरअसल, सिंधिया समर्थक चाहते हैं कि चुनाव से पहले क्षेत्र में कुछ ऐसे काम कराए जा सकें, जिससे लाभ हो। इमरती देवी, एंदल सिंह कंसाना और प्रद्युमन सिंह तोमर सीएम शिवराज से पहले ही मिल चुके हैं। गुरुवार को जजपाल सिंह जज्जी, महेंद्र सिंह सिसोदिया, बृजेंद्र सिंह यादव, सुरेश धाकड़, प्रभुराम चौधरी, रक्षा सिरोनिया, रघुराज कंसाना और गिर्राज दंडोतिया ने सीएम से मुलाकात की। 



इन सभी पूर्व विधायकों ने सीएम शिवराज सिंह चौहान से बात की। साथ ही कुछ प्लान भी रखें। ये सभी प्लान क्षेत्र में काम से संबंधित हैं। पूर्व विधायकों ने सीएम के समक्ष मेडिकल कॉलेज और सड़कों के कई कामों की सूची सौंपी, जिसे चुनाव से पूर्व करवाने के लिए कहा है। इन कामों को पूरा करने में 678 करोड़ रुपये खर्च होंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सीएम ने पूर्व विधायकों की मांग पर आश्वासन दिया है कि काम जल्द प्रारंभ होंगे।



अब ऐसा माना जा रहा है की कि जल्द ही इन क्षेत्रों के लिए सीएम शिवराज सिंह चौहान कुछ योजनाओं की घोषणा कर भी सकते हैं। सीएम इससे पहले ग्वालियर-चंबल संभाग के चंबल प्रोग्रेस वे की घोषणा कर चुके हैं। उन्होंने इस पर जोर देते हुए कहा था कि इससे उस क्षेत्र में आर्थिक प्रगति आएगी। 



क्षेत्र में उपचुनाव की स्थिति को लेकर भी सीएम शिवराज के साथ इन विधायकों ने चर्चा की। जानकारी के अनुसार कई सीटों पर विरोध के स्वर भी उठ रहे हैं। उससे भी इन विधायकों ने सीएम को अवगत कराया है। क्योंकि पार्टी आलाकमान में लागातर नाराज लोगों को भोपाल तलब कर उनसे मुलाकात कर रही है।

No comments:

Post a comment

Latest Post

इतिहास में पहली बार किसी प्रदेश में लोभ और महत्वाकांक्षा के कारण, थोक के भाव थोपे गए उपचुनाव: अजय।

भोपाल: पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि इतिहास में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में यदि कहीं उपचुनाव हो रहे हैं तो वह है - मध्यप्रदेश...