Tuesday, 19 May 2020

सीधी: जिले में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 5, सभी व्यक्तियों का आइसोलेशन वार्ड में किया जा रहा उपचार।



सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. आर. एल. वर्मा ने जानकारी देकर बताया कि दिनांक 17.05.2020 को 8 सैम्पल एन.आई.आर.टी.एच. जाँच हेतु भेजे गए थे जिसमें एक पांजिटिव की जानकारी प्राप्त हुई है। कोरोना पांजिटिव व्यक्ति की उम्र 24 वर्ष है और वह जिले के ग्राम नेबूहा का निवासी है। 



मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. वर्मा ने बताया कि कोरोना संक्रमित व्यक्ति द्वारा जानकारी दी गई कि वह ग्राम बढ़ौना, कमर्जी सीधी के एक व्यक्ति के साथ में मुंबई कुर्ला रेल्वे स्टेशन के 5 नं. कैन्टीन में कार्य करता था। इनका वह साथी पूर्व में ही आया था और जांच में पांजिटिव पाये जाने के बाद वर्तमान में आइसोलेशन सेन्टर में ही भर्ती है। उसने बताया कि हमारे रहने का कमरा न. 9 उसमें उसके साथ 10 लोग रहते थे ये गोरखपुर के रहने वाले थे।



दिनांक 12.05.2020 को सायं 4 बजे वह और उसके मामा जो की अन्यत्र कार्य करता था और अलग रहता था दोनो साथ में लगभग 15 से 20 कि०मी० पैदल चलकर भिमण्डी पंहुचे जहां पर कई ट्रक खड़े थे, ये दोनो स्थानीय पुलिस की मदद से ट्रक में बैठ गए दिनांक 15.05.2020 को रात्रि 10 बजे रीवा-शहडोल बाईपास में पहुंचकर उतर गए। थोड़ी देर में ही वहां से पाइप लेकर मोहनिया आ रही डग्गा में सवार होकर 11:30 बजे मोहनिया में उतर गए।



वहां से मोहनिया चेकपोस्ट पर गए और चेकपोस्ट पर पूंछ-तांछ के बाद स्क्रीनिंग की गई और सीधी के लिए आ रही बस में बैठा कर रवाना कर दिया गया। आधे कि0मी0 आने के बाद बस बिगड़ गई और ये दोनो यात्री उतरकर सड़क के किनारे आराम करते हए सो गये। इसी दौरान बस ठीक होकर सीधी चली आई और वो छूट गए। सुबह वापस मोहनिया चेकपोस्ट गए, तब पुलिस के द्वारा उन्हें दूसरी बस में जो कि सीधे पनवार हवाई पट्टी ही आ रही थी उसमें बैठाकर भेजा गया।



मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. वर्मा ने बताया कि ये दोनो दिनांक 16.05.2020 को सुबह 8 बजे पनवार हवाई पट्टी पहुंचे जहां पर स्वास्थ्य परीक्षण कर रेड जोन एरिया से आने की हिस्ट्री अनुसार क्वारेंटाईन सेन्टर जी.एन.एम. में एंबुलेस से भेजकर अलग कमरे में भर्ती करा दिया गया। सायं 16 तारीख को मामा और भांजे दोनो का सैम्पल लिया गया और सुबह 17.05.2020 को एन.आई.आर.टी.एच. जबलपुर भेजा गया।



दिनांक 18.05.2020 की रात को प्राप्त रिपोर्ट में उसके मामा सहित शेष 7 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव के साथ उसे पांजिटिव पाया गया उसे तत्काल आइसोलेशन सेन्टर में शिफ्ट करा दिया गया। तथा ट्रेवल हिस्ट्री के आधार पर किए गए संपर्क विश्लेषण में नया कन्टेनमेन्ट एरिया बनाने की आवश्यकता नही पाई गई, क्योकि पांजिटिव केस अपने गांव-घर जाए बिना जी०एन०एम० छात्रावास सेन्टर में कोरन्टाइन होकर रह रहा था।

No comments:

Post a comment

Latest Post

सीधी: शासकीय चिकित्सकों के प्राइवेट प्रेक्टिस पर रोक, आदेश जारी।

सीधी: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सीधी द्वारा आदेश जारी कर जिलान्तर्गत क्षेत्र की समस्त शासकीय अस्पतालों में पदस्थ समस्त विशेषज्ञ/...