Sunday, 10 May 2020

लॉक डाउन में फंसे मजदूरों को वापस लानें के लिये चलेंगी 53 स्पेशल ट्रेनें, सीएम शिवराज सिंह नें किया ऐलान।


भोपाल: देश के साथ साथ मध्यप्रदेश में भी कोरोना का कहर जारी है। जिसकी रोक-थाम के लिये पूरे देश में लॉक डाउन है। ऐसे में सबसे बड़ी समस्या अन्य राज्यों में फंसे मजदूरों को वापस लानें की है। साथ ही मजदूरों के साथ हो रहे हादसे भी चिंता का सबब बन गये हैं। जिसे देखते प्रदेश की शिवराज सरकार ने एक बड़ी घोषणा की है। शिवराज सरकार लगातार राज्य से बाहर फंसे मजदूरों को बसों एवं श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के जरिए वापस एमपी ला रही हैं। जिसके बाद अब सरकार मजदूरों की घर वापसी की रफ्तार तेज करने जा रही है। एमपी के मजदूरों को लाने के लिए शिवराज सरकार द्वारा 53 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाये जाने की घोषणा की है।

साथ ही औरंगाबाद ट्रेन हादसे के बाद शिवराज सरकार मजदूरों से लगातार अपील कर रही है कि वह पैदल नहीं आएं। सरकार उन्हें लाने की व्यवस्था कर रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया की प्रत्येक मजदूर भाई को प्रदेश वापस लाया जाएगा।वे बिल्कुल चिंता न करें। वहीं अपर मुख्य सचिव आईसीपी केशरी ने कहा कि मजदूरों को प्रदेश लाने के लिये 56 ट्रेनों की मांग रेल मंत्रालय को भेजी गई है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बाहर फंसे नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने की अनुमति एवं व्यवस्था के लिये मजदूर एवं अन्य व्यक्ति नोडल अधिकारियों को फोन न करें। वे इसके लिये बनाये गये कॉल सेंटर 0755-2411180 पर फोन करें। इधर दूसरी तरफ प्रमुख सचिव संजय दुबे ने बताया कि वापस आने के लिये अभी तक 3 लाख 90 हजार व्यक्तियों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है।

गौरतलब है की, मध्यप्रदेश के नागरिक दूसरे राज्यों में फंसे हैं और लॉकडाउन के कारण उन्हें रहने और खाने की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि लॉकडाउन के तीसरे फेज में रेड जोन इलाकों को छोड़कर रियायत दी गई है।

No comments:

Post a comment

Latest Post

हनुवंतिया जल महोत्सव: पैरा ग्लाइडिंग के दौरान बड़ा हादसा, दो लाेगों की मौत।

खंडवा: जिले के पर्यटन स्थल हनुवंतिया में जल महोत्सव के दौरान पैरा ग्लाइडिंग मोटर सैकड़ों फीट उंचाई से जमीन पर आ गिरा, जिसमे पैरामोटर्स को च...