Sunday, 24 May 2020

ग्वालियर में लगे सिंधिया के गुमशुदगी के पोस्टर: तलाश करने वाले को ₹5100 का इनाम, पोस्टर लगवानें वाले पर FIR दर्ज।


ग्वालियर: ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़नें के बाद से ही कांग्रेस उनपर लगातार हमलावर है। कांग्रेस द्वारा सिंधिया को घेरनें में कोई कोर कसर  नही छोड़ी जा रही। हाल ही कांग्रेस नेता एवं पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा द्वारा सिंधिया पर की गयी टिप्पणी की आग अभी तक शांत भी नही हुई थी की अब ज्योतिरादित्य सिंधिया के लापता होने के पोस्टर लग रहे हैं।


दरअसल ग्वालियर चंबल क्षेत्र में लोग सिंधिया की तलाश कर रहे हैं। जिसके चलते लोग पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के गुमशुदगी के पोस्टर लगवा रहे हैं। इसमें सबसे खास बात ये है कि सिंधिया को ढूंढने वाले को 5100 रुपये की इनामी राशि देने की भी बात पोस्टर में कही गई है।



मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता सिद्धार्थ सिंह राजावत ने ज्योतिरादित्य सिंधिया की तलाश में पोस्टर लगवाए हैं। उन्होंने ग्वालियर के महल गेट से लेकर पूरे शहर में ऐसे पोस्टर लगवाए हैं। पोस्टर में लिखा है कि तलाश एक गुमशुदा जनसेवक की, तलाश करने वाले को 5100 रुपये का इनाम भी दिया जायेगा। पोस्टर में आगे लिखा है कि ‘कांग्रेस में रहकर जो जनसेवा नहीं कर पा रहे थे, जो कोरोना महामारी के समय में अप्रवाशी मजदूरों की आवाज न उठा सके, जिन्हें रोड पर उतरने का शौक था, वे आज गुमशुदा हैं।



हला की अब सिंधिया की गुमशुदगी के पोस्टर लगाने में कांग्रेस प्रवक्ता सिद्धार्थ राजावत के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराई गई है। सिद्धार्थ सिंह राजावत ने सिंधिया की तलाश करने वाले के लिए ₹5100 का इनाम भी रखा था, जो अब सिद्धार्थ राजावत को ही महंगा पड़ने वाला है। सिद्धार्थ सिंह राजावत के खिलाफ आईपीसी की धारा 188 और 505(1C) के तहत मामला दर्ज हुआ है। धारा 154 का उल्लंघन मानते हुए यह मामला दर्ज किया गया है।

No comments:

Post a comment

Latest Post

कांग्रेस विधायक उमंग सिंघार का बड़ा बयान, कहा- सिंधिया ने दिया था 50 करोड़ और मंत्री पद का ऑफर।

MP उपचुनाव:   मध्यप्रदेश में विधानसभा की 28 सीटों पर 3 नवंबर को मतदान होना है। जिसे देखते हुये हुये भाजपा एवं कांग्रेस के नेताओं का आपस में ...