Monday, 25 May 2020

सीधी: 4 कोरोना संक्रमितों ने जीती जंग, रिपोर्ट निगेटिव आनें के बाद किया गया डिस्चार्ज।


सीधी: स्वास्थ्य विभाग एवं प्रशासन के सतत प्रयासों एवं कोरोना संक्रमितों के आत्मसंयम, धैर्य एवं मजबूत इरादों ने आखरिकार कोरोना को परास्त कर दिया है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी. एल. मिश्रा ने बताया कि आज कोविड केयर सेन्टर सीधी में भर्ती 4 कोरोना पॉजिटिव मरीज पूरी तरह से स्वस्थ होने के बाद और रिसेम्पलिग की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त होने के बाद डिस्चार्ज कर उन्हें एंबुलेंस से उनके गृह ग्राम पहुंचा दिया गया। 



डॉ० मिश्रा द्वारा मरीजों को उनके सकारात्मक इच्छाशक्ति के लिए बधाई देते हुए पुष्प भेंट किया गया। डिस्चार्ज करते समय परामर्श दिया गया है कि वे अपने घर में भी इसी तरह से 10 दिनों तक रहें और अन्य लोगों के प्रत्यक्ष संपर्क में नहीं आयें। अपने वस्त्र, उपयोग में लाए गये बर्तन, वस्तु को स्वयं अपने पास में रखें एहतियात के साथ दूसरों को भी सावधानियों का पालन कराएं। संतुलित भोजन ले और आराम करें। तंबाखू आदि नशे का सेवन नहीं करें।



डिस्चार्ज हो रहे मरीज स्वस्थ होकर घर जाने के लिए अति प्रसन्न थे। उनके द्वारा बताया गया कि हमें किसी प्रकार की दिक्कत यहां नही हुई। सभी सुविधाएं यहां उपलब्ध कराई गई हैं। भोजन, मनोरंजन, साफ-सफाई आदि की व्यवस्था से हम बहुत प्रसन्न है। हमारा पूरा ध्यान रखा गया। उन्होंने कहा कि कोरोना से डरने या घबराने की जरूरत नहीं है। सावधानी के साथ हमें रहना चाहिए और शासन द्वारा जो जानकारी दी जाती है उसका पालन करना चाहिए। ऐसा नहीं करने पर हम अपने साथ दूसरों के जीवन को खतरे में डालने का कार्य करते हैं।



सूझबूझ और जिम्मेदार आचरण से जीती जा सकती है कोरोना से जंग - कलेक्टर।
कलेक्टर रवीन्द्र कुमार चौधरी ने चारों संक्रमित व्यक्तियों के स्वस्थ होने पर शुभकामनाएँ दी हैं। उन्होंने सीधी जिले के समस्त निवासियों से अपील की है कि कोरोना को हराना है, तो सूझबूझ एवं जिम्मेदार आचरण को अपनी दिनचर्या में शामिल करना होगा। उन्होंने कहा कि शासन एवं प्रशासन द्वारा कोरोना वायरस से बचाव के लिए जो भी निर्देश और सलाह दिए जाते हैं, उनका पालन करें। अनावश्यक घर से बाहर नहीं निकलें। अत्यंत आवश्यक होने पर जब भी बाहर आएँ, अपने चेहरे (नाक एवं मुँह) को मास्क, गमछे, दुपट्टे अथवा अन्य किसी साफ कपड़े से अनिवार्य रूप से ढँककर रखें। हाथों को चेहरे के पास ले जाने से बचें। नियमित रूप से हाथों को साबुन एवं पानी से विधिवत रूप से साफ करते रहें। बाहर निकलने पर शारीरिक दूरी अर्थात दो व्यक्ति आपस में न्यूनतम 2 गज की दूरी बनाकर रखें।



कलेक्टर श्री चौधरी ने कहा कि छोटे बच्चों, बुजुर्गों एवं अन्य बीमारी से ग्रसित बच्चों का पूरा ध्यान रखें और चिकित्सीय आपात के अलावा उन्हें घर से बाहर नहीं निकलने दें। उन्होंने कहा कि समय से जानकारी प्राप्त होने पर कोरोना वायरस का इलाज संभव है तथा इसके संक्रमण से अन्य व्यक्तियों का इलाज भी किया जा सकता है। उन्होंने अपील की है कि यदि किसी व्यक्ति को कोरोना वायरस( कोविड-19) से संक्रमण के लक्षण जैसे बुखार, सर्दी, खांसी, साँस लेने में तकलीफ हो तो इसकी जानकारी तत्काल जिला स्तरीय कंट्रोल रूम नंबर 07822-297521  या 07822-250123 पर उपलब्ध करायें। कलेक्टर श्री चौधरी ने कहा कि सभी की सक्रिय सहभागिता एवं आत्म अनुशासन से जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोका जा सकता है।



कलेक्टर श्री चौधरी द्वारा कोविड केयर सेन्टर में संलग्न चिकित्सीय स्टाफ, नर्सिंग स्टाफ और प्रबंधकीय कार्य में लगे हुए कर्मियों को 4 कोरोना पॉजिटिव मरीजों के ठीक हो जाने पर सराहना की गयी है तथा उन्हें अपनी सुरक्षा का भी पूरा ध्यान रखने की सलाह दी गयी है।

No comments:

Post a comment

Latest Post

सीधी में विकराल हुआ कोरोना, जिले में मिले 41 नए कोरोना संक्रमित मरीज।

जिले में मिले 41 नए कोरोना संक्रमित।  कुल संक्रमित 207 डिस्चार्ज 88 एक्टिव केस 118 सीधी: एक बार कोरोना मुक्त हो चुके मध्य...