Saturday, 16 May 2020

कोरोना की वजह से लॉक डाउन में फंसे 3522 प्रवासी मजदूर, विशेष श्रमिक ट्रेनों से पहुंचे रीवा।


रीवा: कोरोना वायरस संक्रमण के लॉकडाउन के कारण रीवा जिले सहित आसपास के जिलों के हजारों मजदूर अन्य प्रदेशों में फंसे हुए हैं। इनकी घर वापसी के लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के विशेष प्रयासों तथा केन्द्र सरकार एवं रेल विभाग के सहयोग से विशेष श्रमिक ट्रेनें चलायी जा रहीं हैं।

इसी क्रम में रीवा में 16 मई को चार विशेष श्रमिक ट्रेनों से लगभग 3522 प्रवासी मजदूर रीवा रेलवे स्टेशन पहुंचे। स्टेशन में इन मजदूरों के स्वास्थ्य की जांच की गयी। इसके बाद विशेष वाहनों से इन्हें उनके गन्तव्य के लिए भेजा गया।

इस संबंध में अपर कलेक्टर इला तिवारी ने बताया कि रीवा में 16 मई को चार विशेष ट्रेनें पहुंची। हबीबगंज से आयी ट्रेन से 1404 प्रवासी मजदूर यहां पहुंचे। आंगोल आंध्रप्रदेश से आयी ट्रेन से 479 प्रवासी मजदूर, पुणे से आयी प्रथम ट्रेन से 1002 प्रवासी मजदूर तथा पुणे से आयी दूसरी ट्रेन से 637 प्रवासी मजदूर रीवा पहुंचे। इन सभी मजदूरों के स्वास्थ्य की जांच रेलवे स्टेशन में बनाये गये शिविर में की गयी। इन मजदूरों को पानी, नाश्ता एवं भोजन देने के बाद परिवहन विभाग द्वारा विशेष बसों से संबंधित जिलों को भेजा गया।

रीवा जिले के मजदूरों को संबंधित एसडीएम के नेतृत्व में तैनात दल द्वारा उनके गन्तव्य स्थल तक पहुंचाया गया। अपर कलेक्टर ने कहा है कि बाहर से आये सभी मजदूर 14 दिनों तक क्वारेंटाइन में रहेंगे। कोई भी व्यक्ति इनसे संपर्क का प्रयास न करे। उन्होंने कहा है कि सभी प्रवासी मजदूर भी लॉकडाउन के नियमों तथा क्वारेंटाइन निर्देशों का पालन करें।

No comments:

Post a comment

Latest Post

सीधी: कोरोना का कहर जारी, जिले में मिले 18 नए कोरोना संक्रमित।

26 व्यक्तियों ने जीती कोरोना से जंग। कुल संक्रमित 814 डिस्चार्ज 573 एक्टिव केस 238 मृत्यु 3 सीधी: जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ० नागेंद्र बिहारी ...