Friday, 1 May 2020

स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट: सीधी, सिंगरौली सहित मध्यप्रदेश के 24 जिले ग्रीन जोन में शामिल।



  • केन्द्र के स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार देश में सभी जिलों को तीन कैटेगरी में बांटा गया है। ये कैटेगरी रेड जोन, ऑरेंज जोन और ग्रीन जोन हैं।
  • सीधी एवं सिंगरौली ग्रीन जोन कैटेगरी में।


भोपाल: देश के साथ साथ मध्यप्रदेश मध्यप्रदेश में भी कोरोना का कहर जारी है। कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। लेकिन इसी बीच एक राहत की खबर भी है, स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार मध्य प्रदेश के 24 जिले ग्रीन जोन में शामिल हुए हैं, जिसमें सीधी एवं सिंगरौली भी शामिल है। जबकि 19 जिले ऑरेंज जोन में है। सिर्फ 9 जिले ही रेड जोन में शामिल किए गए हैं।

केन्द्र के स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार देश में सभी जिलों को तीन कैटेगरी में बांटा गया है। ये कैटेगरी रेड जोन, ऑरेंज जोन और ग्रीन जोन में बटी हुई हैं। इन जिलों में पॉजिटिव केस की संख्या, डबलिंग रेट और टेस्टिंग के हिसाब से जिलों की नई सूची केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बनाई गई है।



केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार जिन जिलों में कोरोना का संक्रमण फैल रहा है और नए मरीज आ रहे हैं, उन जिलों को रेड जोन में शामिल किया गया है। जिन जिलों में 21 दिनों में कोई भी नया मामला सामने नहीं आया है, उसे ग्रीन जोन में रखा गया है। स्वास्थ्य सचिव ने सभी राज्यों को पत्र लिखकर कहा है कि 28 दिन की जगह 21 दिन तक यदि कोरोना का नया केस नहीं आता है तो उस जिले को रेड जोन से ग्रीन जोन में शिफ्ट कर दिया जाएगा। विभाग इसकी मॉनिटरिंग कर रहा है। हर सप्ताह जिलों की सूची को अपडेट किया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्रालय ने ये दिशा निर्देश दिए हैं कि रेड और ऑरेंज ज़ोन में कन्टेनमेंट के जरिए संक्रमण को फैलने से रोकें।



रेड जोन में शामिल जिले।
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल समेत इंदौर, उज्जैन, जबलपुर, धार, ईस्ट निमाड़, बड़वानी, देवास और ग्वालियर रेड जोन में बने हुए हैं. रेड जोन यानी वो जगह जहां कोरोना संक्रमण के मामले लगातार आते ही जा रहे हैं और फिलहाल घटने की कोई संभावना नहीं बन पा रही है।



ऑरेंज जोन में शामिल जिले।
खरगौन, रायसेन, होशगाबाद, रतलाम, आगर मालवा, मंदसौर, सागर, शाजापुर, छिंदवाड़ा, अलीराजपुर, टीकमगढ़, शहडोल, श्योपुर, डिंडोरी, बुरहानपुर, हरदा, बैतूल, विदिशा और मुरैना हैं। यह वो जोन है जिसमें संक्रमण के मामले तो हैं, लेकिन केसों की संख्या 10 से कम है। प्रदेश के इन जिलों में पॉजिटिव मरीजों की संख्या घटती जा रही है। इस के चलते ये उम्मीद की जा रही है कि ये जिले भी जल्द ग्रीन जोन में शामिल हो सकते हैं।



ग्रीन जोन वाले जिले।
सीधी, रीवा, अशोकनगर, राजगढ़, शिवपुरी, अनूपपुर, बालाघाट, भिंड, छतरपुर, दमोह, दतिया, गुना, झाबुआ, कटनी, मंडला, नरसिंहपुर, नीमच, पन्ना, सतना, सीहोर, सिवनी, उमरिया, सिंगरौली और निवाड़ी ग्रीन जोन में हैं। ग्रीन जोन का मतलब है कि यहां कोरोना की इंट्री नहीं है। ये इलाके अब तक कोरोना की पहुंच से दूर बने हुए हैं।

हला की रीवा, कटनी एवं अनूपपुर में कोरोना का संक्रमण पहुंच चुका है।

No comments:

Post a comment

Latest Post

सीधी: कोरोना का कहर जारी, मिले 24 नए कोरोना संक्रमित केस।

10 व्यक्तियों ने जीती कोरोना से जंग। कुल संक्रमित 717 डिस्चार्ज 531 एक्टिव केस 183 मृत्यु 3 सीधी : जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ० नागेंद्र बिहारी ...