Wednesday, 27 May 2020

सिंधिया के खिलाफ टिप्पणी करना प्रेमचंद गुड्डू को पड़ा भारी, भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से किये गये निष्कासित।


इंदौर: मध्यप्रदेश में होनें वाले 24 विधानसभा सीटों के उपचुनावों को लेकर अब राजनीतिक सरगर्मियां बढ़ गयी है। साथ ही दोनो मुख्य पार्टियों का एक दूसरे के ऊपर आरोप प्रत्यारोप का दौर भी चालू है। लेकिन इसी बीच प्रेमचंद गुड्डू द्वारा सिंधिया एवं तुलसी सिलावट पर दिया गया बयान उन पर भारी पड़ गया है। पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू को भाजपा ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया है। 



क्या है मामला।
प्रेमचंद गुड्डू नें ज्योतिरादित्य सिंधिया एवं उनके समर्थक एवं शिवराज सिंह चौहान सरकार में मंत्री तुलसी सिलावट के खिलाफ मोर्चा खोल रखा था। प्रेमचंद्र गुड्डू ने विधानसभा चुनाव 2018 में कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए थे। गुड्डू को भाजपा नें कारण बताओ नोटिस जारी किया था, जिसका जबाब गुड्डू नें ना देते हुये कहा था की, वो पहले ही भाजपा से त्यागपत्र दे चुकें है। गुड्डू के जबाब ना देनें को अनुशासनहीनता मानते हुए आज उन्हें पत्र लिखकर बीजेपी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित किया गया।



प्रेमचंद गुड्डू भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके समर्थक मौजूद सरकार में मंत्री तुलसीराम सिलावट के खिलाफ बयानबाजी कर चुके हैं। इसी के चलते पार्टी ने उनको नोटिस जारी किया था। लेकिन प्रेमचंद गुड्डू का कहना है कि वह फरवरी महीने में ही बीजेपी से इस्तीफा दे चुके हैं। वहीं पूर्व सांसद गुड्डू की कांग्रेस में वापसी की अटकलें लगाईं जा रही हैं। हाल ही में उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ से मुलाकात की थी। हला की उनकी कांग्रेस में वापसी को लेकर कांग्रेस में भी एक मत नही है, और उनका विरोध किया जा रहा है।



गौरतलब है की, पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू ने मीडिया के सामने आकर न सिर्फ सिलावट बल्कि सिंधिया पर भी जुबानी हमला बोल दिया था। यहां तक कि उन्होंने सिंधिया घराने के इतिहास पर कई सवाल खड़े कर दिए थे। उन्होंने सिंधिया परिवार और ज्योतिरादित्य सिंधिया को सामंती बताते हुए मंत्री सिलावट को ज्योतिरदित्य सिंधिया का चापलूस करार दिया। भाजपा नें पलटवार करते हुये गुड्डू को "ना घर का ना घात का" कहा था।


No comments:

Post a comment

Latest Post

खाली कुर्सियां देख भाजपा नेताओं पर फूटा उमा भारती का गुस्सा, जताई नाराजगी।

MP उपचुनाव:  मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव में अपनी पार्टियों को जीत दिलाने के लिए नेता पूरे जोरशोर से प्रचार में जुटे हैं। भारतीय जनता पार्ट...