Tuesday, 19 May 2020

कोविड-19 सैम्पल जांच मशीन खराब होनें से रीवा में नही हो पा रही टेस्टिंग, कलेक्टर ने इस संबंध में डीन से मांगी जानकारी।


रीवा: देश के साथ साथ मध्यप्रदेश में भी कोरोना का कहर जारी है। अगर बात मध्यप्रदेश के विंध्य क्षेत्र की करें तो यहां भी कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या रोजाना बढ़ती जा रही है। साथ ही विंध्य क्षेत्र में रोजाना प्रवासी मजदूरों की घर वापसी हो रही है। ऐसे में शुरुआती स्क्रीनिंग में जिन लोंगों में कोरोना जैसे लक्षण दिखतें हैं उनकी कोरोना जांच करवाना आवश्यक हो जाता है।

लेकिन रीवा स्थित कोरोना टेस्टिंग लैब की मशीन इस समय खराब चल रही है। बता दें  की, रीवा एवं शहडोल संभाग इसी लैब पे निर्भर था। लेकिन अब रीवा की मशीन खराब होने के कारण यहां के सभी सैंपल जबलपुर भेजे जातें है। जिससे रिपोर्ट आनें में देरी का सामना करना पड़ता है।

अब इस संबंध में, रीवा के कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी बसंत कुर्रे ने श्यामशाह चिकित्सा महाविद्यालय रीवा के डीन से कोविड-19 महामारी के सैम्पल जांच हेतु स्थापित मशीन में खराबी के संबंध में स्पष्टीकरण चाहा है। उन्होंने अपने पत्र में कहा है कि जिले में अन्य प्रदेशों से प्रवासी श्रमिकों व अन्य व्यक्तियों का आगमन हो रहा है ऐसे स्थिति में आवश्यक है कि संदिग्ध मरीजों की ज्यादा से ज्यादा सैम्पलिंग की जाय और उनकी जांच हो।

श्यामशाह चिकित्सा महाविद्यालय में स्थापित मशीन खराब है जिसके कारण जांच नहीं हो पा रही है। उन्होंने डीन से मशीन की खराबी तथा मरम्मत तथा रखरखाव के संबंध में वस्तु स्थिति से अवगत कराने की अपेक्षा की है। अब देखना यह होगा की, यह मशीन कब तक ठीक हो पाती है, जिससे की रीवा एवं शहडोल संभाग के सैंपल टेस्टिंग में तेजी आये।

No comments:

Post a comment

Latest Post

प्रवीण पाठक का हमला, कहा- एक राजघराने ने ग्वालियर को पूरे विश्व में शर्मसार कर दिया।

MP उपचुनाव : मध्यप्रदेश में 28 सीटों पर हो रहे उप चुनाव में गद्दारी और खुद्दारी का मुद्दा जोरों पर है। इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस लगातार भा...