Sunday, 5 April 2020

VIDEO: रीवा पुलिस की अनोखी पहल- लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों को माला पहनाकर उनकी आरती उतार, उन्हें घर जाने के लिए कहा गया।


रीवा: देेश के साथ साथ मध्यप्रदेश में भी कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है, जिसकी रोकथाम के लिये देश भर में 21 दिन यानी 14 अप्रैल तक लॉकडाउन घोषित है। देेेेश के साथ साथ मध्यप्रदेश की पुलिस लगातार लॉकडाउन को सफल बनानें के लिये दिन रात मेहनत कर रही है। इसी बीच मध्यप्रदेश के रीवा में एक बेहद अलग नजारा देखने को मिला जब पुलिस नें लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों को को माला पहनाकर, उनकी आरती उतार, उनसे हाथ जोड़कर उन्हें घर जाने के लिए विनती की।

दरअसल बीते दिनों रीवा पुलिस द्वारा पुजारी के साथ मारपीट के कारण, सोशल मीडिया पर सिविल लाइन थाना प्रभारी का  भारी विरोध देखनें को मिला था। इसके चलते आबिद खान द्वारा सभी थाना प्रभारियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं की लॉक डाउन का उल्लंघन करने वाले किसी भी व्यक्ति के ऊपर पुलिस डंडे नहीं मारेगी। उल्टा माला पहनाकर नारियल देकर उनकी आरती उतार, टीका लगाकर उन्हें घर जाने के लिए कहेगी। जिसके शनिवार की रात रीवा पुलिस ने यह अनोखी पहल करते हुए धारा 144 का उल्लंघन करने वालों को माला पहनाकर, उनकी आरती उतार, उनसे हाथ जोड़कर उन्हें घर जाने के लिए कहती हुई नजर आई।

लॉक डाउन का उल्लंघन करने वालों का फूल माला व तिलक से क्यों हुआ स्वागत?
रीवा जिले में लॉक डाउन का उल्लंघन करने वाले लोगों का आज फूल माला व तिलक से स्वागत इसलिए किया गया क्योंकि प्रशासन के हजार कोशिशों के बावजूद भी लोग सड़कों पर घूमते नजर आ रहे हैं। यह कार्यवाही पूरे जिले में एक साथ शुरू की गई है। जिससे शायद लोगों को पुलिस की इस पहल से कुछ समझ आए और लोग अपनी व अपने परिवार एवं समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारी समझें। इस दौरान रीवा पुलिस अधीक्षक आबिद खान एवं एडिशनल एसपी शिव कुमार वर्मा व डीएसपी यातायात मनोज वर्मा द्वारा लोगों की फूल माला देकर आरती उतारी गई।

पिछले दिनों रीवा पुलिस द्वारा पुजारी को बेरहमी से पीटने का मामला सुर्खियों में आया था।
गौरतलब है की, रीवा में ढेकहा स्थिति देवी मंदिर में पिछले  बुधवार रात करीब 50 लोग पहुंच गए और पूजा पाठ करने लगे। जिसकी सूचना पुलिस को मिली और मौके पर भारी पुलिस बल पहुंच गया। पुलिस ने पूजा कर रहे लोगों को वहां से खदेड़ दिया। पूजा पाठ में कई महिलाएं भी शामिल थीं। इस दौरान पुलिस ने मंदिर के पुजारी की पिटाई कर दी। पुलिस की पिटाई देख वहां मौजूद लोग मौके से भाग गए। जबकि कुछ महिलाएं पुलिस के बर्ताव को देखकर घरों में छुप गईं।  पुलिस नें पुजारी की पिटाई के साथ साथ पूजा की सामग्री को भी फेंक दिया था, इस दौरान किसी ने उनकी फोटो क्लिक कर सोशल मीडिया पर डाल दी थी। जैसे ही फोटो वायरल हुई लोगों में आक्रोश बढ़ गया एवं टीआई के रवैये की निंदा की जानी लगी थी।

देखें वीडियो👇


No comments:

Post a comment

Latest Post

जन्मदिन विशेष: जानिए पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें।

भोपाल/सीधी: मध्‍यप्रदेश कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और राज्‍य विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह " राहुल" का आज जन्मदिन है। अज...