Monday, 13 April 2020

रीवा में कोरोना की दस्तक: इंदौर से सतना होते हुये रीवा पहुंचा कोरोना, विंध्यवासियों नें जताया विरोध। VIDEO


रीवा: देश के साथ साथ मध्यप्रदेश में भी कोरोना का संक्रमण बढ़ता जा रहा है। प्रदेश भर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। कोरोना के फैलते संक्रमण के बाबजूद भी मध्यप्रदेश का विंध्य क्षेत्र अभी तक कोरोना से अछूता था, लेकिन अब कोरोना, मध्यप्रदेश के विंध्य क्षेत्र में सतना से होता हुआ रीवा प्रवेश कर गया है।

सतना सेंट्रल जेल से दो कोरोना पॉजिटिव कैदी रीवा संजय गांधी अस्पताल शिफ्ट किये गये।
सतना जिले से रेफर दो कैदियों को रीवा संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दोनों को अस्पताल के चौथी मंजिल पर कोरोना विशेष कॉरीडोर में रखा गया है। इससे पहले सतना जिले में ही दोनों कैदियों का सैंपल जांच के लिए जबलुपर भेजा गया था। रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर दोनों को कोरोना प्रोट्रोकॉल के तहत पुलिस की भारी सुरक्षा में एम्बुलेंस से रीवा लाया गया।

इंदौर से सतना जेल भेजे गए थे कैदी।
विंध्य क्षेत्र के सतना से कोरोना पॉजिटिव दो कैदियों को विशेष एम्बुलेंस से रीवा लाया गया। सतना कलेक्ट के लोकेशन पर यहां पर जिला प्रशासन ने नोडल अधिकारियों को अलर्ट कर दिया था। एम्बुलेंस के आने से पहले यहां पर पूरी तैयारी कर ली गई थी। जैसे ही एम्बुलेंस पॉजिटिव कैदियों को लेकर रीवा में प्रवेश हुआ। स्थानीय यातायात पुलिस की निगरानी में एम्बुलेंस को संजय गांधी अस्पताल के पिछले हिस्से में ले जाया गया। मर्चुरी के रास्ते पॉजिटिव मरीजों को संजय गांधी अस्पताल की चौथी मंजिल शिफ्ट किया गया।

विशेष वार्ड में, दोनों कैदियों को रखा गया।
मेडिकल कालेज के कोरोना नोडल डॉ. मनोज इंदुलकर ने बताया कि सतना से आए कोरोना पॉजीटिव मरीजों के लिए चौथी मंजिल के ए-ब्लॉक में कैदियों के लिए विशेष वार्ड बनाया गया है। चिकित्सकों ने बताया कि, जांच रिपोर्ट के आधार पर मरीजों से पूछताक्ष कर हिस्ट्री ली गई। यहां पर कैदियों के लिए आइसोलेट वार्ड में चार बेड लगाए गए हैं। गेट पर जेल पुलिस का पहरा लगा दिया गया है। वार्ड में सिर्फ अधिकृत चिकित्सक व स्वास्थ्य स्टाफ को ही प्रवेश मिल सकेगी।

डॉ पीके लखटकिया, अधीक्षक, एसजीएमएच नें क्या कहा?
सतना से रेफर होकर आए दो कैदियों को अस्पताल के चौथी मंजिल पर भर्ती किया गया है। इसके लिए पहले से ही तैयारी की गई है। कोरोना कॉरीडोर तैयार किया गया है। अस्पताल के सामान्य मरीजों से अलग चौथी मंजिल पर वार्ड बनाया गया है। पॉजिटिव मरीजों को वहीं पर भर्ती किया गया है। कोविड-१९ के मरीजों के लिए चिकित्सकों की विशेष टीम गठित की गई है।
डॉ पीके लखटकिया, अधीक्षक, एसजीएमएच

विंध्यवासियों नें जताया विरोध।
इंदौर के दो कैदियों, जो की कोरोना पॉजिटिव निकलें हैं, को सतना सेंट्रल जेल से होकर रीवा पहुंचनें पर विंध्य क्षेत्र की जनता नें कड़ा विरोध किया है। जैसी ही यह खबर आई की इंदौर से सतना सेंट्रल जेल भेजे गये दो कैदी कोरोना पॉजिटिव पाये गये है, सोशल मीडिया के जरिए लोंगों नें इसका विरोध करना चालू कर दिया। उसके बाद जैसे ही यह खबर मिली की अब दोनों कैदियों को रीवा संजय गांधी हॉस्पिटल में शिफ्ट किया जा रहा है, विरोध और भी तेज हो गया है। सोशल मीडिया के जरिए विंध्य क्षेत्र की जनता मांग कर रही है की, तत्काल दोनों कोरोना पॉजिटिव कैदियों को विंध्य से बाहर भेजा जाय।

देंखें वीडियो👇

No comments:

Post a comment

Latest Post

अजय सिंह का कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संदेश, कहा- उपचुनाव में कांग्रेस को जिताने पूरी ताकत से जुट जायें।

भाजपा को सबक सिखाने का समय आ गया है: अजय सिंह। कांग्रेस की जीत से पूरे देश में सरकार गिराने- बनाने में सौदेबाजी के खिलाफ संदेश जायेगा: अजय स...