Tuesday, 14 April 2020

रीवा: कांग्रेस के पूर्व विधायक सुखेंद्र सिंह बन्ना सहित कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लॉकडाउन के उल्लंघन में FIR दर्ज, पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह नें इसे बदले की भावना से की गई कार्यवाही बताया।


रीवा: मऊगंज से कांग्रेस के पूर्व विधायक सुखेंद्र सिंह बन्ना सहित कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लॉकडाउन के उल्लंघन पर मुकदमा दर्ज किया गया है। कल दिनांक 13 अप्रैल को पूर्व विधायक सुखेंद्र सिंह बन्ना सहित कांग्रेस के कुछ कार्यकर्ता, कोरोना पॉजिटिव दो कैदियों को संजय गांधी हॉस्पिटल रीवा शिफ्ट किये जानें के विरोध में रीवा कलेक्टर को ज्ञापन देनें के लिये इकट्ठा हुये थे। जिसे लॉकडाउन का उल्लंघन मानते हुये पूर्व विधायक सहित कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर मुकदमा दायर कर दिया गया है। जिस पर मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह की कड़ी प्रतिक्रिया आई है, उन्होनें कहा की शिवराज सरकार राजनैतिक बदले की भावना से कार्य कर रही है। बता दें की, देश के साथ साथ मध्यप्रदेश में भी कोरोना के बढ़ते हुये संक्रमण को देखते हुये 14 अप्रैल यानी आज तक का लॉकडाउन घोषित था, जिसे बढ़ाकर अब 3 मई तक कर दिया है।



आइये जानते हैं, क्या है पूरा मामला?
कुछ दिनों पहले इंदौर से रासुका के तहत कैदियों को सतना सेंट्रल जेल भेजा गया गया था। जहां जांच के बाद दो कैदी कोरोना पॉजिटिव निकले थे। बाद में दोनों कोरोना पॉजिटिव कैदियों को रीवा रेफर कर संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। दोनों को अस्पताल के चौथी मंजिल पर कोरोना विशेष कॉरीडोर में रखा गया था। दोनों को कोरोना प्रोट्रोकॉल के तहत पुलिस की भारी सुरक्षा में एम्बुलेंस से रीवा लाया गया था। हला की व्यापक विरोध के बाद दोनों कोरोना संक्रमित कैदियों को आज भोपाल भेज दिया गया है।



क्या कहा था, पूर्व विधायक सुखेंद्र सिंह बन्ना नें?
पूर्व कांग्रेस विधायक सुखेंद्र सिंह नें कड़ा विरोध जताते हुये कहा था की, कोरोना के संक्रमण कों विंध्य से दूर रखनें के लिये रीवा सहित पूरे विंध्य की जनता नें सरकार द्वारा दिये गये निर्देशों का पूर्ण रूप से पालन किया। लेकिन अब साजिस के तहत कोरोना को रीवा शिफ्ट कर दिया गया, जिसका हम विरोध करतें है। 



साथ ही पूर्व कांग्रेस विधायक नें कांग्रेस शहर अध्यक्ष एवं ग्रामींण अध्यक्ष के साथ मिलकर रीवा कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते हुये 48 घंटे का अल्टीमेटम देते हुये कहा था- यदि 48 घंटे के अंदर दोनों कोरोना पॉजिटिव कैदियों को रीवा से बाहर नही भेजा गया तो हम लॉकडाउन माननें को बाध्य नही हैं और जेल जानें को भी तैयार हैं।

देखें वीडियो, पूर्व विधायक नें क्या कहा था👇

पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह नें, पूर्व विधायक एवं कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर दर्ज FIR को शिवराज सरकार द्वारा बदले की कार्यवाही बताया।
पूर्व नेता प्रतिपक्ष श्री अजय सिंह ने कोरोना जैसी महामारी के संकट में भी भाजपा सरकार द्वारा बदले की भावना से की जा रही कार्यवाही पर कड़ी आपत्ति जताई है। श्री सिंह ने कहा कि संकट के इस दौर में भाजपा अपने मूल चरित्र के अनुरूप राजनीतिक बदले की भावना से काम कर रही है।


श्री अजय सिंह ने कहा कि कांग्रेस विधायक श्री सिध्दार्थ कुशवाहा के बाद अब रीवा में पूर्व विधायक श्री सुखेन्द्र सिंह बना एवं अन्य कार्यकर्ताओं पर बदले की भावना से कार्यवाही की गई और उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया।



श्री सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान अभी अपना ध्यान सिर्फ कोरोना महामारी की रोकथाम के प्रयासों पर केन्द्रित करें। राजनीतिक बदले की भावना से काम करने के लिए उनके पास आगे समय रहेगा जिसका हम लोकतांत्रिक तरीके से उन्हें मुंहतोड़ जवाब भी दे सकेंगे।

No comments:

Post a comment

Latest Post

ललित सुरजन का निधन पत्रकारिता के लिए बड़ी क्षति: अजय सिंह।

ललित सुरजन में मायाराम सुरजन के पूरे गुण विद्यमान थे: अजय सिंह। भोपाल: मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि मै...