Sunday, 19 April 2020

इन्दौर: कोरोना संक्रमित पुलिस अधिकारी की मौत, डॉक्टर के मुताबिक मौत की वजह कार्डियक अरेस्ट ! सीएम शिवराज सिंह नें जताया दुख।


इन्दौर: देश के साथ साथ मध्यप्रदेश में भी कोरोना का कहर जारी है। कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। इसी बीच इन्दौर से एक दुखद खबर आयी है। इंदौर के जुनी थाना प्रभारी देवेंद्र चंद्रवंशी कोरोना से संक्रमित थे, उनका इलाज इंदौर के ही अरविंदो अस्पताल में हो रहा था। जिसके बाद शनिवार देर रात टीआई चंद्रवंशी की मौत हो गई। डीआईजी  ने टीआई की मौत की पुष्टि की है। पहले माना जा रहा था की उनकी मौत कोरोना की वजह से हुई है। हला की बाद में अरविंदो हॉस्पिटल के डॉक्टर नें उनकी मौत की वजह कार्डियक अरेस्ट बताया है।



क्या कहा? डॉ. विनोद भंडारी, एमडी (अरविंदो हॉस्पिटल) नें।
डॉ. विनोद भंडारी, एमडी (अरविंदो हॉस्पिटल) के मुताबिक जूनि इंदौर थाना प्रभारी देवेंद्र चंद्रवंशी 19 दिन से अरविंदो हॉस्पिटल में भर्ती थे। उन्हें 31 मार्च को एडमिट किया था, उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव थी। डॉ भंडारी ने बताया 10 तारीख तक उनकी हालत में सुधार नहीं आ रहा था। जिसके बाद कई विशेषज्ञों की सलाह के बाद उन्हें एक इंजेक्शन दिया गया और उनकी रिपोर्ट फिर से भेजी गई जो 13 अप्रैल को फिर से पॉजिटिव आई थी। उनका इलाज जारी रहा, जिसके बाद 16 और 17 अप्रैल को उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी। मरीज के राइट साइड के लंग्स में 85 परसेंट इम्प्रूवमेंट था। उन्हें डिस्चार्ज करने का विचार शुरू हो गया था। इस बीच कल रात 11.30 बजे उन्हें अचानक सांस चली और हार्ट रेट तेज हो गई और उनको कार्डियक अरेस्ट हो गया। डॉ. के मुताबिक उन्हें आशंका है कि पल्मोनरी एम्बोलिस्म की वजह से उनकी मौत हो गई।



सीएम शिवराज सिंह नें जताया दुख।
सीएम शिवराज सिंह ने ट्वीट कर देवेंद्र चंद्रवंशी के निधन पर दुःख जताया। उन्होंने लिखा- ‘इंदौर की हमारी पुलिस टीम के कर्तव्यनिष्ठ सदस्य, पूर्व थाना प्रभारी, निरीक्षक श्री देवेंद्र कुमार जी ने कोरोना से जंग में कर्तव्य की बलिवेदी पर अपने प्राण न्योछावर कर दिये।



इंदौर के अरविंदों अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था और हाल ही में उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आयी थी और ये हमारे लिए एक अच्छी खबर थी। लेकिन कल देर रात अचानक ही 2:00 बजे उनकी मृत्यु का दुःखद समाचार मिला।



मुख्यमंत्री ने कहा”मैं उनके चरणों में श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ। इस संकट की घड़ी में मेरे साथ पूरा प्रदेश उनके साथ खड़ा है। शोकाकुल परिवार को राज्य शासन की ओर से सुरक्षा कवच के रूप में ₹50 लाख राशि व उनकी पत्नी श्रीमती सुषमा जी को विभाग में उप निरीक्षक के पद पर नियुक्ति दी जा रही है”।

No comments:

Post a comment

Latest Post

सीधी: कोरोना का कहर जारी, जिले में मिले 18 नए कोरोना संक्रमित।

26 व्यक्तियों ने जीती कोरोना से जंग। कुल संक्रमित 814 डिस्चार्ज 573 एक्टिव केस 238 मृत्यु 3 सीधी: जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ० नागेंद्र बिहारी ...