Saturday, 18 April 2020

पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह की सरकार से मांग, कहा- गेहूं खरीदी के बाद किसानों को तत्काल करें पूरा भुगतान।


भोपाल: पूर्व नेता प्रतिपक्ष श्री अजय सिंह ने कहा है कि एक ओर सरकार कोरोना महामारी के समय लोगों को राहत देने बात कर रही है और दूसरी ओर शिवराज सरकार गेहूं खरीदी में किसानों की बकाया राशि काटकर उन्हें भुगतान कर रही है। श्री सिंह ने किसानों से फसल ऋण की बकाया राशि फिलहाल न काटने की मांग की है।



श्री अजय सिंह ने आर्थिक स्थिति जो पूर्व से ही जर्जर थी वो अब धराशायी होने की स्थिति  में है। ऐसे समय सरकार को किसानों की पीड़ा समझना चाहिए। जिन किसानों ने सब्जी फूल फल की खेती थी वह लॉकडाउन के कारण एक बड़ा घाटा दे गई। ऐसी स्थिति में सरकार को चाहिए कि वह विपरीत समय में किसानों को राहत देने पर विचार करे न कि उनसे वसूली हो। उन्होंने कहा कि पूरे  प्रदेश से यह शिकायत आ रही है कि किसानों को भुगतान कटौती के साथ हो रहा है। श्री सिंह  ने कहा  कि शिवराज जब मुख्यमंत्री नहीं थे तब उन्होंने उज्जैन में कहा था कि “ मैं मुख्यमंत्री होता तो खेत की मिट्टी  भी 2100 के भाव बिकवा देता।” आज जब वे मुख्यमंत्री हैं तो किसानों का गेहूं 1925 रूपये में खरीद रहे हैं वहीं बकाया राशि काटकर किसानों के साथ संकट के समय उन्हें दोहरी मार दे रहे हैं।



पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने सरकार से मांग की है कि वे तत्काल गेहूं खरीदी के बाद किसानों को पूरा भुगतान करें और फिलहाल बकाया राशि काटने पर आदेश निकालकर रोक लगायें।



No comments:

Post a comment

Latest Post

किसान आंदोलन को हल्के में न ले केंद्र सरकार, कृषि संबंधी काले क़ानूनों के गंभीर दुष्परिणाम होंगे: अजय।

शिवराज सिंह केंद्र की हाँ में हाँ न मिलाकर प्रधानमंत्री को बताएं जमीनी हकीकत: अजय सिंह। भोपाल: पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि क...