Monday, 13 April 2020

इंदौर से रासुका के अपराधियों को सतना भेजे जानें और उनके कोरोना संक्रमित निकलनें पर, पूर्व सीएम कमलनाथ नें खड़ें किये सवाल।


सतना/ रीवा/ भोपाल: देश के साथ साथ मध्यप्रदेश में भी कोरोना का संक्रमण बढ़ता जा रहा है। प्रदेश भर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। कोरोना के फैलते संक्रमण के बाबजूद भी मध्यप्रदेश का विंध्य क्षेत्र अभी तक कोरोना से अछूता था, लेकिन अब कोरोना मध्यप्रदेश के विंध्य क्षेत्र में सतना से होता हुआ रीवा प्रवेश कर गया है।



बता दें, की इंदौर से सतना सेंट्रल जेल भेजे गये रासुका के दो कैदी कोरोना पॉजिटिव निकले थे, जिन्हें  बाद में रीवा के संजय गांधी हॉस्पिटल शिफ्ट कर दिया गया है। इंदौर से रासुका के कैदियों के सतना भेजे जानें (जिसमें से  कैदी करोना पॉजिटिव पाये गये हैं) पर मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ नें सवाल खड़ा किया है।



पूर्व सीएम नें क्या कहा?
मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ नें, इंदौर से सतना भेजे गये कैदियों, जिसमें से दो कोरोना पॉजिटिव निकालें हैं, के संदर्भ में ट्वीट करते हुये कहा- बड़ा ही आश्चर्यजनक है कि जब प्रदेश में लॉक डाउन है , कई जिलो में कर्फ़्यू है , कई जिलो की सीमा सील है , कोरोना के संक्रमण को देखते हुए आमजन को भी एक ज़िले से दूसरे ज़िले में जाने की इजाज़त नहीं है, और ऐसे में इंदौर से रासुका के अपराधियों को सतना भेज दिया गया और वो कोरोना संक्रमित निकले। इससे तो कोरोना का संक्रमण अन्य जिलो में भी फैलेगा।


क्या है, मामला?
गौरतलब है की, इंदौर से रासुका के तहत कैदियों को सतना सेंट्रल जेल भेजा गया था, जिसमें से दो कैदी कोरोना पॉजिटिव निकले। बाद में दोनों कोरोना पॉजिटिव कैदी रीवा संजय गांधी अस्पताल शिफ्ट किये गये । दोनों को अस्पताल के चौथी मंजिल पर कोरोना विशेष कॉरीडोर में रखा गया है। इससे पहले सतना जिले में ही दोनों कैदियों का सैंपल जांच के लिए जबलुपर भेजा गया था। रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर दोनों को कोरोना प्रोट्रोकॉल के तहत पुलिस की भारी सुरक्षा में एम्बुलेंस से रीवा लाया गया।

दोनों कैदियों को सतना से विशेष एम्बुलेंस से रीवा लाया गया। सतना कलेक्ट के लोकेशन पर यहां पर जिला प्रशासन ने नोडल अधिकारियों को अलर्ट कर दिया था। एम्बुलेंस के आने से पहले यहां पर पूरी तैयारी कर ली गई थी। जैसे ही एम्बुलेंस पॉजिटिव कैदियों को लेकर रीवा में प्रवेश हुआ। स्थानीय यातायात पुलिस की निगरानी में एम्बुलेंस को संजय गांधी अस्पताल के पिछले हिस्से में ले जाया गया। मर्चुरी के रास्ते पॉजिटिव मरीजों को संजय गांधी अस्पताल की चौथी मंजिल शिफ्ट किया गया था।

No comments:

Post a comment

Latest Post

सीधी: कोरोना का कहर जारी, जिले में मिले 18 नए कोरोना संक्रमित।

26 व्यक्तियों ने जीती कोरोना से जंग। कुल संक्रमित 814 डिस्चार्ज 573 एक्टिव केस 238 मृत्यु 3 सीधी: जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ० नागेंद्र बिहारी ...