Tuesday, 7 April 2020

ट्रंप की चेतावनी एवं अन्य पड़ोसी देशों की गुजारिश पर, भारत द्वारा हाइड्रोक्सिक्लोरोक्वीन और पैरासिटामॉल के सप्लाई की दी गई इजाजत।


नई दिल्ली: कोरोना का कहर पूरे विश्व में लगातार जारी है, ऐसे में अब अमेरिका को कोरोना के इलाज में इस्तेमाल हो रही महत्वपूर्ण दवा "हाइड्रोक्सिक्लोरोक्वीन" की कमी का डर सतानें लगा है। जिसे देखते हुये अमेरिकन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप नें पिछले दिनों भारत के प्रधानमंत्री से बात कर "हाइड्रोक्सिक्लोरोक्वीन" सप्लाई करनें की गुजारिश की थी। लेकिन बाद में ट्रंप ने  भारत को 'चेतावनी' देते हुये मंगलवार को कहा है कि अगर भारत कोरोनोवायरस से लड़ने के लिए महत्वपूर्ण दवा का निर्यात नहीं करता है तो 'उसे अमेरिका का बदला झेलना पड़ सकता है।



जिसे देखते हुए भारत सरकार खतरनाक कोरोना वायरस के इलाज में प्रभावी मलेरिया की दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन और पैरासिटामॉल के निर्यात से बैन हटाने के लिए तैयार हो गई है।
विदेश मंत्रालय (MEA) ने सैद्धांतिक तौर पर फैसला ले लिया है कि कोरोना वायरससे प्रभावित अमेरिका समेत पड़ोसी देशों को इन जरूरी दवाओं की सप्लाई की जाएगी।



विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को जानकारी दी कि कोरोना महामारी से इस वक्त भारत समेत विश्व के तमाम देश जूझ रहे हैं। ऐसे में इस संकट में मानवीय आधार पर हमने फैसला लिया है कि पड़ोसी देशों को पैरासिटामॉल और हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवाओं की पर्याप्त मात्रा की सप्लाई की अनुमति दी जाए।



बता दें की, अमेरिका, ब्राजील, स्पेन और जर्मनी समेत करीब 30 देशों से कोरोना संकट के दौरान हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के निर्यात के लिए भारत से अनुरोध किया है और इनमें से ज्यादातर देशों ने बैन हटाने की भारत से मांग की थी।



अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खुद कहा की उन्होंने भारत से अनुरोध किया है कि अमेरिका ने हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन खरीद का जो ऑर्डर दिया है, भारत उसका निर्यात करे। इसके अलावा ब्राजील के राष्ट्रपति ने भी ट्वीट के जरिये जानकारी दी है कि भारत से हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के लिए अनुरोध किया गया है।



भारत हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन का सबसे बड़ा निर्यातक देश है।हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन का इस्तेमाल मलेरिया के इलाज में होता है और भारत में मलेरिया के मरीजो की संख्या बहुत है, इसलिए भारत मे हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन का उत्पादन अधिक होता है और ये सबसे बड़ा निर्यातक भी है।

No comments:

Post a comment

Latest Post

बिहार News: JDU में शामिल हुए पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय, CM नीतीश कुमार ने दिलाई सदस्यता।

बिहार: पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने आज जनता दल यूनाइटेड (JDU) की सदस्यता ग्रहण कर ली। पटना में मुख्यमंत्री आवास में सीएम नीतीश कुमार न...