Wednesday, 22 April 2020

लॉकडाउन के बीच भाजपा सांसद रीति पाठक के दिल्ली से सीधी-सिंगरौली पहुंचनें का हो रहा व्यापक विरोध, 14 दिन तक क्वारंटाइन करनें की मांग हुई तेज।


सीधी / सिंगरौली / व्यौहारी: देश के साथ साथ मध्यप्रदेश में भी कोरोना का कहर जारी है। कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। जिसकी रोक-थाम के लिये देशभर में 14 अप्रैल का लॉकडाउन निर्देशित था जिसे बढ़ाकर अब 3 मई तक कर दिया गया है। लेकिन इसी बीच सीधी-सिंगरौली संसदीय क्षेत्र की भाजपा सांसद रीति पाठक दिल्ली से सीधी होते हुये सिंगरौली पहुंची थी, और अब वह अपनें संसदीय क्षेत्र जिसमें सीधी, सिंगरौली के अलावा व्यौहारी भी शामिल है, में लगातार भ्रमण कर रही है। इस दौरान वो प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक के साथ साथ पत्रकार वार्ता भी कर रहीं हैं।




ऐसे में जब देशभर में लॉकडाउन है, किसी को भी कहीं आने जानें की इजाजत नही है, सांसद रीति पाठक का दिल्ली से सीधी- सिंगरौली पहुंचनें का विरोध चालू हो गया है। सांसद रीति पाठक के संसदीय क्षेत्र के लोग इसे लॉकडाउन का उल्लंघन बता रहें हैं, साथ ही उन्हें 14 दिन तक क्वारंटाइन करनें की भी मांग तेज हो गयी है।


सीधी युवा कांग्रेस अध्यक्षा रंजना मिश्रा सहित एक प्रतिनिधि मंडल, सीधी कलेक्टर को ज्ञापन देकर सांसद रीति पाठक को 14 दिन तक क्वारंटाइन करनें की मांग की।
सीधी जिले का एक प्रतिनिधि मंडल कलेक्टर रवीन्द्र चौधरी से मिलकर, सांसद का कोरोना टेस्ट करानें या तो 14 दिन तक क्वारंटाइन करनें की मांग की। साथ ही प्रतिनिधि मंडल नें ये भी मांग की, सांसद के सम्पर्क में जो भी लोग आयें है, जिसमें प्रशासनिक अधिकारी भी शामिल हैं उन सभी का टेस्ट करवाया जाय जिससे की शहर में भय का माहौल ना रहे और लोग मानसिक र से फ़्री हो सकें।



सोशल मीडिया में दिख रहा व्यापक विरोध।
लॉकडाउन के बीच सांसद रीति पाठक का दिल्ली से अपनें गृह क्षेत्र पहुंचनें  का, अब सोशल मीडिया में व्यापक विरोध देखनें को मिल रहा है। लोग इसे लॉकडाउन का उल्लंघन बता रहें।

नीरज कुंदेर लिखते है, ये दोहरा मापदंड क्यों? आम आदमी के लिये अलग नियम एवं सांसद के लिये अलग?




सीधी की छात्रा प्रीती, जो लॉकडाउन के बीच इन्दौर में फसीं हैं, लिखती हैं- की वो भी इन्दौर में हैं, उनके घर वाले भी चिंतित है। उन्हे भी इन्दौर में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा पर फिर भी वो अपनें घर सीधी जानें का प्रयास नही कर रही, क्योकिं वो अपनी जिम्मेदारी समझतीं हैं और नही चाहती की उनकी वजह से सीधी में रिस्क को बढ़ाया जाय। उन्होनें सांसद के बारे में कहा की मैडम को लॉकडाउन का नियम पता नही है, उनके लिये क्या नियम कानून नही है। साथ ही उन्होँने कहा की सांसद मैडम को लाइम लाईट में रहनें की आदत है, और उनके लिये जनता की सुरक्षा महत्व नही रखती।




सीधी जिले के वरिष्ठ पत्रकार रामबिहारी पांडेय नें भी सवाल उठाये।

सुमित मिश्रा नें भी सांसद के कोरोना टेस्ट की मांग की।



कांग्रेस के जिला प्रवक्ता प्रदीप सिंह नें सांसद को क्वारंटाइन करनें की माांग की।



राजीव सिंह भी सांसद को क्वारंटाइन करनें की बात कही।






गौरतलब है की, सिंगरौली युवा कांग्रेस अध्यक्ष प्रवीण सिंह चौहान नें भी, सीधी-सिंगरौली से भाजपा सांसद रीति पाठक पर लॉकडाउन का उल्लंघन करनें का आरोप लगाया था।

देखिये वीडियो, प्रवीण सिंह नें क्या कहा था 👇



No comments:

Post a comment

Latest Post

बिहार News: JDU में शामिल हुए पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय, CM नीतीश कुमार ने दिलाई सदस्यता।

बिहार: पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने आज जनता दल यूनाइटेड (JDU) की सदस्यता ग्रहण कर ली। पटना में मुख्यमंत्री आवास में सीएम नीतीश कुमार न...