Monday, 9 March 2020

सिंधिया की सियासी चाल: कमलनाथ सरकार से लेकर कांग्रेस आलाकमान तक की नीद उड़ी, सभी मंत्रियों नें दिया इस्तीफ़ा।


भोपाल/ नई दिल्ली: पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं कांग्रेस के कद्दावर नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के सियासी चाल नें, मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार से लेकर कांग्रेस आलाकमान तक की नीद उड़ा दी है। इसी बीच खबर है की, कमलनाथ सरकार के सभी मंत्रियों नें इस्तीफा दे दिया है। सभी ने अपना इस्तीफा मुख्यमंत्री कमलनाथ को सौंपा है। जिसके बाद अब कमलनाथ को नए मंत्रिमंडल के गठन का अधिकार मिल गया है।

सिलसिलेवार तरीके से जानिए, अभी तक के सियासी घटनाक्रम के बारे में।
सिंधिया समर्थक विधायकों और मंत्रियों के फोन बंद।
कहा जा रहा है कि मंत्री समेत कांग्रेस के 17 विधायक बेंगलुरू में हैं, जिनके फोन बंद हैं। साथ ही उनके लोग भी कुछ जानकारी नहीं दे रहे हैं। इस बीच एक चार्टर विमान से जाने वाले विधायकों की सूची सामने आई है। ये लोग एक प्राइवेट प्लेन से दिल्ली से बेंगलुरू गए हैं। बेंगलुरू जाने वाले विधायकों औ मंत्रियों की सूची में राजवर्धन सिंह, मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर, बंकिम सिलावट, गिर्राज दंडोतिया, मीस रक्षा, जसवंत जाटव, सुरेश धाकड़, जजपाल सिंह, बृजेंद्र यादव और पुरुषोतम पराशर हैं। ये सभी लोग सिंधिया गुट के हैं। इन सभी लोग के फोन बंद बताए जा रहे हैं। पार्टी इनसे कोई संपर्क स्थापित नहीं कर पा रही है। इस बीच भोपाल में खलबली बढ़ गई। क्योंकि इतनी बड़ी संख्या में विधायकों के गायब होने के बाद कमलनाथ सरकार की टेंशन बढ़ गई है। 


सिंधिया को मिल सकती है जिम्मेदारी।
साथ ही यह खबर थी कि, कमलनाथ के साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया भी दिल्ली से साथ लौटनें वालें है, लेकिन सिंधिया दिल्ली में टिके हुयें हैं। खबर यह भी है की, सिंधिया के पीसीसी चीफ़ बनाये जाने के नाम पर कमलनाथ तैयार नही है, वो उन्हें राज्यसभा में भेजनें के लिये सहमत हों सकतें है। तो वहीं दूसरी ओर सिंधिया इस बार आर पार के मूड में है, और माननें को तैयार नहीं है।




सिंधिया भाजपा के संपर्क में भी।
मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार पर मंडरा रहे खतरे के बीच बड़ी जानकारी सामने आई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, रविवार की शाम कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया की मुलाकात बीजेपी के बड़े नेताओं से हुई है। इस मुलाकात में सिंधिया को राज्यसभा भेजने के फॉर्मूले पर सहमति बनी है
हालांकि, सूत्रों के मुताबिक सिंधिया केंद्र में कैबिनेट मंत्री का पद भी चाहते हैं।अब सवाल ये है कि क्या सिंधिया का कांग्रेस से मोहभंग हो चुका है? सिंधिया के पीएम मोदी से भी मिलनें की खबर है।



सिंधिया, राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट से मिले।
कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने घर पहुंच चुके हैं, वे दिल्ली में अपने घर खुद ही कार चलाकर पहुंचे हैं, बताया जा रहा है कि वे राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट से मिलकर आ रहे हैं। सिंधिया के मूवमेंट से कमलनाथ सरकार पर संकट गहरा गया है। दिल्ली से जुड़े सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि सिंधिया दिल्ली में थोड़ी देर बाद बड़ा ऐलान कर सकते हैं। 



भोपाल: सीएम हाउस में सरगर्मियां तेज, पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह, पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह एवं सरकार के कई मंत्री, सीएम हाउस में हुई मीटिंग में हुए शामिल।
कैबिनेट मंत्री प्रियव्रत सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह एवं पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह सीएम हाउस पहुंचे। साथ ही कमलनाथ और दिग्विजय सिंह खेमे के मंत्री अब भोपाल पहुंचने लगे हैं। प्रदेश के दूसरे हिस्से में मौजूद मंत्रियों को हेलीकॉप्टर भेजकर भोपाल बुलाया जा रहा है।


अजय सिंह पहुंचे सीएम हाउस 👇



No comments:

Post a comment

Latest Post

सीधी: कोरोना का कहर जारी, मिले 24 नए कोरोना संक्रमित केस।

10 व्यक्तियों ने जीती कोरोना से जंग। कुल संक्रमित 717 डिस्चार्ज 531 एक्टिव केस 183 मृत्यु 3 सीधी : जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ० नागेंद्र बिहारी ...