Wednesday, 4 March 2020

म.प्र. की सियासत में "मिड नाइट ड्रामा", मंत्री जय-जीतू की जोड़ी नें बसपा विधायक रामबाई को हरियाणा के होटल से किया रेस्क्यू।


नई दिल्ली/भोपाल: मध्यप्रदेश की सियासत में मंगलवार देर रात तक चले "मिड नाइट ड्रामे " की वजह से सियासी भूचाल आ गया। कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने आरोप लगाया कि भाजपा ने मध्यप्रदेश के 8 से 10 विधायकों को बंधक बना लिया है। वहीं, विधायकों के बंधक होने की जानकारी जैसे ही कांग्रेस के नेताओं को मिली तो देर रात मंत्री जयवर्धन सिंह और जीतू पटवारी विधायकों को छुड़वाने के लिए दिल्ली रवाना हो गए थे।



10 विधयाकों को बंधक बनाये जानें की आई थी खबर।
प्राप्त जानकारी के अनुसार भाजपा ने कांग्रेस के एंदल सिंह कंसाना, बसपा की राम बाई, सपा के राजेश शुक्ला, निर्दलीय विधायक सुरेन्द्र सिंह शेरा समेत 10 विधायकों को हरियाणा के होटल आईटीसी ग्रैंड में रखा था। उनके साथ भाजपा नेता नरोत्तम मिश्रा, भूपेन्द्र सिंह, अरविंद सिंह भदौरिया और संजय पाठक भी मौजूद थे। इसके बाद कांग्रेस ने मंत्री जयवर्धन सिंह और जीतू पटवारी को तत्काल दिल्ली रवाना किया। वहीं, दिग्विजय सिंह भी होटल पहुंचे।



हरियाणा पुलिस नें कांग्रेस नेताओं को अन्दर जानें से रोका।
प्राप्त जानकारी के अनुसार, तीनों नेताओं को हरियाणा पुलिस ने अंदर जाने से रोक दिया था। दिग्विजय सिंह की तीखी बहस भी हुई। उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाया कि भाजपा ने विधायकों के साथ मारपीट भी की है।

मंत्री तरुण भनोत ने भाजपा पर लगाया आरोप।
मध्यप्रदेश के वित्त मंत्री तरुण भनोत ने आरोप लगाया कि भाजपा विधायक अरविंद भदौरिया 4 विधायकों को लेकर कर्नाटक गए हैं। कांग्रेस ने इस दौरान दावा भी किया कि 10 में से 6 विधायकों को छुड़ा लिया गया है। वहीं, इस पूरे मामले में कांग्रेस आज मीडिया से बात करेगी। मध्यप्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री ने पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान, बीजेपी नेता नरोत्तम मिश्रा और पूर्व गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह पर सत्तारूढ़ पार्टी के विधायकों को पैसे का लालच देने का आरोप लगाया है।



मंत्री जयवर्धन सिंह एवं जीतू पटवारी होटल जाकर, बसपा विधायक रामबाई को लाए अपनें साथ।
रात भर चले सियासी घमासान के बीच, कांग्रेस की तरफ से मंत्री जयवर्धन सिंह एवं जीतू पटवारी नें महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। जैसे ही कांग्रेस को भनक लगी की भाजपा नें 10 विधायकों को हरियाणा शिफ्ट किया है, कांग्रेस नें इन दोनों मंत्रियों को फौरन दिल्ली रवाना कर दिया। दोनों मंत्रियों नें हरियाणा पहुंचकर, होटल से बसपा विधायक रामबाई को अपनें साथ ले लिया, और अब खबर है की विधायक रामबाई कांग्रेस के साथ हैं।

No comments:

Post a comment

Latest Post

बिजली समस्या को लेकर कांग्रेस की चुरहट इकाई नें, मवई विद्युत वितरण केन्द्र का किया घेराव।

सीधी / चुरहट: काग्रेस पार्टी (चुरहट इकाई) द्वारा बिजली की समस्या को लेकर मवई डी.सी. कार्यालय का घेराव किया गया। गरीब मजदूर, आम जनता एवं किसा...