Thursday, 5 March 2020

कमलनाथ सरकार की मुश्किलें और बढ़ी, विधायक हरदीप सिंह डंग नें विधानसभा से दिया इस्तीफ़ा।


भोपाल: मध्यप्रदेश की राजनीति में चल रहे सियासी उठापटक के बीच, पिछले 3 दिनों से लापता चल रहे कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग नें विधानसभा से इस्तीफ़ा दे दिया है। जिससे अब कांग्रेस की मुश्किलें और भी बढ़ती नजर आ रही है।प्राप्त जानकारी के अनुसार, डंग ने मुख्यमंत्री कमलनाथ और विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति को अपना इस्तीफा भेज दिया है। 



क्या कहा विधानसभा अध्यक्ष एन.पी. प्रजापति?
इस मामले में विधानसभा अध्यक्ष एन.पी. प्रजापति का अधिकृत वक्तव्य आया है, उन्होनें कहा कि मुझे सुवासरा विधायक हरदीप सिंह ढंग के इस्तीफ़ा देने की ख़बर मिली है। उन्होंने मुझसे प्रत्यक्ष रूप से मिलकर इस्तीफ़ा नहीं सौंपा है। जब वे प्रत्यक्ष रूप से मुझसे मिलकर इस्तीफ़ा सौपेंगे तो मै नियमानुसार उस पर विचार कर आवश्यक कदम उठाऊँगा।

कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग ने इस्तीफे में क्या लिखा?
कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ और विधानसभा अध्यक्ष को भेजे अपने इस्तीफे में सरकार के मंत्रियों की उपेक्षा को लेकर अपनी पीड़ा जताई है। डंग ने लिखा है, ‘जब से सरकार बनी है तब से आज तक आपके (मुख्यमंत्री जी) एवं मंत्रियों द्वारा लगातार मेरी उपेक्षा विधानसभा एवं संसदीय क्षेत्र में की जा रही है। वर्तमान में जितने भी मंत्री हैं, उनमें से कोई भी मेरे कार्य करने को तैयार नहीं है और दलालों एवं भ्रष्टाचारियों के छोटे से लेकर बड़े से बड़े काम किए जा रहे हैं।



डंग नें कहा मेरी गलती रही कि मैं न तो कमलनाथ जी, न ही दिग्विजय सिंह जी, न ही सिंधिया जी के गुट का हूं।
हरदीप सिंह डंग ने अपने इस्तीफे में यह भी लिखा है कि वे किसी ‘गुट’ के नहीं हैं, इसलिए उनकी उपेक्षा की जा रही है।। डंग ने इस्तीफे में लिखा है, ‘मैं मानता हूं कि मैं एक छोटा व्यक्ति हूं। मेरी गलती रही कि मैं न तो कमलनाथ जी, न ही दिग्विजय सिंह जी, न ही सिंधिया जी के गुट का हूं, मैं सिर्फ कांग्रेस का रहा हूं इसलिए मुझे इतनी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।’
डंग मंदसौर जिले की सुवासरा विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक थे और सरकार में मंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज चल रहे थे। दूसरी बार विधानसभा चुनाव जीते थे हरदीप सिंह डंग और मंदसौर जिले से कांग्रेस के इकलौते विधायक थे। डंग हमेशा कहते थे कि मंदसौर किसान गोलीकांड की वजह से किसानों का वोट कांग्रेस को मिला है जिसका ख्याल रखते हुए कांग्रेस सरकार को मंदसौर जिले से मंत्री बनाना चाहिए था।

कांग्रेस मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सलूजा का मुख्यमंत्री कमलनाथ की तरफ से अधिकृत वक्तव्य –
हरदीप सिंह ढंग हमारी पार्टी के विधायक है। उनके इस्तीफ़ा देने की ख़बर मिली है। लेकिन मुझे अभी तक उनका इस संबंध में ना तो कोई पत्र प्राप्त हुआ है , ना उन्होंने मुझसे अभी तक इस संबंध में कोई चर्चा की है और ना प्रत्यक्ष मुलाक़ात की है। जब तक मेरी उनसे इस संबंध में चर्चा नहीं हो जाती, तब तक इस बारे में कुछ भी कहना ठीक नहीं होगा।

No comments:

Post a comment

Latest Post

जन्मदिन विशेष: अजय सिंह, नेता प्रतिपक्ष रहते हुये तत्कालीन भाजपा सरकार को सदन से लेकर सड़क तक घेरा।

भोपाल/सीधी: मध्‍यप्रदेश कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और राज्‍य विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह " राहुल" का आज जन्मदिन है।  अ...