Saturday, 7 March 2020

VIDEO: भाजपा विधायक संजय पाठक का बयान, कहा- मेरे अपहरण का था प्रयास, परिवार सहित मेरी कभी भी हो सकती है हत्या।


भोपाल: मध्यप्रदेश में चल रहे सियासी ड्रामें के बीच, भाजपा विधायक संजय पाठक नें सनसनीखेज खुलासा करते हुए सरकार पर गंभीर आरोप लगाएं हैं। उन्होनें कहा की मेरे अपहरण का प्रयास किया गया था, और मेरी कभी हत्या हो सकती है।

आइये सिलसिलेवार तरीके से जानतें हैं, की संजय पाठक नें क्या कहा?

  • संजय पाठक नें कहा, कांग्रेस में शामिल होने का दबाव बनानें के लिये ,प्रशासन के द्वारा लगातार मेरे ऊपर कार्रवाई की जा रही है। मेरे ऊपर काफी दबाव है,मुझे बीजेपी को छोड़कर कांग्रेस में शामिल होने को कहा जा रहा है। अगर मैं ऐसा नहीं करता हूं तो मेरे और मेरे परिवार के लोगों पर इसी तरह की कार्रवाई की जाएगी। वहीं मेरी जान को भी खतरा है। मैं मर जाऊंगा लेकिन बीजेपी नहीं छोड़ूंगा।
  • संजय पाठक ने बताया कि वे गुरुवार को जब भोपाल के राजा भोज एयरपोर्ट पर उतरे, वहां मौजूद एक अधिकारी ने उनसे कहा कि शायद उन्हें खतरा हो सकता है। जब वे बाहर निकले तो वहां काफी बड़ी संख्या में वर्दी और बिना वर्दी के पुलिसकर्मी मौजूद थे। पाठक के अनुसार जब वे अपनी गाड़ी में सवार हुए तब तेजी के साथ पुलिस वाले भी अलग अलग गाड़ियों में सवार हो गए।
    थोड़ी दूर जाने पर उनके ड्राइवर ने बताया कि उनकी गाड़ी का पीछा हो रहा है। तभी एक फॉर्च्यूनर गाड़ी ने उन्हें ओवरटेक कर गाड़ी रोकने की कोशिश की लेकिन पाठक का ड्राइवर तेजी के साथ गाड़ी निकाल कर ले गया चार से पांच गाड़ियों काफिला उनका तेजी के साथ पीछा कर रहा था ।यह देखकर पाठक ने अपने ड्राइवर से विदिशा रोड की ओर गाड़ी का मूवमेंट करने को कहा और तेजी के साथ भाजपा के स्थानीय नेताओं को फोन लगाने चालू किए।जब एक नेता ने उन्हें यह आश्वस्त किया कि वे रास्ते में एक जगह पर रुक जाएं जहां उन्हें पिक कर लेगा तब उन्होंने गाड़ी रुकवाई और खुद उतर गए और ड्राइवर तेजी से आगे निकल गया।
    थोड़ी दूर बाद गाड़ी को वाहनों ने पकड़ लिया लेकिन संजय पाठक को न देखकर वे वापस लौट गए। संजय पाठक को एक कार्यकर्ता अपनी गाड़ी में बिठा कर वापस लाया लेकिन उनके बंगले के बाहर भी पुलिस का भारी जमावड़ा देखकर संजय वहां से भी लौट गए।
  • पाठक का कहना है कि सरकार ने उनका बिजनेस चौपट कर दिया उनका रिसॉर्ट और खेत भी तहस नहस कर डाला ।अब उनके परिवार में उनकी मां ,पत्नी और दो बच्चे हैं। उन्हें भी सरकार मरवा सकती है।
गौरतलब है की, उमरिया जिले स्थित पूर्व मंत्री और विधायक संजय पाठक के बांधवगढ़ स्थित सायना रिसॉर्ट पर कार्रवाई की गई है। अचानक शनिवार की सुबह पहुची प्रशासन की टीम वहां दल बल के साथ पहुंची और कार्रवाई शुरू कर दी। कलेक्टर उमरिया स्वरोचिष सोमवंशी और पुलिस अधीक्षक भी वहां मौजूद रहे। बुलडोजर से अतिक्रमण क्षेत्र में आने वाले निर्माण को ध्वस्त कर दिया गया।
पाठक की खदानें भी सील बीजेपी में शामिल होने से पहले संजय पाठक कांग्रेस में ही थे। शिवराज सिंह चौहान के सीएम रहते हुए वह कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हुए थे। उसके बाद उन्हें मंत्री बनाया गया था। उसके बाद से बीजेपी में ही हैं। मध्यप्रदेश में सियासी ड्रामे की शुरुआत के साथ ही उनकी दो खदानें सील की गईं। हालांकि प्रशासन की तरफ से कहा गया कि कोर्ट के आदेश के बाद यह कार्रवाई की गई है।

सुरक्षा भी हटाई गई यहीं नहीं इस पूरे प्रकरण के दौरान संजय पाठक के सुरक्षाकर्मी भी हटाए गए। इसे लेकर भी उन्होंने सवाल उठाया है कि आखिर वर्षों से तैनात जवानों को अचानक से क्यों बदला गया। शुक्रवार को भी वह मीडिया के सामने आए थे, उन्होंने कहा था कि मैं सीएम से नहीं मिला हूं, मेरे बारे में अफवाह फैलाया जा रहा है। सत्ता की संघर्ष में मेरी हत्या हो सकती है।

देखिये वीडियो- संजय पाठक नें क्या कहा 👇

No comments:

Post a comment

Latest Post

सीधी: कोरोना का कहर जारी, मिले 24 नए कोरोना संक्रमित केस।

10 व्यक्तियों ने जीती कोरोना से जंग। कुल संक्रमित 717 डिस्चार्ज 531 एक्टिव केस 183 मृत्यु 3 सीधी : जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ० नागेंद्र बिहारी ...