Monday, 16 March 2020

म. प्र. विधानसभा में फ्लोर टेस्ट टला, कार्यवाही 26 मार्च तक के लिए स्थगित ! आज सदन में क्या क्या-क्या हुआ, सिलसिलेवार तरीके से जानिए।


भोपाल: मध्य प्रदेश में जारी राजनीतिक घमासान के बीच कमलनाथ सरकार ने आज विधानसभा में फ्लोर टेस्ट को टाल दिया। राज्यपाल लालजी टंडन ने 1 मिनट में बजट अभिभाषण खत्म कर दिया। उन्होंने सभी सदस्यों को शुभकामनाएं दीं और संविधान की मर्यादा बनाए रखने के लिए कहा। इसके बाद मीडिया के कैमरों को सदन के अंदर से हटा दिया गया

सदन में फ्लोर टेस्ट की मांग को लेकर भाजपा ने हंगामा किया, संसदीय कार्यमंत्री गोविंद सिंह ने स्पीकर एनपी प्रजापति से कोरोना वायरस के खतरे का हवाला देकर विधानसभा की कार्यवाही 26 मार्च तक स्थगित करने की सिफारिश की, स्पीकर एनपी प्रजापति ने उनकी बात मानते हुए सदन की कार्यवाही स्थगित करने का फैसला किया।



आइये सिलसिलेवार तरीके से जानतें है, सदन में कब, क्या और कैसे हुआ।


10:39 AM: मध्य प्रदेश विधानसभा में भाजपा और कांग्रेस के विधायक पहुंंचे।



10:43 AM: मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पूरे ऑपरेशन की बागडोर अपने हाथों में ली। मैरियट में ठहरे कांग्रेसी विधायकों और वरिष्ठ नेताओं से कमलनाथ ने मुलाकात की।

10:48 AM: मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल लालजी टंडन को पत्र लिखा। कहा ऐसी स्थिति में बहुमत परीक्षण कराना असंवैधानिक, संविधान के अनुच्छेद 163 (1) और अनुच्छेद 175 का हवाला देते हुए कमलनाथ ने राज्यपाल को चिट्ठी में लिखा,'हमारे विधायकों को जबरन बेंगलुरु में रोका गया है.उन्हें पैसों का लालच दिया गया है, अफसोस है कि राज्यपाल महोदय आपने मुझे लिखी चिट्टी में इसका जिक्र तक नहीं किया। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल लालजी टंडन को लिखे पत्र में आज फ्लोर टेस्ट नहीं कराने के दिए संकेत, स्पीकर और राज्यपाल की शक्तियों का किया पत्र में उल्लेख।



10:58 PM: विधानसभा के अंदर मुख्यमंत्री कमलनाथ एवं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पहुंचें। कांग्रेस और भाजपा के विधायक भी विधानसभा के अंदर पहुंचे। शिवराज सिंह चौहान ने सभी विधायकों के पास जाकर उनका अभिवादन किया।

11:00 AM: मध्य प्रदेश विधानसभा में राष्ट्र गीत 'वंदे मातरम' के उद्घोष के साथ कार्यवाही की शुरूआत हुई। स्पीकर एनपी प्रजापति और मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल लालजी टंडन की आगवानी की और उन्हें मंच तक छोड़ा। साथ में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव और संसदीय कार्यमंत्री गोविंद सिंह हाथ में हाथ डाले नजर आए।

11:05 AM: राज्यपाल लाल जी टंडन विधानसभा में पहुंचे, मुख्यमंत्री कमलनाथ, स्पीकर एनपी प्रजापति, नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव और संसदीय कार्यमंत्री गोविंद सिंह ने उनकी आगवानी की।



11:29 AM: राज्यपाल लालजी टंडन ने 1 मिनट में बजट अभिभाषण खत्म कर दिया। उन्होंने सभी सदस्यों को शुभकामनाएं दीं और संविधान की मर्यादा बनाए रखने के लिए कहकर अपने मंच से उठ गए। इसके बाद ​मीडिया को सदन से बाहर कर दिया गया।

11:39 AM: मध्य प्रदेश विधानसभा की कार्यवाही 26 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी गई। स्पीकर एनपी प्रजापति ने कहा कि राज्यपाल के साथ उनका कोई पत्राचार नहीं हुआ है। कोरोना का हवाला देकर विधानसभा की कार्यवाही स्थगित की गई। भाजपा ने इसको लेकर हंगामा किया। भाजपा ने कमलनाथ सरकार के अल्पमत में होने की बात कहकर फ्लोर टेस्ट की मांग की। लेकिन स्पीकर ने कार्यवाही स्थगित करने का फैसला किया।

No comments:

Post a comment

Latest Post

किसान आंदोलन को हल्के में न ले केंद्र सरकार, कृषि संबंधी काले क़ानूनों के गंभीर दुष्परिणाम होंगे: अजय।

शिवराज सिंह केंद्र की हाँ में हाँ न मिलाकर प्रधानमंत्री को बताएं जमीनी हकीकत: अजय सिंह। भोपाल: पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि क...