Sunday, 22 March 2020

छत्तीसगढ़: सुकमा में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में 17 जवान शहीद, पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह नें घटना को बताया दुखद।


जगदलपुर: छत्तीसगढ़ के सुकमा में शनिवार को मुठभेड़ में 17 जवान शहीद हो गए। 14 लापताजवानों के शव 20 घंटे बाद रविवार को मिले। 3 जवानों के शहीद होने की देर रात ही पुष्टि हो गई थी। शहीद होने वाले 12 जवान डीआरजी के और 5 एसटीएफ के हैं।



पुलिस को कसालपाड़ इलाके में बड़ी संख्या में नक्सलियों के जमा होने की खबर मिली थी। इसके बाद डीआरजी, एसटीएफ ओर कोबरा के 550 जवान शुक्रवार को दोरनापाल से रवाना किए गए। बताया जा रहा है कि जवान नक्सलियों को सरप्राइज एनकाउंटर में फंसाना चाह रहे थे, लेकिन नक्सलियों तक यह खबर पहले ही पहुंच गई। नक्सलियों ने रणनीति के तहत जवानों को जंगलों के अंदर तक आने दिया।



एंबुश लगाकर नक्सलियों ने जवानों को फंसाया।
जवान कसालपाड़ के आगे तक गए और जब नक्सली हलचल नहीं दिखी तो वे लौटने लगे। जैसे ही सुरक्षा बल कसालपाड़ से निकले, शाम करीब 4 बजे नक्सलियों के लगाए एंबुश में फंस गए। कसालपाड़ से कुछ दूर कोराज डोंगरी के पास नक्सलियों ने पहाड़ के ऊपर से जवानों पर हमला बोल दिया। अचानक हुई गोलीबारी में कुछ जवान घायल हो गए। अचानक हुए इस हमले से जवानों को संभलने का मौका नहीं मिला।



कई नक्सलियाें के भी मारे जाने की भी खबर।
पुलिस अधिकारियों का कहना है कि इस मुठभेड़ में कई नक्सली भी मारे गए हैं। 14 घायल जवानों को रायपुर में भर्ती किया गया है। इनमें से दो जवानों की हालत नाजुक है। बताया जा रहा है कि ऐसा पहली बार हुआ है कि जब डीआरजी के जवानों को इतनी बड़ी संख्या में निशाना बनाया गया हो। पुलिस की डीआरजी फोर्स में सरेंडर नक्सलियों और स्थानीय युवाओं को शामिल किया जाता है। इसके चलते वे बस्तर के चप्पे-चप्पे से वाकिफ होते हैं। उन्हें स्थानीय बोली भी आती है। वे अन्य सुरक्षा बलों के अगुआ होते हैं। 



पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह नें, घटना को बताया अत्यंत दुखद।
मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह नें, घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा- "छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में हुई नक्सली मुठभेड़ में  सुरक्षा बल के 17 जवानों के शहीद और 14 जवानों के घायल होने का समाचार अत्यंत दुखद है । परमात्मा दिवंगत शहीदों की आत्मा को शान्ति प्रदान करे ।शहीदों के परिवार के प्रति मैं अपनी गहरी संवेदना और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं"।



No comments:

Post a comment

Latest Post

ललित सुरजन का निधन पत्रकारिता के लिए बड़ी क्षति: अजय सिंह।

ललित सुरजन में मायाराम सुरजन के पूरे गुण विद्यमान थे: अजय सिंह। भोपाल: मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि मै...