Friday, 21 February 2020

ओवैसी के MLA के विवादित बयान "100 करोड़ पर भारी 15 करोड़" पर, मंत्री जयवर्धन सिंह की कड़ी प्रतिक्रिया।



भोपाल/ मुम्बई: एआईएमआईएम विधायक वारिस पठान के विवादास्पद बयान पर मध्यप्रदेश के नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिह नें प्रतिक्रया देते हुये, कड़े शब्दों मेें निंदा की है।

गौरतलब है की, असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के विधायक वारिस पठान ने बेहद विवादित बयान दिया था। शनिवार (15 फरवरी) को कर्नाटक के एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि '100 करोड़ पर 15 करोड़ भारी पड़ेंगे।' उन्‍होंने कहा कि अगर आजादी दी नहीं जाती तो छीनना पड़ेगा। वारिस के इस बयान के बाद सियासी बवाल मच गया है।



मुंबई के भायखला से AIMIM विधायक वारिस पठान ने ये भी कहा, 'ईंट का जवाब पत्‍थर से देना हमने सीख लिया है। मगर इकट्ठा होकर चलना होगा। अगर आजादी दी नहीं जाती तो हमें छीनना पड़ेगा। वे कहते हैं कि हमने औरतों को आगे रखा है...अभी तो केवल शेरनियां बाहर निकली हैं तो तुम्‍हारे पसीने छूट गए। तुम समझ सकते हो कि अगर हम सब एक साथ आ गए तो क्‍या होगा। 15 करोड़ हैं लेकिन 100 (करोड़ हिंदू) के ऊपर भारी हैं। ये याद रख लेना।

वारिस पठान के इस बयान पर जयवर्धन ने ट्विट करके कहा "ना तो 100 करोड़ लड़ना चाहते है और ना 15 करोड़ लड़ना चाहते है ये चंद लोग है जिनकी राजनीति डर और साम्प्रदायिकता पर निर्भर है। ये और इनके बयान भाजपा के लिए खाद और पानी है जो भाजपा की नफ़रत की खेती को खड़ा करने में दिन-रात मदद कर रहे है"

जयवर्धन सिंह नें कर्नाटक की भाजपा सरकार से वारिस पठान के खिलाफ कार्यवाही की मांग की।
जयवर्धन सिंह नें कहा " वारिश पठान का बयान घोर निंदनीय और देश की एकता और अखण्डता के खिलाफ़ है।
लेकिन विचारणीय प्रश्न है की भाजपा की कर्नाटक सरकार ने अभी तक कोई कार्यवाही क्यों नहीं की है ? कार्यवाही होना चाहिए और सख्त होना चाहिए..."

No comments:

Post a comment

Latest Post

बिजली समस्या को लेकर कांग्रेस की चुरहट इकाई नें, मवई विद्युत वितरण केन्द्र का किया घेराव।

सीधी / चुरहट: काग्रेस पार्टी (चुरहट इकाई) द्वारा बिजली की समस्या को लेकर मवई डी.सी. कार्यालय का घेराव किया गया। गरीब मजदूर, आम जनता एवं किसा...